उप पुलिस अधीक्षक क्या होता है? DSP Officer कैसे बने? जानिए DSP (Deputy Superintendent of Police) बनने से जुड़ी सभी जानकारी हिंदी में

आज हम जानेंगे डीएसपी (DSP Officer) कैसे बने पूरी जानकारी (How To Become DSP (Deputy Superintendent of Police) Details In Hindi) के बारे में क्योंकि हर छात्र का अपनी जिंदगी में अच्छी पढ़ाई लिखाई करके कुछ ना कुछ बनने का सपना होता है, क्योंकि पढ़ाई लिखाई का उद्देश्य ही यही होता है कि व्यक्ति अपनी जिंदगी में आगे चलकर एक अच्छे भविष्य का निर्माण करें और एक अच्छी जिंदगी गुजारे। आपने भी अपनी जिंदगी में कुछ ना कुछ बनने का सपना अवश्य देखा होगा।

अक्सर   पढ़ाई करके गवर्नमेंट जॉब पाने की ही इच्छा रखते हैं। इसीलिए आज की इस पोस्ट में हम आपको एक ऐसी गवर्नमेंट जॉब के बारे में इंफॉर्मेशन दे रहे हैं, जो काफी हाई-फाई पोस्ट मानी जाती है। आज के इस लेख में जानेंगे कि DSP Officer Kaise Bane, डीएसपी बनने के लिए क्या करे, DSP Meaning In Hindi, DSP Kya Hota Hai, डीएसपी बनने का तरीका, DSP Officer Kaise Bante Hain, आदि की सारी जानकारीयां विस्तार में जानने को मिलेंगी, इसलिये पोस्ट को लास्ट तक जरूर पढे़ं।

डीएसपी क्या है? – What is DSP (Deputy Superintendent of Police) Information in Hindi?

विषय-सूची

Dsp Kaise Bane
Dsp Kaise Bane

DSP यानि Deputy Superintendent of Police इंडियन पुलिस डिपार्टमेंट में एक गवर्नमेंट पद होता है। जो व्यक्ति DSP का काम करता है उसकी वर्दी का रंग खाकी होता है और उसकी वर्दी के कंधे पर तीन स्टार होते हैं। डीएसपी का पद पुलिस डिपार्टमेंट में बहुत ही जिम्मेदारी वाला पद माना जाता है, क्योंकि इनका काम काफी जिम्मेदारी वाला होता है। डीएसपी की रैंक पुलिस डिपार्टमेंट में सबसे उच्च अधिकारी की रैंक मानी जाती है।

इंडिया के लगभग सभी राज्यों के हर जिले में एक डीएसपी पोस्टेड होता है। डीएसपी ऑफिसर अपने जिले में अपराधों को रोकने का काम करता है और अपने से नीचे काम करने वाले पुलिस अधिकारियों को दिशा-निर्देश भी देता है। एक डीएसपी ऑफिसर के पास अपने से नीचे काम करने वाले पुलिस अधिकारियों को सस्पेंड करने का अधिकार भी होता है। डीएसपी की पोस्टिंग स्टेट पब्लिक सर्विस कमीशन के द्वारा की जाती है।

DSP का फुल फॉर्म क्या होता है? – What is DSP Full Form In Hindi?

DSP का Full Form Deputy Superintendent of Police होता है। हिंदी में DSP का का फुल फॉर्म उप पुलिस अधीक्षक होता हैं।

डीएसपी अधिकारी बनने के लिए योग्यता – Qualification to Become DSP Officer

डीएसपी बनने की एग्जाम के लिए अप्लाई करने के लिए अथवा डीएसपी बनने के लिए उम्मीदवार को इंडिया के किसी भी सर्टिफाइड यूनिवर्सिटी से किसी भी स्ट्रीम में ग्रेजुएशन की डिग्री कंप्लीट करना जरूरी है। इसके अलावा ऐसे  उम्मीदवार जो ग्रेजुएशन के अंतिम साल में है, वह भी इसकी एग्जाम में शामिल हो सकते हैं, परंतु ग्रेजुएशन के अंतिम साल में पढ़ाई करने वाले विद्यार्थियों को डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन के समय ग्रेजुएशन एग्जाम को क्लियर करने का सर्टिफिकेट दिखाना जरूरी है।

डीएसपी अधिकारी बनने के लिए पात्रता – Eligibility to Become DSP Officer

डीएसपी ऑफिसर बनने के लिए अथवा डीएसपी की पोस्ट प्राप्त करने के लिए उम्मीदवार के अंदर नीचे बताई गई योग्यता होनी चाहिए।

