कंप्यूटर का इतिहास- history of computer in hindi

कंप्यूटर का इतिहास (history of computer). आज हम इस आर्टिकल के के माध्यम से कंप्यूटर का इतिहास के बारे में जानेंगे| कंप्यूटर के बारे में सभी लोग जानते है लेकिन कम्पूटर के इतिहस के बारे में बहुत कम लोग ही जानते है इस लिए आज हम आपको history of computer से जुडी सभी जानकारी देंगे| तो चलिए हम history of computer in Hindi के बारे में जान लेते है|

 

कंप्यूटर का इतिहास- history of computer in hindi

कंप्यूटर का इतिहास- history of computer in hindi
कंप्यूटर का इतिहास- history of computer in hindi

कंप्यूटर के इतिहास के बारे में बात की जाए तो यह आज से कई वर्षों पहले इसकी शुरुआत हो चुकी थी कंप्यूटर शुरुआत में केलकुलेटर होते थे। उनका इस्तेमाल उस समय सिर्फ और सिर्फ संख्याओं की गणना के लिए किया जाता था या आम भाषा में कहे तो हिसाब किताब करने के लिए किया जाता था। उस समय कॉपी और पेन से ना करके डिजिटल के रूप में करने लगे थे तो वहीं से कंप्यूटर की शुरुआत हुई थी ।

 

Abacus

इसकी शुरुआत आज से कई वर्ष पहले चीन मैं हुई थी यह एक तरह का मेकेनिकल डिवाइस था जो गणना करने के लिए इस्तेमाल किया जाता था और इसका इस्तेमाल आज भी चीन जापान सहित बहुत सारे एशिया के देशों द्वारा इस्तेमाल गणना के लिए किया जाता है यह एक तरह का तारों का समूह या प्रेम होता है इंसानों के बीच में तारों के बीच में पक्की मिट्टी के बने हुए गोले होते थे और इसका उपयोग अंको को जोड़ने घटाने वह गुणा करने के लिए इस्तेमाल किया जाता था और अभी भी हो रहा है

 

Blase Pascal

समय के साथ साथ यह सब कंप्यूटर भी विकसित हो रहे थे और कई शताब्दी बाद  17 शताब्दी में फ्रांस के एक महान गणितज्ञ पास्कल ने एक यांत्रिक अंकगणितीय गणना यंत्र की शुरुआत सन् 1645 में की थी इस मशीन को एडिंग मशीन भी कहा जाता है। क्योंकि यह उस समय सिर्फ जोड़ या घटाव करने में ही सक्षम थी या मशीन घड़ी के जैसे काम करती थी इसमें बहुत सारी दांतेयूक्त चकरियाऀ लगी हुई होती है जो हमेशा घूमती रहती है और इन चकरियो के दांतो पर 0 से 9 तक नंबर लिखे हुए होते थे प्रत्येक चकरी का एक नंबर होता था जैसे कि हम कह सकते हैं इकाई दहाई सैकड़ा इत्यादि होते थे

 

Jacquard’s Loom

सन 1801 मे कपड़े बनाने के लिए Loom का आविष्कार हुआ था जो एक फ्रांसीसी बुनकर जोसेफ जेकार्ड द्वारा किया गया था जिसका मुख्य कार्य उस समय कपड़ों पर डिजाइन या पैटर्न बनाना होता था और इस Loom की मुख्य विशेषता यह थी। यह कपड़े के पैटर्न व कार्ड बोर्ड को छिद्र युक्त पंच कार्ड से कंट्रोल करता था। और पंच कार्ड पर चित्रों के की  उपस्थिति या अनुपस्थिति के द्वारा धागों को निर्देश दिए जाते थे।

 

Charles Babbage

19वीं शताब्दी के शुरुआत का समय कंप्यूटर का इतिहास का सुनहरा समय माना जाता है क्योंकि इस समय एक अंग्रेज गणितज्ञ Charles Babbage ने एक मैकेनिक केलुकेशन मशीन को विकसित करने के बारे में सोचा था क्योंकि जब वे अंकगणितीय गणना करते थे तो वह सारणी के माध्यम से करते थे और यह हस्तलिखित होती थी तो इसमें बहुत सारी गलतियां (Error) आते थे तो इन्हीं के चलते इन्होंने एक नई मैकेनिकल केलुकेसन मशीन विकसित करने के बारे में सोचा ।

चार्ल्स बैबेज ने सन 1822 मैं एक मशीन को विकसित किया था जिसका पूरा खर्चा ब्रिटिश सरकार ने उठाया था और उसमें उस मशीन का नाम डिफरेंस इंजन रखा गया था और इस मशीन में गियर व सॉफ्ट लगे हुए थे और यह भाप के द्वारा चलती थी और सन 1833 मैं चार्ल्स बैबेज ने डिफरेंट इंजन को विकसित करके Analytical Engine के रूप में तैयार किया जो बहुत ही ज्यादा शक्तिशाली मशीन होती थी और अभी Calculation के साथ-साथ या कुछ भी डाटा का Analysis भी कर सकते थे।

 

Howard Aiken’s Mark-1

सन 1940 में वह समय आ चुका था जब विद्युत चालित यंत्रों का अविष्कार होने लगा था उसी समय IIBM के बड़े इंजीनियरों व डॉक्टर हार्वर्ड आईकैन सन 1944 में एक मशीन की शुरुआत की थी जो इस विश्व की सबसे पहली विद्युत चालित यंत्र (Computer) था और उसको सन 1944 के फरवरी में हार्वर्ड विश्वविद्यालय में भेजा गया था इसी विश्वविद्यालय में इसका नाम मार्क-I रखा गया था और यह लगभग 6 सेकंड में 1 गुणा व 12 सेकंड में 1 भाग कर देता है।

 

B.C. (Atanasoff-Berry Computer)

सन 1945 में एक इलेक्ट्रॉनिक मशीन का आविष्कार किया गया था जो Atanasoff Or Clifford Berry  के द्वारा किया गया था और इसका पहला नाम A.B.C रखा गया था और इसका पूरा नाम Atanasoff Berry Computer है और A.B.C. दुनिया का सबसे पहला इलेक्ट्रॉनिक डिजिटल कंप्यूटर माना जाता है।

 

निष्कर्ष

दोस्तो आज के इस आर्टिकल मैं आप ने जाना की कंप्यूटर का इतिहास(history of computer) और  history of computer in hindihistory of computer की पूरी जानकारी? और इसके फायदे क्या है?। मुझे आशा है की आपको इस की मदद से history of computer के बारे में जानकारी मिली होगी।

अगर आपको अभी भी history of computer से लेकर कोई सवाल है या फिर कोई परेशानी है तो नीचे दिये गए कमेंट बॉक्स में कमेंट कर के हमे जरूर बताए।

Leave a Comment