NEFT क्या है NEFT Transfer, Timing से जुडी़ सभी जानकारियां

NEFT क्या है और कैसे काम करता है? NEFT Transfer करने की प्रक्रिया क्या है, NEFT किस विषय से संबंधित होता है, neft timings, neft full form, neft transfer time, neft meaning in hindi, neft limit कितना होता है, neft charges कितने लगते है , neft transfer timings, difference between neft and rtgs, what is neft in hindi, neft full form in banking ये सभी बातें और NEFT से जुडी़ सभी जानकारियां आपको इस पोस्ट में जानने को मिलेगी। आईये पढ़ते है NEFT के बारे में 

 

NEFT क्या है? – What is NEFT in Hindi

NEFT क्या है
NEFT क्या है

 

NEFT शब्द को आपने आमजीवन में बैंकिंग के समय सुना होगा। क्योंकि बैंकों में आये दिन ग्राहक को दी जाने वारी सुविधाओं में बदलाव किया जाता है जिसके लिये आपको उन बदलावों और उससे जुडी़ जानकारियों से जुडे़ रहना आवश्यक है। Online fund transfer के तीन मुख्य तरीके है| NEFT, RTGS & IMPS जिसमें से हम NEFT के बारे में विस्तार में जानेंगे।

 

NEFT की full form : National Electronic Funds Transfer (राष्ट्रीय इलैक्ट्रॉनिक निधि अंतरण) होती है। NEFT की शुरुआत 2005 में हुई थी| इसमें इलैक्ट्रॉनिक तरीके से कस्टमर अपने पैसे एक बैंक अकाउन्ट से दूसरे बैंक अकाउन्ट में भेज या प्राप्त कर सकता है। आज भी भारत में चलने वाली काफी सारी कंपनिया NEFT के जरिये ही कर्मचारियों के खातो में पेसे भेजती है। Online banking या Internet banking के ज़रिये अब हर छोटे काम के लिये बैंकों में बार बार भागकर जाने की आवश्यकता नहीं होती है। अब सभी काम इंटरनेट के माध्यम से अपने स्थान पर रहकर ही किया जा सकता है। इस प्रकार NEFT द्वारा आप किसी भी स्थान पर रहकर बिना बैंक जाये भी अपने दूसरे अकाउंट से पैसे भेज या प्राप्त कर सकते है। मगर ध्यान रखने वाली बात यह है कि जिन्हें आप NEFT के जरिये पैसे भेजना चाहते है उनकी बैंक ब्रांच भी NEFT Enabled होनी चाहिए|

 

NEFT, RTGS और IMPS के बीच अंतर- Difference Detween neft, rtgs and imps

NEFTRTGSIMPS
NEFT का Full Form नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फण्ड ट्रान्सफर है, यह एक इलैक्ट्रॉनिक फण्ड ट्रांसफर और ट्रांजेक्शन सिस्टम होता है। जिसमें एक अकाउंट से दूसरे अकाउंट में Electronic Way के द्वारा Fund Transfer किया जाता है।RTGS  का Full Form रियल टाइम ग्रॉस सेटलमेंट है,  इसके द्वारा फण्ड ट्रान्सफर करने से पैसा उसी समय ट्रान्सफर हो जाता है|IMPS का Full Form इमीडियेट मोबाइल पेमेंट सर्विस है , ये ऑनलाइन फण्ड ट्रान्सफर सिस्टम है जिसे नेशनल पेमेंट कॉर्पोरेशन ऑफ़ इंडिया द्वारा मैनेज किया जाता है

 

NOTE :NEFT और RTGS को रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया (RBI) द्वारा लॉन्च किया गया है, वहीं IMPS को नेशनल पेमेंट कॉर्पोरेशन ऑफ़ इंडिया (NPCI) द्वारा लॉन्च किया गया है|

 

NEFT कैसे काम करता है? (How does neft work)

NEFT पैसे लेन देन का विकल्प है मगर यह काम कैसे करता है? जब आप पैसे ट्रांसफर करने जाते हैं, तो आप NEFT Term सुविधा का नाम जरूर जानते हैं या यदि आप Net Banking को काम में ले रहे हैं, तो आपने NEFT का नाम जरूर सुना होगा। NEFT द्वारा आपना पैसा भेजना काफी आसान काम हो चुका है, तो आईये जानते है, NEFT किस प्रकार काम करता है

