ट्रेन ड्राइवर या रेलवे ड्राइवर क्या होता है? Train/Railway Driver कैसे बने? जानिए Railway/Train Driver बनने से जुड़ी सभी जानकारी हिंदी में

आज हम जानेंगे ट्रेन ड्राइवर या रेलवे ड्राइवर (Train/Railway Driver) कैसे बने पूरी जानकारी (How To Become Train Driver or Railway Driver in Hindi) के बारे में क्योंकि भारतीय रेलवे दुनिया का सबसे बड़ा रेलवे नेटवर्क है। रेलवे में विभिन्न प्रकार की पोस्ट होती है जिनमें से ही एक पोस्ट Railway Driver या फिर Train Driver की है। सामान्य तौर पर इन्हें लोको पायलट भी कहा जाता है। इंडियन रेलवे मिनिस्ट्री के द्वारा टाइम टू टाइम रेलवे ड्राइवर अथवा ट्रेन ड्राइवर के लिए भर्तियां निकाली जाती है।

ट्रेन ड्राइवर की पोस्ट बहुत ही महत्वपूर्ण पोस्ट मानी जाती है, क्योंकि इनके ऊपर ही ट्रेन के संचालन की जिम्मेदारी होती है। अगर आप ट्रेन ड्राइवर अथवा रेलवे ड्राइवर बनना चाहते हैं तो आर्टिकल में बने रहे। आज के इस लेख में जानेंगे कि Train Driver Kaise Bane, ट्रेन ड्राइवर या रेलवे ड्राइवर बनने के लिए क्या करे, Railway Driver Meaning In Hindi, Railway Driver Kise Kahte Hai, ट्रेन ड्राइवर या रेलवे ड्राइवर बनने का तरीका, Train Driver Kaise Bante Hain, आदि की सारी जानकारीयां विस्तार में जानने को मिलेंगी, इसलिये पोस्ट को लास्ट तक जरूर पढे़ं।

ट्रेन/रेलवे ड्राइवर क्या होता है? – What is Train/Railway Driver Information in Hindi?

विषय-सूची

Train Ya Railway Driver Kaise Bane
Train Ya Railway Driver Kaise Bane

Train Driver या Railway Driver के नाम से ही प्रतीत हो रहा है कि इनका मुख्य काम रेल के इंजन को चलाना और उसे सही सलामत अपनी मंजिल तक पहुंचाना होता है। Railway Driver उस रेलगाड़ी का मुख्य व्यक्ति होता है जिसमे उसकी पोस्टिंग हुई होती है। Railway Driver पैसेंजर गाड़ी भी चलाता है और माल गाड़ी चलाता है। रेलवे ड्राइवर को ही loco pilot कहा जाता है।

ट्रेन ड्राइवर बनने के लिए योग्यता – Qualification to Become a Train Driver

जो भी अभ्यर्थी रेलवे में Train Driver अथवा Railway Driver की नौकरी प्राप्त करना चाहते हैं, उन्हें इसके लिए देश के किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से दसवीं की परीक्षा को पास करना आवश्यक है। इसके साथ ही उनके पास ITI का NCVT या फिर SCVT से Certified Certificate या फिर डिप्लोमा होना भी जरूरी है। यह डिप्लोमा पॉलिटेक्निक अथवा आईटीआई से होना चाहिए, जो इलेक्ट्रिकल, ऑटोमोबाइल, मेकेनिकल या फिर इनमें से किसी भी एक में होना चाहिए। इसके साथ ही उन्होंने जिस कॉलेज से सर्टिफिकेट हासिल किया है, वह AICTE से Certified होना जरूरी है।

ट्रेन चालक बनने के लिए आयु सीमा – Age Limit to Become a Train Driver

आपको बता दें कि रेलवे में ड्राइवर बनने के लिए भारतीय संविधान में दिए गए आरक्षण के तहत अलग-अलग वर्गों के लिए अलग-अलग उम्र सीमा को निर्धारित किया गया है। जो लोग सामान्य समुदाय से संबंध रखते हैं, उन अभ्यर्थियों के लिए रेलवे में ड्राइवर बनने की उम्र सीमा कम से कम 18 साल और अधिक से अधिक 28 साल रखी गई है, वही जो लोग आरक्षण की श्रेणी में आते हैं।