उम्र सीमा

  • सामान्य वर्ग: कम से कम 21 साल अधिक से अधिक 30 साल
  • ओबीसी वर्ग: कम से कम 21 साल अधिक से अधिक 33 साल
  • एससी-एसटी वर्ग: कम से कम 21 साल अधिक से अधिक 35 साल

शारीरिक योग्यता

  • डीएसपी बनने के लिए महिला उम्मीदवार की लंबाई 155 सेंटीमीटर होनी चाहिए।
  • डीएसपी बनने के लिए पुरुष उम्मीदवार की लंबाई 168 सेंटीमीटर होनी चाहिए। इसके अलावा पुरुषों का सीना 84 सेंटीमीटर होना जरूरी है।
  • डीएसपी बनने के लिए पुरुष और महिला का वजन 50 किलो से ज्यादा होना चाहिए।
  • उन्हें कलर ब्लाइंडनेस नहीं होनी चाहिए
  • उनकी आंखों का भी विजन 6/6 होना चाहिए।
  • शारीरिक और मानसिक रूप से कोई भी समस्या नहीं होनी चाहिए।

डीएसपी कैसे बने? – How to Become DSP (Deputy Superintendent of Police) Information in Hindi

डीएसपी की पोस्ट इंडियन पुलिस डिपार्टमेंट के अंतर्गत आती है और यह एक ऐसी पोस्ट होती है, जो इंडियन पुलिस डिपार्टमेंट में काफी हाई पोस्ट मानी जाती है। डीएसपी बनने के लिए विद्यार्थियों को एक रणनीति के तहत अपने कदम आगे बढ़ाने पड़ते हैं, क्योंकि डीएसपी की पोस्ट प्राप्त करना इतना आसान नहीं है जितना कि उम्मीदवार को लगता है, बल्कि इसके लिए एक सिस्टमैटिक तरीके से अपनी स्टडी और डीएसपी बनने की तैयारी करनी पड़ती है, तभी आगे चलकर वह इस पोस्ट को प्राप्त करने में कामयाब हो पाते हैं।

डीएसपी अधिकारी चयन प्रक्रिया – DSP Officer Selection Process

स्टेट पब्लिक सर्विस कमीशन के द्वारा डीएसपी की पोस्ट के लिए एग्जाम का आयोजन करवाया जाता है। इस एग्जाम को टोटल तीन भागों में बांटा गया है, जो इस प्रकार है

  • प्रारम्भिक परीक्षा
  • मुख्य परीक्षा
  • इंटरव्यू

1. प्रारम्भिक परीक्षा

डीएसपी बनने के लिए यह पहला स्टेप है। इसमें सभी उम्मीदवार को शामिल होना पड़ता है। डीएसपी बनने की इस प्रारंभिक एग्जाम में विद्यार्थियों से जनरल स्टडी से संबंधित क्वेश्चन पूछे जाते हैं। यह क्वेश्चन पेपर टोटल 150 अंकों का होता है और इसमें ऑप्शनल सब्जेक्ट 300 अंकों के होते हैं।

2. मुख्य परीक्षा

डीएसपी बनने का यह दूसरा स्टेप है। जो अभ्यर्थी प्रारंभिक परीक्षा को पास कर लेते हैं, वही इस एग्जाम में शामिल होते हैं। इस एग्जाम के अंतर्गत उम्मीदवार से 200 अंकों की भारतीय भाषा, 300 अंकों की अंग्रेजी भाषा, 200 अंकों का निबंध और जनरल स्टडी से संबंधित टीम 300 अंकों के सवाल पूछे जाते हैं।

3. इंटरव्यू

डीएसपी बनने की प्रारंभिक परीक्षा और मुख्य परीक्षा को पास करने वाले विद्यार्थियों को सबसे आखिरी राउंड यानी की इंटरव्यू में शामिल होने के लिए बुलाया जाता है। इस इंटरव्यू का आयोजन एक कमेटी के द्वारा निश्चित दिन किया जाता है। इस इंटरव्यू के अंदर विद्यार्थियों की मेंटल एबिलिटी का टेस्ट किया जाता है और जो उम्मीदवार इस इंटरव्यू को क्लियर कर लेते हैं, उन्हें फिर डीएसपी के पद पर पोस्टिंग प्रदान कर दी जाती है।

डीएसपी ऑफिसर बनने के लिए तैयारी कैसे करें? – How to Prepare to Become DSP Officer?

