कंप्यूटर ऑपरेटर क्या होता है? Computer Operator कैसे बने? जानिए Computer Operator बनने से जुड़ी सभी जानकारी हिंदी में

आज हम जानेंगे कंप्यूटर ऑपरेटर (Computer Operator) कैसे बने पूरी जानकारी (How To Become Computer Operator Details In Hindi) के बारे में क्योंकि अगर आप कंप्यूटर ऑपरेटर बनना चाहते हैं, तो आप बिल्कुल सही जगह पर आए हैं। आज के टाइम में लोग अपने अधिकतर काम कंप्यूटर पर करने लगे हैं, इसीलिए अगर आपको कंप्यूटर के बारे में अच्छी जानकारी है तो आप कंप्यूटर ऑपरेटर बन सकते हैं। साथ ही आप कंप्यूटर की फील्ड से संबंधित अन्य काम भी कर सकते हैं।

एक परफेक्ट कंप्यूटर ऑपरेटर बनना ज्यादा मुश्किल नहीं है‌। हालांकि इसके लिए आपको थोड़ी मेहनत तो करनी ही पड़ेगी। आज के इस लेख में जानेंगे कि Computer Operator Kaise Bane, कंप्यूटर ऑपरेटर बनने के लिए क्या करे, Computer Operator Kya Hota Hai, कंप्यूटर ऑपरेटर बनने का तरीका, Computer Operator Kaise Bante Hain, आदि की सारी जानकारीयां विस्तार में जानने को मिलेंगी, इसलिये पोस्ट को लास्ट तक जरूर पढे़ं।

कंप्यूटर ऑपरेटर क्या होता है? – What is a Computer Operator Information in Hindi?

विषय-सूची

Computer Operator Kaise Bane
Computer Operator Kaise Bane

Computer Operator ऐसे व्यक्ति को कहा जाता है जिसे कंप्यूटर के बारे में अच्छी जानकारी होती है, फिर चाहे कंप्यूटर चलाना हो या उसमें कोई अन्य काम करना हो‌। कंप्यूटर ऑपरेटर अधिकतर कंप्यूटर में डाटा एंट्री करने का काम या फिर एडिटिंग अथवा अन्य कई काम करता है। कुल मिलाकर कंप्यूटर ऑपरेटर को कंप्यूटर ऑपरेट करने का काम करना पड़ता है। इसके लिए कई कोर्स भी विभिन्न इंस्टिट्यूट के द्वारा चलाए जाते हैं, जिसमें एडमिशन लेकर आप कंप्यूटर ऑपरेटर का कोर्स कर सकते हैं और एक successful computer operator बन सकते हैं।

कंप्यूटर ऑपरेटर बनने के लिए योग्यता – Qualification to Become Computer Operator

विभिन्न स्रोतों से प्राप्त जानकारी के अनुसार Computer Operator बनने के लिए कोई स्पेसिफिक क्वालिफिकेशन की डिमांड नहीं होती है। आप आठवीं कक्षा को पास करने के बाद, दसवीं कक्षा को पास करने के बाद, 12वीं कक्षा को पास करने के बाद अथवा ग्रेजुएशन को पास करने के बाद भी कंप्यूटर ऑपरेटर का कोर्स कर सकते हैं।

कंप्यूटर ऑपरेटर बनने की पात्रता – Eligibility to become a Computer Operator

कंप्यूटर ऑपरेटर बनने के लिए कोई खास एलिजिबिलिटी की आवश्यकता नहीं होती है। अगर आपके अंदर Computer Operator बनने का जुनून है तो आप कंप्यूटर ऑपरेटर बन सकते हैं। आप Computer Operator बनने के लिए घर पर कंप्यूटर लाकर उसमें काम करके भी कंप्यूटर ऑपरेटर बन सकते हैं या फिर किसी इंस्टिट्यूट से कंप्यूटर ऑपरेटर का कोर्स करके Computer Operator बन सकते हैं।

कंप्यूटर ऑपरेटर कैसे बने? – How to Become a Computer Operator?