जैसे कि अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के लोग, उनकी उम्र कम से कम 18 साल और अधिक से अधिक 33 साल रखी गई है। इसके अलावा ओबीसी समुदाय के लोगों की कम से कम उम्र 18 साल और अधिक से अधिक 33 साल रखी गई है, हालांकि एससी एसटी और ओबीसी समुदाय के लोगों को उम्र सीमा में छूट लेने के लिए अपने आरक्षण के सर्टिफिकेट को प्रस्तुत करना आवश्यक है।

ट्रेन चालक बनने के लिए शारीरिक मानदंड – Physical Criteria to Become a Train Driver

रेलवे में ड्राइवर बनने के लिए शारीरिक मापदंड के अंतर्गत लंबाई से संबंधित किसी भी प्रकार का कोई भी नियम नहीं है, परंतु आपको बता दें कि, आपका वजन आपकी लंबाई के अनुसार होना चाहिए और जो बात सबसे महत्वपूर्ण है वह यह है कि आपकी आंखें बिल्कुल सही  होनी चाहिए। आपको आंखों से संबंधित किसी भी प्रकार की कोई भी प्रॉब्लम नहीं होनी चाहिए, क्योंकि Railway Driver के तौर पर आपको दिन और रात दोनों समय में ट्रेन को चलाना पड़ता है और आपके ऊपर यात्रियों की तथा माल की जिम्मेदारी होती है। रेलवे में ड्राइवर बनने के लिए आपकी आंखों का डिस्टेंस विजन 6/6, 6/6  बिना चश्मे के होना जरूरी  है।

ट्रेन चालक की चयन प्रक्रिया – Train Driver Selection Process

Train Driver बनने के लिए अभ्यर्थी को कंप्यूटर आधारित एटीट्यूड टेस्ट को पास करना होता है। यह परीक्षा दो चरणों में होती है। इसमें 250 अंकों के एमसीक्यू वाले सवाल होते हैं। इस परीक्षा को देने के लिए विद्यार्थियों को टोटल 2 घंटे और 30 मिनट का समय परीक्षा बोर्ड के द्वारा दिया जाता है। इस परीक्षा में नेगेटिव मार्किंग भी होती है। हर गलत जवाब देने के लिए 1/3 मार्क कट किए जाते हैं।

ट्रेन चालक बनने के लिए परीक्षा पैटर्न – Exam Pattern to Become a Train Driver

Train Driver बनने के लिए एग्जाम का पैटर्न निम्नानुसार है।

  • अंकगणित: 20 अंक
  • सामान्य विज्ञान:30 अंक
  • तकनीकी योग्यता:30 अंक
  • सामान्य बुद्धि:05 अंक
  • तर्क कौशल:10 अंक
  • सामान्य जागरूकता: 25 अंक

ट्रेन ड्राइवर बनने का सिलेबस – Syllabus to Become a Train Driver

Train Driver बनने के लिए सिलेबस की जानकारी निम्नानुसार है।

  • Number Systems
  • BODMAS
  • Decimals
  • Elementary Statistics
  • Square Root
  • Age Calculation
  • Calendar and Clock
  • Pipes and Cutter
  • Fractions
  • LCM
  • HCF
  • Ratios and Proportions
  • Percentages
  • Time and Distance
  • Simple and Compound Interest
  • Profit and Loss
  • Algebra
  • Geometry and Trigonometry
  • Standardization
  • Time and Work
  • Analogs
  • Alphabetical and Number Series
  • Coding and Decoding
  • Mathematical Operations
  • Relationships
  • Syllogism
  • Measurement
  • Mass
  • Weight and Density
  • Work Power and Energy
  • Speed and Velocity
  • Jumbling
  • Venn Diagram
  • Data Interpretation, and Proficiency •Conclusion and Decision Making •Similarities and Differences
  • Analytical Reasoning
  • Classification
  • Direction
  • Description
  • Reasoning and Assessment Etcetera
  • Heat and Temperature
  • Basic Electricity
  • Engineering Drawing (Projection, Visualization, Drawing Instruments, Lines, Geometric Figures, Symbolic Representation, Units, Levers and Simple Machines, Occupational Safety and health, environmental education, IT literacy.

