टिकट कलेक्टर क्या होता हैं? Ticket Collector/T.TE कैसे बने? जानिए TC/TTE बनने से जुड़ी सभी जानकारी हिंदी में

आज हम जानेंगे रेलवे में टिकट कलेक्टर कैसे बने पूरी जानकारी (How To Become Indian Railway Ticket Collector/TTE In Hindi) के बारे में क्यों की भारत में हर किसी का सपना खुद को सरकारी पद पर देखने का होता है। भारत के ज्यादातर students सरकारी नौकरी पाने के लिए कई कई साल तक मेहनत करते है। भारतीय रेलवे भी एक सरकारी पद है जिसके लिए लाखो students हर साल try करते है। भारतीय रेलवे भारत की सबसे बड़ा सरकारी क्षेत्र है जिसमें सबसे ज्यादा लोग काम करते है।

भारतीय रेलवे में कुल 14 लाख कर्मचारी काम करते है। रेलवे में कई सारे पद होते हैं। जिस में से एक पद Ticket Collector का भी होता है। रेलवे की नौकरी कितनी अच्छी और आरामदायक होती है यह सभी जानते है। भारत में हर साल करोड़ों लोग रेलवे में job लिए apply करते हैं। आज के इस आर्टिकल में जानेंगे कि Ticket Collector/TTE क्या होता हैं, टिकट कलेक्टर के कार्य, टिकट कलेक्टर कैसे बने, Ticket Collector बनने के लिए Qualifications, Ticket Collector बनने के लिए Exam, टिकट कलेक्टर बनने के लिए तैयारी कैसे करें?, Skills for Ticket Collector, टिकट कलेक्टर की Job career, टिकट कलेक्टर की salary आदि की सारी जानकारियां हिंदी में तो, आइए जानते है।

टिकट कलक्टर क्या होता है? – What is Ticket Collector/T.TE Information in Hindi

How To Become Ticket Collector Information In Hindi
How To Become Ticket Collector Information In Hindi

रेलवे में यात्रा करने हेतु यात्रियों को टिकट की आवश्यकता होती है। यात्रियों द्वारा इसी टिकट को सफर के दौरान लिया गया है कि नहीं इसकी जांच ट्रेन में एक TTE (Traveling Ticket Examiner) करता है और जो Railway Station पर खड़े होकर टिकट check करते है वह TC यानी Ticket Collector कहलाते है। इन दोनों बस इतना सा ही अंतर होता है कि TTE चलती ट्रेन में टिकट check करते है और TC railway platform पर टिकट check करते हैं।

टिकट कलक्टर का काम – Work/Duties of Ticket Collector

भारतीय रेलवे में Ticket Collector की काफी महत्वपूर्ण भूमिका होती है। एक टिकट कलेक्टर की भारतीय रेलवे में कई सारे कार्य और जिम्मेदारी होते हैं। जैसे – 

  1. Sleeper Coach के TTE को ट्रेन के खुलने के निर्धारित समय से आधे घंटे पहले उन्हें report करना होता है।
  2. एक Ticket Collector कोच में यात्रा करने वाले यात्रियों को उसके टिकट के अनुसार Seat की जानकारी भी देते है।
  3. यह यात्री द्वारा की गई रेलवे की शिकायतों पर भी ध्यान देते हैं। जैसे – पंखे, बत्ती आदि का काम ना करना
  4. TTE अपने साथ FIR copy भी रखते है। किसी यात्री का सामान चोरी हो जाने पर या खो जाने पर उसकी शिकायत दर्ज करते हैं।
  5. TTE को हमेशा साफ-सुथरी uniform में होना चाहिए। 
  6. TC/TTE का सबसे महत्वपूर्ण कार्य ट्रेन में सफर कर रहे हैं यात्रियों की टिकट की जांच और साथ ही प्लेटफार्म पर खड़े लोगों की टिकट की भी जांच करना है। 

रेलवे में टिकट कलेक्टर कैसे बने – How to Become a Ticket Collector/T.TE

TC/TTE बनने के लिए Candidate को अपनी 12वी की पढ़ाई के बाद से रेलवे के Written Exam की तैयारी शुरू कर देनी चाहिए। इसके लिए कैंडिडेट को अपनी अंग्रेजी, सामान्य ज्ञान और गणित में काफी ध्यान दने की जरूरत है। इसके उसके साथ साथ Candidate को Medical fit भी होना चाहिए क्योंकि Candidate की medical test भी होती है। Written Exam को clear करने के लिए Candidate coaching भी join कर सकते है।

रेलवे में टिकट कलेक्टर बनने के लिए योग्यता – Qualifications to Become Ticket Collector/T.TE

भारतीय रेलवे में Ticket Collector बनने हेतु candidate में निम्नलिखित योग्यता होनी चाहिए।