कंप्यूटर ऑपरेटर बनना ज्यादा मुश्किल काम नहीं है। इसके लिए बस आपको कंप्यूटर चलाना आना चाहिए। अगर आपको कंप्यूटर चलाना नहीं आता है, तो आप कंप्यूटर चलाने का कोर्स भी कर सकते हैं, जो सामान्य तौर पर 3 महीने से लेकर 6 महीने तक के होते हैं। अगर आप कंप्यूटर ऑपरेटर का कोर्स कर लेते हैं, तो आप कंप्यूटर चलाने में एक्सपर्ट हो जाएंगे।

नीचे हम आपको स्टेप बाय स्टेप Computer Operator बनने की प्रोसेस बता रहे हैं, जिसे फॉलो करके आप कंप्यूटर ऑपरेटर बन सकते हैं और आसानी से किसी भी कंपनी में कंप्यूटर ऑपरेटर की जॉब के लिए अप्लाई कर सकते हैं।

1. दसवीं कक्षा पास करें

कंप्यूटर ऑपरेटर बनने के लिए आपको जो काम करना है वह यह है कि आपको सबसे पहले अपने दसवीं की कक्षा को पास करना है। यहां पर हम आपको बता दें कि यह अनिवार्य नहीं है कि आपको दसवीं की कक्षा पास करने के बाद ही Computer Operator बनने का मौका मिलेगा, अगर आप आठवीं पास है तब भी आप प्राइवेट इंस्टिट्यूट से कंप्यूटर ऑपरेटर बनने का कोर्स कर सकते हैं, क्योंकि इसका जो कोर्स होता है वह बहुत ही सामान्य होता है और कोई भी व्यक्ति इसके कोर्स को आसानी से 3 से लेकर 6 महीने में सीख सकता है। दसवीं कक्षा तक आपको इंग्लिश की बेसिक लैंग्वेज हो जाती है जिससे कंप्यूटर के फनक्शन को समझने और ऑपरेट करने में आसानी होती है।

2. कंप्यूटर ऑपरेटर का कोर्स करें

आठवीं के बाद या फिर दसवीं कक्षा को पास करने के बाद आपको Computer Operator बनने के लिए कंप्यूटर ऑपरेटर का कोर्स करना होगा, जिसमें सामान्य तौर पर आपको एमएस ऑफिस, पावरप्वाइंट, एक्सेल, बिलिंग, डाटा एंट्री, कोरल्ड्रॉ इत्यादि का कोर्स करना होता है। यह सभी कोर्स बहुत ही आसान होते हैं।

3. नौकरी के लिए अप्लाई करें

कंप्यूटर ऑपरेटर का कोर्स करने के बाद आपको प्राइवेट इंस्टिट्यूट में Computer Operator की पोस्ट के लिए अप्लाई करना पड़ता है। अगर वह आपको कंप्यूटर ऑपरेटर बनने के लिए एलिजिबल मानते हैं तो वह अवश्य आपको नौकरी देते हैं। इसके अलावा गवर्नमेंट सेक्टर में कंप्यूटर ऑपरेटर बनने के लिए आपको जब कभी भी गवर्नमेंट के द्वारा Computer Operator की पोस्ट की वैकेंसी निकाली जाए, तो उसमें अप्लाई करना पड़ता है और अगर आपका उसमें सिलेक्शन हो जाता है, तो आप गवर्नमेंट सेक्टर में कंप्यूटर ऑपरेटर बन जाते हैं।

कंप्यूटर ऑपरेटर बनने के लिए परीक्षा – Exam to Become Computer Operator

आपको बता दें कि Computer Operator का कोर्स करने के लिए आपको किसी भी प्रकार की एग्जाम को देने की आवश्यकता नहीं होती है। आप आसानी से कंप्यूटर ऑपरेटर के कोर्स को कर सकते हैं। हालांकि अगर आप गवर्नमेंट सेक्टर में Computer Operator बनना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको गवर्नमेंट के द्वारा आयोजित करवाई जाने वाली एग्जाम में शामिल होना पड़ेगा और उस एग्जाम को पास करना पड़ेगा। एग्जाम पास करने के बाद ही आप गवर्नमेंट सेक्टर में कंप्यूटर ऑपरेटर की पोस्ट प्राप्त कर सकते हैं।

कंप्यूटर ऑपरेटर बनने की तैयारी कैसे करें? – How to Prepare to Become a Computer Operator?