ट्रेन चालक बनने के लिए दस्तावेज – Documents to Become a Train Driver

सभी परीक्षा को पास करने के बाद उम्मीदवार के डॉक्यूमेंट की जांच की जाती है। डॉक्यूमेंट के तौर पर उसके 10वीं और 12वीं के सर्टिफिकेट, कास्ट सर्टिफिकेट, टेक्निकल एलिजिबिलिटी सर्टिफिकेट, साइन, रंगीन फोटो इत्यादि की जांच की जाती है। जांच प्रक्रिया पूरी होने के बाद जांच में सही पाए जाने पर उम्मीदवार का चयन ट्रेन ड्राइवर के पद पर हो जाता है और इसके बाद उसे ट्रेनिंग के लिए भेज दिया जाता है। ट्रेनिंग पूरी होने के बाद उसे Train Driver के पद पर पोस्टिंग प्रदान की जाती है। इस प्रकार अभ्यर्थी रेलवे में ट्रेन ड्राइवर अथवा रेलवे ड्राइवर बनने में कामयाब हो जाता है।

एक ट्रेन चालक का वेतन – Salary of Train Driver

अगर गवर्नमेंट रेलवे ड्राइवर की सैलरी के बारे में बात की जाए तो Train Driver की सैलरी वर्तमान के समय में ₹60,000 के आसपास होती है। हालांकि पहले इनकी सैलरी कम थी परंतु सातवें वेतन आयोग के लागू होने के बाद इनकी सैलरी में बढ़ोतरी हुई। इसके अलावा इन्हें ग्रेड पे और बेसिक सैलरी भी प्राप्त होती है। इस प्रकार एक ट्रेन ड्राइवर को वर्तमान में महीने की सैलरी के तौर पर ₹45000 से लेकर ₹60000 तक प्राप्त होते हैं।

ट्रेन ड्राइवर कैसे बने? – How to Become a Train/Railway Driver

Railway Driver अथवा Train Driver बनने के लिए आपको स्टेप बाय स्टेप अपने कदम आगे बढ़ाने पढ़ते हैं। नीचे हम आपको इस बात की जानकारी दे रहे हैं कि कैसे आप रेलवे ड्राइवर अथवा ट्रेन ड्राइवर बन सकते हैं।

1. नौकरी के लिए अप्लाई करें

अगर आप Train Driver बनना चाहते हैं तो इसके लिए आपको रेलवे बोर्ड के द्वारा ट्रेन ड्राइवर की भर्ती निकलने का इंतजार करना पड़ेगा। जब रेलवे भर्ती बोर्ड के द्वारा Train Driver की भर्ती निकाली जाए तब आपको उस भर्ती के लिए अपना फॉर्म ऑनलाइन भरना है।

2. लिखित परीक्षा दे

ऑनलाइन फॉर्म भरने के बाद आपको एडमिट कार्ड जारी किया जाएगा। इसके बाद एक निश्चित दिन पर कंप्यूटर आधारित लिखित परीक्षा करवाई जाएगी। आपको इस परीक्षा में शामिल होना पड़ता है और इस परीक्षा को पास करना पड़ता है। आपके अंक जितने ज्यादा अच्छे होंगे, वह आपके लिए ही फायदेमंद साबित होगा।

3. मनोवैज्ञानिक परीक्षण दे

लिखित परीक्षा को पास करने के बाद अभ्यर्थी को साइको टेस्ट देना पड़ता है।

4. मेडिकल टेस्ट दें

साइको टेस्ट को देने के बाद अभ्यर्थी को मेडिकल टेस्ट में शामिल होना पड़ता है। इस टेस्ट में उसके शरीर की काफी अच्छे से अनुभवी एक्सपर्ट द्वारा जांच की जाती है।

