बैचलर ऑफ फार्मेसी क्या है? B.Pharma (Bachelor of Pharmacy) Course कैसे करें? Full Form, Qualification, Admission Process, Career, Salary, Syllabus, Fees, Entrance Exam, Scope आदि से जुड़ी सभी जानकारी हिंदी मे

आज हम जानेंगे बी.फार्मा कोर्स (Bpharm Course) कैसे करें पूरी जानकारी (How To Do B.Pharma (Bachelor of Pharmacy) Course Details In Hindi) के बारे में क्योंकि जब कोई स्टूडेंट 10वी पास करता है तो आज ज्यादातर लोग एक दूसरे को देखकर 11वीं और 12 वीं साइंस में एडमिशन ले लेते है। लेकिन साइंस के बाद कौन से कोर्स को करना चाहिए, कौन सा कोर्स बेहतर होगा? इस बात को लेकर बहुत सारे स्टूडेंट Confuse हो जाते है।फिर भी उन में से कई लोग मेडिकल में अपना कैरियर बनाना चाहते है वो सबसे ज्यादा परेशान हो जाते है। क्योंकि आज के मौजूदा दौर में बहुत सारे मेडिकल कोर्स और कॉलेज उपलब्ध हो गए है, जिससे उनका कन्फ्यूजन होना तय है।

आज के इस लेख में जानेंगे कि B.Pharma Course Kya Hota Hai, B.Pharma Course के लिए Qualifications, B.Pharma Meaning In Hindi, B.Pharma Course Kaise Karen, B.Pharma (Bachelor of Pharmacy) Course के लिए Eligibility, B.Pharma Course के लिए Admission Process, बैचलर ऑफ फार्मेसी कोर्स के लिए तैयारी कैसे करें, B.Pharma Entrance Exams, B.Pharma Course की Fees, Bachelor of Pharmacy Course करने के बाद Job And Career Opportunity, B.Pharma Course के बाद Salary, आदि की सारी जानकारीयां विस्तार में जानने को मिलेंगी, इसलिये पोस्ट को लास्ट तक जरूर पढे़ं।

बी.फार्मा क्या होता है? – What is B.Pharma (Bachelor of Pharmacy) Course Information in Hindi

विषय-सूची

B.Pharma Course Details In Hindi
B.Pharma Course Details In Hindi

B.Pharm यानी Bachelor of Pharmacy 4 साल का स्नातक (Bachelor) डिग्री कोर्स है। बी.फार्मा में दवा कैसे बनाई जाती है, दवा बनाने की प्रक्रिया क्या है, किस बीमारी में किस दवा का इस्तेमाल किया जाना चाहिए और कब, आदि इन सभी चीजों के बारे में सिखाया जाता है। बैचलर ऑफ फार्मेसी के नाम से पता चलता है कि चिकित्सा से संबंधित चीजें इस कोर्स में सिखाई जाती होंगी।

इस कोर्स को मुख्य रूप से 6-8 सेमेस्टर में divide किया गया है। यदि आप चिकित्सा, दवाओं आदि के बारे में जानना पसंद करते हैं और आप चिकित्सा में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं, तो बैचलर ऑफ फार्मेसी आपके लिए एक बेहतर कोर्स है। जिसे आप निश्चित रूप से चुन सकते हैं। Pharmacy Council of India (PCI) बी.फार्मा कोर्स के नियम और कानून बनाता है।

B.Pharm का फुल फॉर्म क्या होता है? – What Is B.Pharm Full Form In Hindi?

B.Pharm का Full Form Bachelor of Pharmacy होता है। हिंदी में B.Pharma का फुल फॉर्म बैचलर ऑफ फार्मेसी होता है।

बी.फार्मा में प्रवेश कैसे प्राप्त करें – How to Get Admission in Bachelor of Pharmacy (B.Pharma) Course

कुछ कॉलेज कट-ऑफ लिस्ट या मेरिट लिस्ट के आधार पर भी सीधे B.Pharma यानी Bachelor of Pharmacy में  admission देते हैं। कुछ निजी और सरकारी कॉलेज / विश्वविद्यालय हैं जिनमें आपको admission के लिए entrance Exam देनी होता है, जिसमे आपको अच्छे मार्क्स लाने होंगे।। किसी अन्य entrance examination के मुकाबले B.Pharm का entrance examination सख्ती से होता है। बाद में मेरिट सूची जारी की जाएगी और उसके बाद उस कॉलेज में admission होगा।

बी.फार्मा के लिए प्रवेश परीक्षा – Entrance Exam for Bachelor of Pharmacy (B.Pharmacy)

B.Pharmacy के प्रवेश परीक्षा का नाम निम्नलिखित है जिसके लिए छात्र तैयारी कर सकते हैं।

  • MHT-CET Maharashtra Entrance Test
  • BHU-B Entrance Exam
  •  NIPER JEE
  • PU CET
  • BITSAT
  • MET
  • KCET
  • GPAT (Graduate Pharmacy Aptitude Test)
  • UPSEE-Pharmacy (Uttar Pradesh State Entrance Examination)