कंप्यूटर ऑपरेटर बनने के लिए आपको कोई खास तैयारी करने की आवश्यकता नहीं होती है। बस आपको आठवीं कक्षा, दसवीं कक्षा, बारहवीं कक्षा, ग्रेजुएशन पूरी करने के बाद कंप्यूटर ऑपरेटर का कोर्स करना होता है। कंप्यूटर ऑपरेटर का कोर्स करने के बाद आप आसानी से Computer Operator बन सकते हैं और गवर्नमेंट सेक्टर या फिर प्राइवेट सेक्टर में नौकरी के लिए आवेदन कर सकते हैं‌। इसमें आपको जो तैयारी करनी है वह यह है कि आपने जो भी Computer Operator के कोर्स में सीखा है वह आपको याद रहे।

कंप्यूटर ऑपरेटर का कोर्स – Course of Computer Operator

कंप्यूटर ऑपरेटर बनने के लिए आपको कोई हाई-फाई Course करने की आवश्यकता नहीं होती है, बल्कि इसमें जो कोर्स होते हैं वह बहुत ही बेसिक कोर्स होते हैं और इसीलिए सामान्य से सामान्य व्यक्ति भी कंप्यूटर ऑपरेटर के Course को कर सकता है। नीचे हम आपको Computer Operator बनने के लिए कोर्स के नाम बता रहे हैं, जिसे आप कर सकते हैं।

  • डाटा एंट्री
  • कोरल्ड्रॉ
  • एमएस ऑफिस
  • एमएस एक्सल
  • पावरप्वाइंट
  • बेसिक कंप्यूटर कोर्स

कंप्यूटर ऑपरेटर बनने के फायदे – Benefits of Becoming a Computer Operator

कंप्यूटर ऑपरेटर की डिमांड लगभग हर जगह होती है। ऐसे में जैसे ही आप कंप्यूटर ऑपरेटर का कोर्स कंप्लीट कर लेते हैं, वैसे ही आप चाहे तो किसी भी प्राइवेट इंस्टिट्यूट में या फिर दुकान में भी कंप्यूटर ऑपरेटर के काम को कर सकते हैं। इसके अलावा गवर्नमेंट के द्वारा निकाली जाने वाली Computer Operator की वैकेंसी में भी आप अप्लाई कर सकते हैं और अगर आपका सिलेक्शन हो जाता है, तो आप काफी अच्छी तनख्वाह प्राप्त कर सकते हैं।

इसके साथ ही आप अपने फाइनेंस से संबंधित काम भी घर बैठे ही कर सकते हैं। जब आप Computer Operator बन जाते हैं, तब आप चाहे तो इंटरनेट पर मौजूद विभिन्न फ्रीलांसर वेबसाइट पर अपने आप को रजिस्टर्ड कर सकते हैं और घर बैठे ही कंप्यूटर ऑपरेटर का काम करके पैसे कमा सकते हैं।

कंप्यूटर ऑपरेटर बनने के लिए कौशल – Skills to Become a Computer Operator

  • कंप्यूटर ऑपरेटर बनने के लिए सबसे पहले तो व्यक्ति को कंप्यूटर में इंटरेस्ट होना चाहिए, क्योंकि बिना इंटरेस्ट के कुछ भी नहीं होता है।
  • कंप्यूटर ऑपरेटर बनने के लिए व्यक्ति को Computer Operator का कोर्स करना पड़ेगा।
  • उसे पावरप्वाइंट, एमएस ऑफिस, एक्सल, कोरल्ड्रॉ, डाटा एंट्री के बारे में इंफॉर्मेशन होनी चाहिए।
  • व्यक्ति को कंप्यूटर को ऑपरेट करने की बेसिक इनफार्मेशन होनी चाहिए।
  • उसे अंग्रेजी भाषा का ज्ञान होना चाहिए, क्योंकि कंप्यूटर ऑपरेटर का काम अंग्रेजी भाषा में ही ज्यादातर होता है।