5. इंटरव्यू दे

मेडिकल टेस्ट में पास होने के बाद अभ्यर्थी का इंटरव्यू लिया जाता है। इसमें उससे कुछ सवाल पूछे जाते हैं।

6. डॉक्यूमेंट की जांच

इंटरव्यू को पास करने के बाद अभ्यर्थी के डॉक्यूमेंट की जांच की जाती है।

7. ट्रेनिंग पर जाएं

डॉक्यूमेंट की जांच होने के बाद सब कुछ सही पाए जाने पर अभ्यर्थी को ट्रेनिंग के लिए भेजा जाता है।

8. पद ग्रहण करें

जब अभ्यर्थी को ट्रेनिंग पर भेज दिया जाता है, तो वहां पर उसकी ट्रेनिंग करवाई जाती है और सफलतापूर्वक ट्रेनिंग करने के बाद व्यक्ति को ट्रेन ड्राइवर के पद पर पोस्ट कर दिया जाता है। इस प्रकार वह Train Driver या फिर रेलवे ड्राइवर बन जाता है।

ट्रेन ड्राइवर बनने की तैयारी कैसे करें – How to Prepare to Become a Train/Railway Driver

आप नीचे बताए गए तरीकों का इस्तेमाल करके रेलवे में Train Driver अथवा Railway Driver की नौकरी प्राप्त करने का प्रयास कर सकते हैं अथवा इसकी तैयारी कर सकते हैं।

  • ट्रेन ड्राइवर बनने के लिए इसकी सिलेबस का अच्छे से अध्ययन करें
  • सिलेबस के अंतर्गत आने वाले सभी कांसेप्ट को सही प्रकार से समझने की कोशिश करें और सटीक कैलकुलेशन करने का प्रयास करें।
  • सवालों के लिए शॉर्टकट ट्रिक का इस्तेमाल करने की कोशिश करें।
  • अपने फ्रेंड और फैमिली से जनरल नॉलेज और करंट अफेयर पर कम्युनिकेट करें।
  • कोचिंग इंस्टिट्यूट में जाकर कोचिंग भी कर सकते हैं।
  • यूट्यूब पर एजुकेशन चैनल देखे, जो रेलवे ड्राइवर की तैयारी करवाते हो।
  • हर दिन कम से कम 30 से 40 से सामान्य बुद्धि और तर्क शक्ति वाले सवालों को हल करने की कोशिश करें और उनका समाधान देखें, साथ ही सवालों को हल करने के लिए इजी तरीके को डिवेलप करें।
  • करंट अफेयर की जानकारी के लिए रोजाना न्यूज़पेपर पढे और समाचार चैनल देखें।
  • अपनी याददाश्त को तेज करने के लिए करंट अफेयर पर ज्यादा ध्यान दें।
  • हर सप्ताह के आखिरी में सभी पॉइंट को संशोधित करें।
  • रिवीजन अवश्य करें।

निष्कर्ष

आशा करते हैं कि आपको Train Driver या Railway Driver Details In Hindi की पूरी जानकारी प्राप्त हो चुकी होगी। अगर फिर भी आपके मन में Train Driver या Railway Driver Kaise Bane (How To Become Train Driver or Railway Driver In Hindi) और ट्रेन ड्राइवर या रेलवे ड्राइवर कैसे बने? को लेकर कोई सवाल हो तो, आप बेझिझक Comment Section में Comment कर पूछ सकते हैं।

अगर यह जानकारी पसंद आया हो तो, जरूर इसे Share कर दीजिए ताकि Train Driver या Railway Driver kya Hota Hai बारे में सबको जानकारी प्राप्त हो।

About Ainain

train driverमैं इस ब्लॉग का संस्थापक और एक पेशेवर ब्लॉगर हूं। यहाँ पर मैं नियमित रूप से अपने पाठकों के लिए उपयोगी और मददगार जानकारी साझा करता हूं। ❤️

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.