सॉफ्टवेयर डेवलपर क्या होता है? Software Developer कैसे बने? जानिए Software Developer बनने से जुड़ी सभी जानकारी हिंदी में

आज हम जानेंगे सॉफ्टवेयर डेवलपर (Software Developer) कैसे बने पूरी जानकारी (How To Become Software Developer In Hindi) के बारे में क्योंकि सॉफ्टवेयर डेवलपर का नाम सुनकर हमारे दिमाग में एक प्रोफेशनल डिग्री वाले व्यक्ति की छवि उत्पन्न होती है और हो भी क्यों ना, क्योंकि यह एक ऐसा काम होता है जिसमें एक अच्छे करियर की आज अपार संभावनाएं है। आज कैरियर ऑप्शन के तौर पर कई लोग सॉफ्टवेयर डेवलपर बनना चाहते हैं, परंतु उनके पास इससे संबंधित पूरी जानकारी नहीं होती है।

ऐसे में आज हम आपको इस बात की जानकारी दे रहे हैं कि आखिर एक सॉफ्टवेयर डेवलपर करता क्या है। आज के इस लेख में जानेंगे कि Software Developer Kya Hota Hai, सॉफ्टवेयर डेवलपर बनने के लिए क्या करे, Software Developer Meaning In Hindi, Software Developer Kaise Bane, सॉफ्टवेयर डेवलपर बनने का तरीका, Software Developer Kaise Bante Hain, आदि की सारी जानकारीयां विस्तार में जानने को मिलेंगी, इसलिये पोस्ट को लास्ट तक जरूर पढे़ं।

सॉफ्टवेयर डेवलपर क्या है? – What is Software Developer Information in Hindi?

विषय-सूची

Software Developer Kya Hota Hai
Software Developer Kya Hota Hai

ऐसे लोगों को Software Developer कहा जाता है, जो विभिन्न प्रकार के सॉफ्टवेयर को develop यानी बनाने का काम करते हैं और सॉफ्टवेयर को develop करने की प्रोसेस में काफी अहम किरदार निभाते हैं। सॉफ्टवेयर डेवलपर के अंडर में प्रोग्रामर भी काम करते हैं, साथ ही उनके पास अन्य प्रोफेशनल लोगों की एक टेक्निकल टीम होती है और यह सभी मिलकर किसी भी प्रकार के ऐसे सॉफ्टवेयर का निर्माण करते हैं, जो लोगों के लिए हेल्पफुल साबित हो। Software Developed करने वाली टीम को संभालते हैं, साथ ही सॉफ्टवेयर की टेस्टिंग और उसके मेंटेनेंस का भी ध्यान रखते हैं।

सॉफ्टवेयर डेवलपर कैसे बने? – How to Become a Software Developer?

सॉफ्टवेयर डेवलपर बनना कोई आसान काम नहीं है परंतु यह ऐसे लोगों के लिए मुश्किल काम भी नहीं है, जो यह ठान चुके हैं कि उन्हें Software Developer बनकर रहना है। सॉफ्टवेयर डेवलपर बनने के लिए आपको सबसे पहले जो तैयारी करनी होती है, वह यह है कि आपको मेहनत करने के लिए तैयार रहना होता है और अपने दिमाग को भी सही दिशा में कंसंट्रेट करना होता है, क्योंकि Software Developer के Course में ऐसी बातें पढ़ाई तथा सिखाई जाती हैं, जिन्हें समझने के लिए आपको अपना माइंड फ्री करना पड़ता है। आइए हम आपको जानकारी देते हैं कि सॉफ्टवेयर डेवलपर बनने की पूरी प्रक्रिया क्या है।

सॉफ्टवेयर डेवलपर बनने की प्रक्रिया – Process to Become a Software Developer

नीचे हम आपको सॉफ्टवेयर डेवलपर बनने की प्रक्रिया स्टेप बाय स्टेप बता रहे हैं। नीचे बताई गई प्रक्रिया का पालन करके आप सॉफ्टवेयर डेवलपर बन सकते हैं।

1. अपनी ग्रेजुएशन की डिग्री कंप्लीट करें

सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनने के लिए आपको सबसे पहले इंडिया की किसी भी यूनिवर्सिटी से कंप्यूटर की फील्ड में ग्रेजुएशन की डिग्री पूरी करनी पड़ेगी। आप नीचे बताए गए कोर्स को करके अपने ग्रेजुएशन की डिग्री पूरी कर सकते हैं।