आप निम्न प्रकार से डीएसपी ऑफिसर बनने की तैयारी कर सकते हैं।

1. डीएसपी की एग्जाम के पुराने क्वेश्चन पेपर को सॉल्व करने की कोशिश करें। ऐसा करने से आपको इस बात की इंफॉर्मेशन प्राप्त हो जाएगी कि डीएसपी की एग्जाम में किस प्रकार के क्वेश्चन पूछे जाते हैं।

2. आपको डीएसपी की एग्जाम की तैयारी सिलेबस के अनुसार ही करनी चाहिए।

3. फिजिकल एग्जाम के लिए आपको 6 महीने पहले से ही इसकी तैयारी स्टार्ट कर देनी चाहिए। इसके लिए आपको जल्दी सुबह उठना चाहिए और कसरत तथा दौड़ लगानी चाहिए।

4. डीएसपी के एग्जाम को पास करने के लिए आप कोचिंग इंस्टिट्यूट का सहारा भी ले सकते हैं।

5. डीएसपी के एग्जाम को पास करने के लिए आपको अपनी जनरल नॉलेज को बढ़ाना होगा, क्योंकि डीएसपी के एग्जाम में अधिकतर क्वेश्चन जनरल नॉलेज से ही आते हैं।

6. आपको करंट अफेयर पर भी विशेष तौर पर ध्यान देना होगा। इसके लिए आपको रोजाना न्यूज़ पेपर, टीवी चैनल और इंटरनेट पर मौजूद न्यूज़ वेबसाइट पढ़नी होगी।

डीएसपी ऑफिसर बनने के फायदे – Benefits of Becoming a DSP Officer

डीएसपी ऑफिसर बनने के फायदे निम्नानुसार है।

  • यह एक गवर्नमेंट जॉब होती है।
  • डीएसपी ऑफिसर को अच्छी सैलरी मिलती है।
  • इन्हें गवर्नमेंट पावर मिलती है।
  • समाज में रिस्पेक्ट और इज्जत मिलती है।
  • रिटायरमेंट के बाद पेंशन भी मिलती है।
  • डीएसपी ऑफिसर अपने से नीचे काम करने वाले पुलिस कर्मचारियों का उच्च अधिकारी माना जाता है।
  • इन्हें समय-समय पर विभिन्न प्रकार के सेमिनार में भी बुलाया जाता है।
  • डीएसपी ऑफिसर बनने के बाद आदमी के संपर्क बड़े बड़े अधिकारियों से हो जाते हैं।
  • यह जब चाहे तब राज्य के मुख्यमंत्री से मिल सकते हैं।
  • इनके पास अपने से नीचे काम करने वाले किसी भी पुलिस ऑफिसर को उसकी गलती पर सस्पेंड करने का अधिकार होता है।

डीएसपी अधिकारी बनने के लिए कौशल – Skills to Become DSP Officer

इंडियन पुलिस डिपार्टमेंट में डीएसपी ऑफिसर बनने के लिए व्यक्ति के अंदर निम्न कौशल होने चाहिए।

  • डीएसपी ऑफिसर बनने के लिए व्यक्ति को पुलिस डिपार्टमेंट के अंदर इंटरेस्ट होना चाहिए।
  • उसे भारतीय कानून के नियमों के बारे में जानकारी होनी चाहिए।
  • वह ईमानदार होना चाहिए।
  • उसके अंदर सही निर्णय लेने की क्षमता होनी चाहिए।
  • डीएसपी ऑफिसर बनने के लिए व्यक्ति को पक्षपाती नहीं होना चाहिए।
  • उसे बिना किसी दबाव के काम करने आना चाहिए।
  • डीएसपी ऑफिसर बनने के लिए व्यक्ति को परिश्रम करने के लिए तैयार रहना चाहिए।
  • व्यक्ति को शारीरिक और मानसिक रूप से अपने आपको फिट रखना चाहिए।

डीएसपी अधिकारी के काम और जिम्मेदारियां – Work and Responsibilities of DSP Officer

एक डीएसपी ऑफिसर को जो काम करने पड़ते हैं, उसकी जानकारी इस प्रकार है।

  • एक डीएसपी ऑफिसर को अपने इलाके में कानून व्यवस्था को बनाए रखने की जिम्मेदारी निभानी पड़ती है।
  • डीएसपी ऑफिसर का काम एग्जीक्यूटिव और सुपरवाइजर दोनों प्रकार का होता है।
  • डीएसपी ऑफिसर को विभिन्न प्रकार की गवर्नमेंट पावर मिलती है जिसका इस्तेमाल वह कानून व्यवस्था का सुचारू ढंग से पालन करवाने के लिए करता है।
  • डीएसपी की पोस्ट के अंतर्गत उसके इलाके के 3 से लेकर 4 पुलिस थाने उसके अंडर होते हैं।
  • डीएसपी ऑफिसर अपने से उच्च अधिकारियों को अपने थाने से रिलेटेड रिपोर्ट और इंफॉर्मेशन टाइम टू टाइम देते रहते हैं।
  • एक डीएसपी ऑफिसर को किसी केस की इन्वेस्टिगेशन की जिम्मेदारी या फिर किसी वीआईपी व्यक्ति की सिक्योरिटी की जिम्मेदारी भी निभानी पड़ती है।