 

सक्रियकरण (Activation)

NEFT या RTGS Transaction करने के लिये इंटरनेट बैंकिंग को काम में लेने वाले लोगों के पास Third Party Transaction Activate कराना जरूरी होता है। जिसके बाद ही आप फण्ड ट्रांसफर करने को प्रक्रिया आगे शुरू कर पायेंगे। इसके अलावा जिस कस्टमर को आप इस प्रक्रिया द्वारा पैसे भैज रहे है, आपके पास उसकी पूरी डिटेल होनी चाहिये।

 

बेनिफिशरी (Beneficiary)

इस चरण के अंदर जब आप किसी अकाउन्ट को दूसरे अकाउन्ट से बेनिफिशरी की तरह जोड़ये हैं, तो उसको वेरीफाई करने में समय लगता है। मगर उस कस्टमर की सभी डिटेल बेनिफिशरी के तौर पर जोड़ जरूरी होता है। उन जरूरी डिटेल्स में बेनिफिशरी अकाउन्ट होल्डर का नाम, अकाउंट नंबर, बैंक और ब्रांच का नाम और जिस ब्रांच में पैसे भेजने है उस क्षेत्रिय ब्रांच का सही IFSC Code होना भी जरूरी है।

 

प्रोसेसिंग (Processing)

यह पूरी जानकारी ऐड करते ही अकाउन्ट की जांच प्रक्रिया शुरू होती है, जिससे verification में कुछ 12 से 24 घंटों का समय लगता है। जांच पूरी हो जाने के बाद आपका बेनिफिशरी अकाउंट सक्रिय हो जाता है। इसके बाद आप फंड से संबंधित किसी भी प्रकार का Transfer कर सकते हैं। आजकल बेनिफिशरी अकाउंट की जांच में अधिक समय नहीं लगता है।

 

स्थानानंतरण ( Transfer)

सबसे पहले Transfer Option में RTGS या NEFT में से NEFT का चुनाव करें। उसके बाद बेनिफिशरी का नाम, रकम राशि और Transfer Details बतायें। Details & Security Transaction Password देने के बाद Transfer Process शुरू हो जाती है। NEFT Transfer होने थोडा़ समय लग जाता है।

NEFT प्रक्रिया को Batch Wise Format में संचालित करते है, इसमें NEFT Enable Banks से पूरे भारतवर्ष में लेन देन की प्रक्रिया होती है। जिस कारण fund transfer में थोडा़ समय लग जाता है। किंतु यह पूर्ण काफी सुरक्षित भी मानी जाती है।

NEFT भारत में बैंक के खाताधारकों को यह सुगम सुविधा प्रदान करता है जिससे कि बैंक के ग्राहकों को बहुत सरलता से एक अकाउंट से दूसरे NEFT Enabled Bank A/C को अपनी पूंजी transfer कर सकता है। यह प्रक्रिया लगभग सभी बैंकों में समान होती है, फिर भी इस प्रक्रिया की बारीकियां अलग अलग बैंकों की अलग अलग हो सकती है।

NEFT Transfer कैसे करे पूरी जानकारी STEP By Step

RBI ( Reserve Bank Of India) के तहत NEFT एक राष्ट्रीय पैमेंट व्यवस्था है जो पैसे के लेन देन को बहुत आसान बनाता है। NEFT Transfer दो तरह से किया जा सकता है; Online और Offline

तो, हम यहां दोनों ही तरीकों के बारे में पूरी जानकारी बताते हैं, जिससे आपके लिये NEFT का इस्तेमाल करना काफी आसान हो सकता है|

 

NEFT Transfer के लिए ऑनलाइन प्रक्रिया

Online तरीके से फण्ड ट्रांसफर करने के लिये आपके पास इंटरनेट सुविधा अथवा बैंक से Net Banking का होना आवश्यक है। इस प्रक्रिया में Funds Transfer करने के लिये दी गयी Steps को Follow करें;