  • Candidate को भारत का नागरिक होना चाहिए।
  • Candidate को कम से कम 12 वीं pass होना चाहिए।
  • Candidate की उम्र 18 वर्ष से 30 वर्ष तक होनी चाहिए।
  • Candidate को medically fit भी होना चाहिए।
  • Candidate अपनी 12वी की पढ़ाई किसी भी stream में कर सकते हैं।
  • General Category वालो Candidate के 12वी में कम से कम 50% अंक आने चाहिए।
  • General Category को छोड़ कर अन्य category वालो के लिए ऐसी कोई आवश्यकता नहीं है। 

टिकट कलेक्टर बनने के लिए आयु सीमा – Age Limit to Become a Ticket Collector

Ticket Collector बनने के लिए General Category वाले Candidates की आयु 18 वर्ष से 30 वर्ष तक होनी चाहिए। OBC category वाले Candidates के लिए 3 वर्ष और SC/ST category वाले Candidates को 5 वर्ष तक की छूट दी जाती है। 

टिकट कलेक्टर बनने के लिए परीक्षा – Exam to Become Ticket Collector/T.TE

भारत में हर साल रेलवे की job के लिए exam होती है। यह परीक्षा RRB (Railway Recruitment Board) द्वारा होती है। भारतीय रेलवे में पद के लिए हर साल Railway Ticket Exam या Ticket Collector Exam होता है। यह एक Written Exam होता है। 

टिकट कलेक्टर के परीक्षा पैटर्न – Ticket Collector/T.TE Exam Pattern

Railway के exam में कुल 150 marks के 150 प्रशन आते है। मतलब एक एक mark के एक एक प्रश्न होंगे। Exam के प्रशन GK, English, Aptitude और Math के विषय से आएंगे। सारे प्रशन MCQ होंगे। MCQ का मतलब हर एक question के लिए 4 options दिए जाएंगे और उसमे से आपको किसी एक सही option पर tick करना है। गलत जवाब पर कोई negative marking नहीं होगा। 

टिकट कलेक्टर की चयन प्रक्रिया – Selection Process of Ticket Collector/T.TE

भारत में Ticket Collector की चयन प्रक्रिया 4 चरणों से हो कर गुजरती हैं। सबसे पहले written exam होता है। साल 2020 से यह exam online हो सकती है। इसमें pass होने के बाद Candidate को Medical Test के लिए बुलाया जाता है। Medical Test के clear होने के बाद Candidate को documents verification के लिए बुलाया जाता है। Documents के verified होने के बाद Candidate को एक महीने की training के लिए भेजा जाता हैं जहां उन्हें कैसे टिकट चेक करना है, अगर कोई टिकट unallotted है तो उसे कैसे allotted करना है, कैसे किसी टिकट का गलत होने पर उसपर fine करना है, आदि चीजों के बारे में बताया जाता है। Training के दौरान एक छोटा सा exam होता है जिसके बाद Candidate को ticket checking के लिए भेजा जाता है। 

टिकट कलेक्टर की नौकरी की भूमिका – Job Role of Ticket Collector

एक Ticket Collector के job roles अनेक तरह के हो सकते है। TC/TTE बनने के बाद हो सकता है आपको Inquiry Counter पर भी बैठाया जा सकता है या Reservation Counter पर भी बैठाया जा सकता है या Platform पर भी बैठाया जा सकता है जहा से आप ट्रेन से उतरने वाले यात्रियों के platform tickets की जांच कर सकते हैं या फिर का जो मुख्य कार्य होता है ट्रेन मैं सफर करने वाले यात्रियों की टिकट की जांच करना।

टिकट कलेक्टर का वेतन – Salary of Ticket Collector

भारत में एक Ticket Collector की monthly salary लगभग Rs. 9,400 से Rs. 35,000 तक होती है। Salary के अलावा इसमें नियुक्त अधिकारियों को DA (Dearness Allowance) और रहने हेतु घर (Railway Quarters) की सुविधा भी दी जाती है। इसके साथ ही अधिकारी और उसके परिवावालों को Medical की सुविधा भी मुफ्त दी जाती है।

अगर आपने भी अपनी 12वी की पढ़ाई पूरी कर ली है और आप भी एक सरकारी नौकरी की तलाश में हैं तो आप भी भारतीय रेलवे में TC/T.TE के पद के लिए तैयारी शुरू कर सकते हैं।

निष्कर्ष

आशा करते हैं कि आपको Ticket Collector/T.TE Details In Hindi की पूरी जानकारी प्राप्त हो चुकी होगी। अगर फिर भी आपके मन में टिकट कलेक्टर क्या होता है? (What Is Ticket Collector/T.TE In Hindi) और टिकट कलेक्टर कैसे बने? को लेकर कोई सवाल हो तो, आप बेझिझक Comment Section में Comment कर पूछ सकते हैं।

अगर यह जानकारी पसंद आया हो तो, जरूर इसे Share कर दीजिए ताकि Ticket Collector/T.TE Kaise Bane बारे में सबको जानकारी प्राप्त हो।

Leave a Comment