डीएसपी परीक्षा को पास करने के टिप्स – Tips to Crack DSP Exam

नीचे हम आपको डीएसपी के एग्जाम को पास करने के लिए कुछ ऐसे टिप्स दे रहे हैं, जिसका पालन अगर आप करते हैं तो आप डीएसपी की एग्जाम को क्रैक करने में सफलता प्राप्त कर सकेंगे।

  • सबसे पहले तो एक टाइम टेबल बनाएं और टाइम टेबल के अनुसार ही डीएसपी बनने के लिए अपनी स्टडी करें।
  • डीएसपी की एग्जाम के पुराने क्वेश्चन पेपर को इकट्ठा करें और उनके परीक्षा पैटर्न तथा सिलेबस को समझ करके अपनी तैयारी करें।
  • डीएसपी एग्जाम में कौन से क्वेश्चन किस सब्जेक्ट से पूछे जाते हैं इस पर विशेष तौर पर ध्यान दें और इस प्रकार अपनी तैयारी करें।
  • जो लोग डीएसपी की एग्जाम दे चुके हैं उनसे मिले और उनसे इस एग्जाम के बारे में टिप्स ले।
  • यूट्यूब पर डीएसपी की एग्जाम से संबंधित कई एजुकेशन चैनल मौजूद हैं, आप उन्हें सब्सक्राइब कर सकते हैं और वहां से अपनी डीएसपी बनने की एग्जाम की तैयारी कर सकते हैं।

डीएसपी का वेतन – Salary of DSP

इंडिया में डीएसपी की अधिकतम महीने की सैलरी ₹59,246 है। अलग-अलग राज्यों में डीएसपी के पद पर काम करने वाले व्यक्ति की सैलरी अलग-अलग हो सकती है।

डीएसपी अधिकारी का करियर एवं अवसर – Career and Scope of DSP Officer

डीएसपी का कैरियर काफी उज्जवल होता है, क्योंकि एक तो यह गवर्नमेंट जॉब होती है जिसके अंतर्गत व्यक्ति को अच्छी सैलरी मिलती है ऊपर से उसे पावर भी मिलती है। इसके अलावा जब एक डीएसपी अधिकारी रिटायर हो जाता है तो वह चाहे तो विद्यार्थियों को डीएसपी की एग्जाम को क्रैक करने से संबंधित टिप्स दे सकता है और इसके बदले में पैसे भी कमा सकता है।

इसके अलावा वह चाहे तो किसी कोचिंग इंस्टिट्यूट में डीएसपी की एग्जाम Crack करने से संबंधित स्टडी करवा सकता है। इसके अलावा डीएसपी ऑफिसर चाहे तो अपना खुद का मिनी पुलिस ट्रेनिंग सेंटर भी खोल सकता है, जहां पर वह विभिन्न विद्यार्थियों को पुलिस डिपार्टमेंट में भर्ती होने के लिए तैयारियां करवा सकता है।

डीएसपी बनने के लिए क्या-क्या पढ़ाई करनी पड़ती है? – What are the Studies Required to Become DSP

डीएसपी बनने के लिए आपको इसके सिलेबस की पढ़ाई करनी पड़ती है, जो इस प्रकार है।

  • General Knowledge
  • Reasoning
  • General English
  • Quantitative Aptitude

निष्कर्ष

आशा करते हैं कि आपको Deputy Superintendent of Police Details In Hindi की पूरी जानकारी प्राप्त हो चुकी होगी। अगर फिर भी आपके मन में DSP Officer Kaise Bane (How To Become DSP Officer In Hindi) और डीएसपी कैसे बने? को लेकर कोई सवाल हो तो, आप बेझिझक Comment Section में Comment कर पूछ सकते हैं।

अगर यह जानकारी पसंद आया हो तो, जरूर इसे Share कर दीजिए ताकि Deputy Superintendent of Police Kya Hota Hai बारे में सबको जानकारी प्राप्त हो।

About Ainain

DSPमैं इस ब्लॉग का संस्थापक और एक पेशेवर ब्लॉगर हूं। यहाँ पर मैं नियमित रूप से अपने पाठकों के लिए उपयोगी और मददगार जानकारी साझा करता हूं। ❤️

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.