बैचलर ऑफ फार्मेसी कोर्स के लिए योग्यता – Qualification/Eligibility For Bachelor of Pharmacy (B.Pharma) Course

बैचलर ऑफ फार्मेसी में प्रवेश पाने के लिए, कुछ कॉलेजों और विश्वविद्यालयों में आवश्यक योग्यता पूरी करनी होती है, जो नीचे दी गई है।

  • बैचलर ऑफ फार्मेसी डिग्री कोर्स में admission लेने के लिए, आपको विषय के रूप में Physics, Chemistry, Biology/Mathematics और English के साथ 12 वीं कक्षा उत्तीर्ण करनी होगी।
  • B.Pharmacy में admission के लिए, उम्मीदवार की न्यूनतम आयु 17 वर्ष होनी चाहिए।
  • कक्षा 12th में, आपको कम से कम 50% अंकों के साथ उत्तीर्ण होना चाहिए।
  • इस कोर्स में admission पाने के लिए, कुछ कॉलेजों और विश्वविद्यालयों में Entrance Exam की आवश्यकता होती है, इसलिए इसे पास करना भी जरूरी है।
  • जिन छात्रों ने NIOS और state based open schooling जैसे स्कूलों से 12 वीं पास किया है, वे इस कोर्स के लिए पात्र नहीं हैं।
  • B.Pharm के लिए आरक्षित वर्ग के लिए 20 वर्ष से 22 वर्ष है।
  • वह छात्र, जो Diploma in Pharmacy (D.Pharm) में तीन वर्षीय डिप्लोमा उत्तीर्ण हैं, वे भी इस कोर्स को करने के लिए पात्र हैं।

बी.फार्मा कोर्स की अवधि – B.Pharma Course Duration

B.Pharma Course की अवधि 4 वर्ष है, जिसे 8 सेमेस्टर में विभाजित किया गया है और प्रत्येक सेमेस्टर 6 महीने की अवधि का होता है।

बी.फार्मा पाठ्यक्रम के विषय – Subjects or Topics in B.Pharma Course

  • Human Anatomy & Physiology
  • Biochemistry
  • Pharmaceutical Maths & Biostatistics
  • Pharmaceutical Biotechnology

बी.फार्मा कोर्स के सिलेबस – B.Pharma (Bachelor of Pharmacy) Course Syllabus

B.Pharma Syllabus (Semester I) – Pharmaceutical Analysis 1, Pharmaceutical Chemistry, Advanced Mathematics, Computer Applications, Biology, Anatomy & Physiology, Organic Chemistry, Pharmacognosy 1, Basic Electronics

B.Pharma Syllabus (Semester II) – Pharmacognosy 2, Pharmaceutical Chemistry 2, Pharmaceutics, Pharmaceutical Analysis 2, AP HE-1, Organic Chemistry 2, Pharmacognosy 3, AP HE- 2, Dispensing & Community Pharmacy

B.Pharma Syllabus (Semester III) – Biochemistry, Pharmacology 2, Medicinal Chemistry 1, Pharmaceutical Jurisprudence Ethics, Chemistry of Natural Products, Medicinal Chemistry 2, Pharmacology 1, Hospital Pharmacy, Biopharmaceutics

B.Pharma Syllabus (Semester IV) – Pharmaceutical Biotechnology, Pharmaceutics, Medicinal Chemistry 3, Electives, Clinical Pharmacy, Chemistry of Natural Products, Projected Related to Elective, Pharmacognosy, Drug Interactions

बी.फार्मा कोर्स की फीस – B.Pharma (Bachelor of Pharmacy) Course Fees

B.Pharmacy Course की Average Fees ₹30,000 से ₹1.5 लाख के बीच होती है। अलग-अलग कॉलेज मे फीस भिन्न हो सकती है। सरकारी कॉलेज में, आप कम फीस पर शिक्षा प्राप्त कर सकते हैं, जबकि private college में आपको अधिक fees देना होगा।

B.Pharma (Bachelor of Pharmacy) Course के Specializations

  • Pharmacy Practice
  • Ayurved
  • Pharmaceutical
  • Pharmacognosy
  • Pharmacology

बी.फार्मा कोर्स के फायदे – Advantages or Benefits of B.Pharma (Bachelor of Pharmacy) Degree

  • B.Pharmacy Course करने के बाद आप medical shop या chemists shop खोल सकते हैं।
  • इस कोर्स को करने के बाद chemistry professor, lab assistant या laboratory expert बन सकते हैं।
  • इस कोर्स को करते समय दवाओं के पीछे के रहस्यों को जानेंगे।
  • आप दवा निर्माता के लिए एक सलाहकार के रूप में काम कर सकते हैं
  • आप दवाओं के थोक विक्रेता बन सकते हैं
  • इस कोर्स को करने के बाद आप आगे की पढ़ाई भी कर सकते हैं।
  • इस कोर्स को करने के बाद 99 प्रतिशत नौकरी की गारंटी होती है।