2. कंप्यूटर की प्रोग्रामिंग भाषा सीखें

एक Software Engineer को कंप्यूटर की Programming Language के बारे में भी जानकारी रखना आवश्यक है और इसे सीखना जरूरी है। C, C++, JavaScript’, HTML, C शार्प कंप्यूटर की प्रोग्रामिंग लैंग्वेज होती है। आपको सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनने के लिए इन लैंग्वेज कि अच्छे से स्टडी करनी पड़ेगी। आपको जितना ज्यादा इन लैंग्वेज के बारे में जानकारी होगी, यह आपके फ्यूचर के लिए उतनी ही ज्यादा फायदेमंद साबित होंगी।

3. सॉफ्टवेयर बनाने का प्रयास करें

Computer की programming language सीखने के साथ ही साथ आपको सॉफ्टवेयर बनाने की कोशिश भी करनी चाहिए। ऐसा करने से अगर आप नाकाम भी हो जाते हैं तो कम से कम आपको अपनी नाकामियों के बारे में पता तो चलेगा और फिर आप दोगुनी शक्ति के साथ सॉफ्टवेयर डेवलप करने की कोशिश कर सकेंगे। इस प्रकार आपको अच्छी जानकारी भी प्राप्त हो जाएगी और आपको सॉफ्टवेयर किस प्रकार develop किया जाता है इसका तरीका भी पता चल जाएगा और आपको अपनी खूबी और खामियों के बारे में भी पता चल जाएगा।

4. अपनी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को स्ट्रांग बनाएं

एक सॉफ्टवेयर डेवलपर की प्रोग्रामिंग लैंग्वेज काफी स्ट्रांग होनी चाहिए, क्योंकि जो भी सॉफ्टवेयर कंप्यूटर में बनते हैं वह प्रोग्रामिंग लैंग्वेज से ही क्रिएट किए जाते हैं। इसीलिए अगर आपकी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज अच्छी है तो आप अच्छे सॉफ्टवेयर डेवलप कर पाएंगे। इसके लिए आपको लैंग्वेज बिल्डिंग का कोर्स, कंप्यूटर सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग की डिग्री के साथ करना चाहिए, ताकि आपको अच्छे से इसकी जानकारी हो सके।

5. कंप्यूटर में मास्टर डिग्री करे

अगर आप अच्छा सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनना चाहते हैं और आप यह चाहते हैं कि आपको अच्छी सैलरी प्राप्त हो तो इसके लिए आप कंप्यूटर में मास्टर डिग्री कंप्लीट कर सकते हैं। मास्टर डिग्री करने के बाद आपको काफी अच्छी सैलरी किसी भी फील्ड में प्राप्त हो सकेगी।

6. इंटर्नशिप करें

computer software developer बनने के लिए और इसके बारे में ज्यादा जानकारी प्राप्त करने के लिए आप चाहे तो सॉफ्टवेयर डेवलपर की इंटर्नशिप भी कर सकते हैं। यह सामान्य तौर पर 1 साल का होता है। अगर आप इसे कर लेते हैं तो आपको Software Developer के बारे में काफी ज्यादा इंफॉर्मेशन प्राप्त हो जाएगी, साथ ही इस इंटर्नशिप के आधार पर आप विभिन्न कंपनियों में सॉफ्टवेयर डेवलपर की पोस्ट के लिए अप्लाई भी कर सकते हैं।

सॉफ्टवेयर डेवलपर बनने के लिए कोर्स – Course to Become a Software Developer

ऊपर बताए गए किसी भी कोर्स को करके आप Software Developer बन सकते हैं।

सॉफ्टवेयर डेवलपर बनने के लिए योग्यता – Qualification to Become a Software Developer

जो भी अभ्यर्थी Software Developer बनना चाहते हैं उन्हें सॉफ्टवेयर डेवलपर बनने के लिए हमारे देश के किसी भी मान्यता प्राप्त स्कूल से साइंस में कम से कम 60% अंकों के साथ 12वीं की परीक्षा को पास करना आवश्यक है, तभी वह आगे चलकर कंप्यूटर साइंस में या फिर सॉफ्टवेयर इंजीनियर में एडमिशन प्राप्त कर सकते हैं।