कंप्यूटर ऑपरेटर के काम और जिम्मेदारियां – Work and Responsibilities of Computer Operator

एक कंप्यूटर ऑपरेटर को काफी जिम्मेदारी के साथ अपने काम को निभाना होता है। उसे उस काम को समय पर पूरा करने की जिम्मेदारी उठानी पड़ती है जिस काम को उसके मालिक या फिर उसके बॉस के द्वारा उसे दिया जाता है। इसके अलावा उसे इस बात का भी ध्यान रखना पड़ता है कि वह जो भी काम कंप्यूटर पर कर रहा है वह बिल्कुल एक्यूरेट यानी सही हो और उसमें किसी भी प्रकार की गलती ना हो।

कंप्यूटर ऑपरेटर का वेतन – Salary of Computer Operator

एक Computer Operator की Salary इस बात पर डिपेंड करती है कि, वह आखिर नौकरी कहां कर रहा है। अगर वह किसी प्राइवेट इंस्टिट्यूट में कंप्यूटर ऑपरेटर की नौकरी कर रहा है, तो शुरुआत में उसे ₹12000 से लेकर ₹14000 तक की सैलरी हर महीने प्राप्त होती है और एक्सपीरियंस बढ़ने पर उसकी सैलरी में बढ़ोतरी की जाती है। किसी दुकान में काम करने पर उसे शुरुआत में तकरीबन ₹8000 की सैलरी प्राप्त होती है। गवर्नमेंट सेक्टर में कंप्यूटर ऑपरेटर की सैलरी की बात की जाए तो उसे हर महीने तकरीबन ₹25000 से लेकर ₹28000 तक की सैलरी प्राप्त होती है।

कंप्यूटर ऑपरेटर का करियर और स्कोप – Career and Scope of Computer Operator

कंप्यूटर ऑपरेटर के कैरियर स्कोप के बारे में बात की जाए तो एक कंप्यूटर ऑपरेटर का कैरियर काफी अच्छा होता है। जब वह कंप्यूटर ऑपरेटर का कोर्स सफलतापूर्वक कर लेता है तो उसे तुरंत ही नौकरी प्राप्त हो जाती है। इसके अलावा आप चाहें तो ऑनलाइन फ्रीलांसिंग करके भी घर बैठे ही पैसे कमा सकते हैं।

कंप्यूटर ऑपरेटर का कोर्स करने के बाद आप गवर्नमेंट नौकरी के लिए भी अप्लाई कर सकते हैं। इसके साथ ही जब आप अपनी नौकरी से रिटायर हो जाएं तो आप चाहे तो दोबारा से किसी भी दुकान में नौकरी प्राप्त कर सकते हैं क्योंकि अक्सर दुकानों में बिलिंग से संबंधित कामों को करने के लिए कंप्यूटर ऑपरेटर की आवश्यकता होती ही है।

निष्कर्ष

आशा करते हैं कि आपको Computer Operator Details In Hindi की पूरी जानकारी प्राप्त हो चुकी होगी। अगर फिर भी आपके मन में Computer Operator Kaise Bane (How To Become Computer Operator In Hindi) और कंप्यूटर ऑपरेटर कैसे बने? को लेकर कोई सवाल हो तो, आप बेझिझक Comment Section में Comment कर पूछ सकते हैं।

अगर यह जानकारी पसंद आया हो तो, जरूर इसे Share कर दीजिए ताकि Computer Operator Kya Hota Hai बारे में सबको जानकारी प्राप्त हो।

About Ainain

computer operatorमैं इस ब्लॉग का संस्थापक और एक पेशेवर ब्लॉगर हूं। यहाँ पर मैं नियमित रूप से अपने पाठकों के लिए उपयोगी और मददगार जानकारी साझा करता हूं। ❤️

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.