बैचलर ऑफ फार्मेसी कोर्स के बाद वेतन – Salary after B.Pharma (Bachelor of Pharmacy) Course

एक pharmacist की average salary ₹2,00,000 से ₹5,00,000 प्रति वर्ष के बीच हो सकता है। यदि आप M.Pharm (Master of Pharmacy) course करते हैं तो आपको वेतन और अधिक मिलेगा।आपका वेतन आपके skills, Knowledge, Job posts और आपके काम करने के तरीके पर निर्भर करता है।

Top 5 Best Colleges For B.Pharma (Bachelor of Pharmacy) Course in India

निम्नलिखित कुछ कॉलेज हैं, जो आपको B.Pharma Course करने में मदद करेंगे;
  1. Jamia Millia Islamia
  2. Panjab University, Chandigarh
  3. National Institute of Pharmaceutical Education and Research Mohali
  4. Institute of Chemical Technology (ICT), Mumbai
  5. CHANDIGARH UNIVERSITY – [CU], CHANDIGARH

बी.फार्मा कोर्स के लिए आवश्यक कौशल – Skills Required for B.Pharma Course

  • आपके अंदर Medicinal और scientific research की skills होनी चाहिए।
  • Business skills भी होना चाहिए जैसे marketing, organizing आदि।
  • आपकी याद दास तेज़ और ज्ञान दोनों होना चाहिए।
  • खराब स्थितियों में Situation को संभालने आना चाहिए।
  • निर्धारक और स्थिरता को समझने की skills होनी चाहिए।
  • संबंध-निर्माण और संचार की skill होनी बेहद जरूरी है।
  • टीम वर्क मे काम करने आना चाहिए।
  • दबाव को संभालने की क्षमता होनी चाहिए।
  • कंप्यूटर की बुनियादी ज्ञान होनी चाहिए।

बी.फार्मा के बाद नौकरी और कैरियर का अवसर – Career and Job Opportunities After B.Pharma (Bachelor of PharmacyCourse

बेचलर ऑफ फार्मेसी कोर्स करने के बाद कैरियर अच्छा ही रहेगा यदि आप कोर्स को अच्छे से पढ़ते है, अच्छे से सीखते है। इस कोर्स को करने के बाद बहुत सारे कैरियर ऑप्शन है, जॉब ऑप्शन है जैसे कि आप खुद का मेडिकल दवाइयां का स्टोर खोल सकते है, गवर्नमेंट और प्राइवेट सेक्टर में जॉब कर सकते है, किसी अस्पताल में आप मेडिकल जॉब कर सकते है, ड्रग्स, दवा बनाने वाली कंपनी में आप एक फार्मासिस्ट कि जॉब कर सकते है। इसके अलावा आप एजुकेशन सेक्टर में जाना चाहते है तो आप किसी कॉलेज में Pharmacist teacher की जॉब कर सकते है।

बी.फार्मा कोर्स के बाद आगे की पढ़ाई – Further Studies After B.Pharm Course

ऐसे बहुत से लोग हैं जो अपने skills को बढ़ाना चाहते हैं और यदि आप नौकरियों के बजाय study करना चाहते हैं, तो इसके लिए आप M.pharm, PhD, PharmD कर सकते हैं, ताकि विषय में आपका Knowledge बढ़ें। जो आने वाले समय में बहुत उपयोगी हो सकता है।

निष्कर्ष

आशा करते हैं कि आपको B.Pharma Course Details In Hindi की पूरी जानकारी प्राप्त हो चुकी होगी। अगर फिर भी आपके मन में B.Pharma Course Kya Hota Hai? (What Is Bachelor of Pharmacy In Hindi) और बैचलर ऑफ फार्मेसी कोर्स कैसे करे? को लेकर कोई सवाल हो तो, आप बेझिझक Comment Section में Comment कर पूछ सकते हैं।

अगर यह जानकारी पसंद आया हो तो, जरूर इसे Share कर दीजिए ताकि B.Pharma Course Kaise Kare बारे में सबको जानकारी प्राप्त हो।

About Ainain

B.Pharmमैं इस ब्लॉग का संस्थापक और एक पेशेवर ब्लॉगर हूं। यहाँ पर मैं नियमित रूप से अपने पाठकों के लिए उपयोगी और मददगार जानकारी साझा करता हूं। ❤️

10 thoughts on “बैचलर ऑफ फार्मेसी क्या है? B.Pharma (Bachelor of Pharmacy) Course कैसे करें? Full Form, Qualification, Admission Process, Career, Salary, Syllabus, Fees, Entrance Exam, Scope आदि से जुड़ी सभी जानकारी हिंदी मे”

  1. Kya b bharma Karne ke bad sarkari job Mila Kitna % chansh hota ha aur
    B bharma course Shahi h kya iski mang h Bihar ya other state me 🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏

    Reply

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.