अगर आप सॉफ्टवेयर डेवलपर बनना चाहते हैं तो आप इस फील्ड में विभिन्न प्रकार से एडमिशन प्राप्त कर सकते हैं, जैसे कि बीटेक, एमटेक, इसके अलावा आप आईटी कोर्स करके भी सॉफ्टवेयर की फील्ड में एडमिशन प्राप्त कर सकते हैं।

सॉफ्टवेयर डेवलपर बनने में कितना खर्च होता है? – Software Developer Course Fee

यह इस बात पर आधारित होता है कि आप सॉफ्टवेयर डेवलपिंग का कोर्स प्राइवेट संस्थान से कर रहे हैं या फिर गवर्नमेंट इंस्टिट्यूट से कर रहे हैं। प्राइवेट इंस्टिट्यूट में सॉफ्टवेयर डेवलपर बनने के लिए आपको तकरीबन पूरे कोर्स के लिए ₹300000 से लेकर दस लाख तक रुपए खर्च करने पड़ सकते हैं, वहीं सरकारी इंस्टीट्यूट से Software Developer का कोर्स करने के लिए आपको ₹200000 से लेकर ₹700000 तक खर्च करने पड़ सकते हैं।

सॉफ्टवेयर डेवलपर के कोर्स और विषय – Software Developer Courses and Subjects

Software Developer के कोर्स और सब्जेक्ट निम्नानुसार हैं।

  • Computer Programming
  • Program design
  • Computer Systems analysis
  • Fundamentals of Hardware
  • Databases, SQL, and JDBC
  • Comprehensive ExampleWeek
  • Special Topics
  • Final Project Interactive Grading
  • Computer Architecture
  • Professional Awareness
  • Mathematics for Computing
  • Introduction to Databases
  • Academic skills for computing
  • File IO, Exception HandlingWeek
  • Data Structures, Iteration,
  • Object-Oriented ProgrammingWeek
  • Inheritance, InterfacesWeek
  • Debugging, LoggingWeek
  • Multithreading Basics
  • Advanced Multithreading
  • Regular Expressions, Unit Testing
  • Web, Sockets, HTML, HTTP
  • Servlets, Jetty, Cookies, Sessions

सॉफ्टवेयर डेवलपर कोर्स की अवधि – Software Developer Course Duration

सॉफ्टवेयर डेवलपिंग से संबंधित विभिन्न प्रकार के कोर्स की ड्यूरेशंस निम्नानुसार है।

  • डिप्लोमा कोर्स: 3 साल
  • बैचलर डिग्री: 3 से 4 साल
  • मास्टर डिग्री: 2 से 3 साल
  • पीजी डिप्लोमा कोर्स: 1 से 2 साल

सॉफ्टवेयर डेवलपर का वेतन कितना होता है – Software Developer Salary

इंडिया की बात की जाए तो यहां पर एक सॉफ्टवेयर डेवलपर को शुरुआती सैलरी के तौर पर महीने में ₹16000 से लेकर ₹23000 तक प्राप्त होते हैं, हालांकि कभी-कभी यह इस बात पर भी आधारित होती है कि, वह नौकरी किस जगह पर कर रहा है। अगर व्यक्ति किसी मल्टीनेशनल कंपनी में नौकरी करता हैं, तो उसकी शुरुआती सैलरी ₹30000 से लेकर ₹50000 के आसपास हो सकती है। विदेशों में सॉफ्टवेयर डेवलपर की महीने की सैलरी ₹50000 से लेकर ₹90000 के आसपास होती है।

सॉफ्टवेयर डेवलपर के लाभ – Advantages/Benefits of a Software Developer

जब आप सॉफ्टवेयर डेवलपर बन जाते हैं तब आपको घर से काम करने का मौका मिलता है, क्योंकि बहुत सी कंपनियां वर्क फ्रॉम होम का काम सॉफ्टवेयर डेवलपर को प्रदान करती हैं। ऑनलाइन के इस जमाने में आप बिना किसी कंपनी में शामिल हुए फ्रीलांसिंग कर के भी पैसे कमा सकते हैं। सॉफ्टवेयर डेवलपर बन जाने के बाद आपको अच्छी सैलरी प्राप्त होती है।

Software Developer बन जाने के बाद आपको विदेशों में भी नौकरी मिलने के चांस काफी ज्यादा बढ़ जाते हैं, जहां पर आपको अच्छी सैलरी प्राप्त होती है, साथ ही आपको घूमने का भी मौका मिलता है। सॉफ्टवेयर डेवलपर बनने के बाद लोग आपको सम्मान की निगाहों से देखने लगते हैं।

सॉफ्टवेयर डेवलपर का काम और जिम्मेदारी – Work and Responsibility of a Software Developer

सॉफ्टवेयर को क्रिएट करना और सॉफ्टवेयर के कोड को लिखना ही एक सॉफ्टवेयर डेवलपर का मुख्य काम और जिम्मेदारी होता है, परंतु इसके अलावा भी उसे अन्य कई जिम्मेदारियां निभानी पड़ती है, जो निम्नानुसार है।

  • क्रिएट किए गए सॉफ्टवेयर को चेंज करना या उसे अपडेट करना।
  • सॉफ्टवेयर में किसी भी प्रकार के Error को सही करना।
  • सॉफ्टवेयर को नए हार्डवेयर में अडेप्ट करना।
  • सॉफ्टवेयर के इंटरफेस को अच्छा करना।
  • सॉफ्टवेयर की परफॉर्मेंस को सुधारना।
  • सॉफ्टवेयर सिस्टम टेस्टिंग करना।

सॉफ्टवेयर डेवलपर बनने के लिए कौशल – Skills to Become a Software Developer

सॉफ्टवेयर डेवलपिंग का काम कंप्यूटर और सॉफ्टवेयर से रिलेटेड होता है, इसीलिए आपके अंदर कंप्यूटर की भाषाओं को समझने की जानकारी होनी चाहिए। आपका आइक्यू लेवल औसत लेवल का होना चाहिए। आपके अंदर प्रॉब्लम सॉल्विंग गुण होना चाहिए और किसी भी टेक्निकल चीज को अच्छे से समझने की कला भी आपके अंदर होनी चाहिए। इसके अलावा आपका फ्री माइंड होना आवश्यक है, क्योंकि सॉफ्टवेयर डेवलपिंग में जो पढ़ाई होती है वह थोड़ी टफ होती है।

सॉफ्टवेयर डेवलपर कोर्स के लिए सर्वश्रेष्ठ 5 कॉलेज / संस्थान – Best 5 Colleges/Institutions for Software Developer Course

  1. Skillcircle
  2. Technoble Solutions India
  3. Ashwarya Infotech
  4. Chipedge consulting
  5. Vepsun Technologies
  6. Classpro

सॉफ्टवेयर डेवलपर का करियर स्कोप और जॉब – Software Developer Career Scope and Job

सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट में नौकरी की संभावना हमेशा बरकरार रहती है, क्योंकि वर्तमान के समय में आईटी सेक्टर में हर समय कुछ ना कुछ टेक्नोलॉजी का इजाद होता ही रहता है। अगर आप इस फील्ड में कैरियर बनाना चाहते हैं, तो आपको हमेशा अपनी जानकारी को अपडेट रखना होगा, साथ ही आपको प्रोग्रामिंग लैंग्वेज जैसे कि C, C++, java विजुअल बेसिक इत्यादि में एक्सपर्टनेस हासिल करनी होगी।

आईटी की फील्ड में सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट के काम से सॉफ्टवेयर इंजीनियर और सॉफ्टवेयर प्रोग्रामर कनेक्टेड होते हैं, जिनका मुख्य काम विभिन्न प्रकार की भाषाओं में सॉफ्टवेयर को डेवलप करना होता है।

निष्कर्ष

आशा करते हैं कि आपको Software Developer Details In Hindi की पूरी जानकारी प्राप्त हो चुकी होगी। अगर फिर भी आपके मन में Software Developer Kaise Bane (How To Become Software Developer In Hindi) और सॉफ्टवेयर डेवलपर कैसे बने? को लेकर कोई सवाल हो तो, आप बेझिझक Comment Section में Comment कर पूछ सकते हैं।

अगर यह जानकारी पसंद आया हो तो, जरूर इसे Share कर दीजिए ताकि Software Developer Kya Hota Hai बारे में सबको जानकारी प्राप्त हो।

About Ainain

software developerमैं इस ब्लॉग का संस्थापक और एक पेशेवर ब्लॉगर हूं। यहाँ पर मैं नियमित रूप से अपने पाठकों के लिए उपयोगी और मददगार जानकारी साझा करता हूं। ❤️

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.