 

Step 1 : सबसे पहले आपको अपने बैंक अकाउंट की Net Banking Account सुविधा पर Log in करना होगा। यदि आपके पास Net Banking Account नहीं है तो, आप बैंक की आधिकारिक वेबसाईट पर जाकर Registration करा लें।

 

Step 2 : इसके बाद आपको Beneficiary को भुगतान भोगी अथवा Payee के हिसाब से जोड़ना होगा, वहां बेनिफिशरी का अर्थ होगा कि जिसको आप पैसे भेजना चाहते है। इस प्रक्रिया को करते समय आपको बेनिफिशरी से जुडी़ कुछ डिटेल्स बताना जरूरी होता है, जो Add New Payee के section में भरी जायेगी

जैसे : Account Number, Name, IFSC Code, Account Type इत्यादि …

Step 3 : जैसे ही Payee add हो जाता है आप NEFT को fund transfer mode के हिसाब से चुन सकते है।

 

Step 4 : इस step के बाद आपको जिसको पैसे भेजने है उस account को select करना होगा, फिर यहां आपको आदाता या Payee को Select करना होगा।

 

Step 5 : इसके बाद आपको जितनी धनराशि का भुगतान करना है उस Amount को Select करें, और सभी जरूरी विकल्प को भरें।

 

Step 6 : यह सारी जानकारियां भरने के बाद सबमिट के बटन को क्लिक कर, अपना भुगतान पूरा करें।

 

NEFT Transfer के लिए ऑफलाइन प्रक्रिया

Offline तरीके से अपना फण्ड ट्रांसफर करने के लिये आपको इंटरनेट सुविधा की या नेट बैंकिंग की भी कोई जरूरत नहीं है। यह पूरा काम आपको संबंधित बैंक में जाकर Manually करना होगा। इस प्रक्रिया को करने के लिये दी गयी Steps को Follow करें;

 

Step 1 : सर्वप्रथम संबंधित बैंक में जायें।

 

Step 2 : वहां जाकर आप वहां NEFT का form भरें। इस चरण के बाद ये following details अपने beneficiary के बारे में उस form में प्रदान करें :

जैसे : Name, Account Number, Bank Name, Branch, IFSC Code, Account Type, Account Number

Step 3 : वह Amount राशि भरें जितना आपको transfer करना है।

 

Step 4 : उसके बाद अपने भरे हुए form को submit कर दें। जिससे कि बैंक वाले कर्मचारी आपके फॉर्म को Authorize कर सकें आपके पैसे transfer करने के लिए।

 

Banking में NEFT Full Form क्या है

NEFT full form National Electronics Fund Transfer (राष्ट्रीय इलैक्ट्रॉनिक निधि अंतरण) होता है। ये एक पूरे भारत में मान्य Electronic Fund Transfer System है, जिससे customer अपनी धनराशि को एक बैंक अकाउंट से दूसरे बैंक अकाउंट में आसानी से सुरक्षित तरीके से भेज सकता है।

 

NEFT के क्या फायदे है- What are the advantages of NEFT

 

1 . NEFT सिस्टम के द्वारा कोई भी Corporation या Individual Person आदि बड़े ही आराम से पैसे एक account से दूसरे account में भेज सकते हैं।

2 . NEFT द्वारा Transfer- Transaction की प्रक्रिया एक दम सुरक्षित रहती है।

3 . इस सिस्टम प्रणाली में Receiver को कोई भी Additional Cost (अतिरिक्त शुल्क) नहीं देना होता है।

4 . यहाँ पर Beneficiary Customer (जिन्हें पैसे भेजे जाते हैं– Payee) को Fund Receive करने के लिए स्वयं Bank में जाने की जरूरत नहीं होती है और न ही किसी प्रकार की Paper Formalities को करने की आवश्यकता पड़ती है।

5 . NEFT में fees बहुत ही कम लगती है।

6 . Internet Banking के इस्तमाल द्वारा किसी भी स्थान पर रहकर बिना कही जाये, और कभी भी Fund Transfer किया जा सकता है। ये बहुत ही safe और secure होते हैं. और यदि कभी किसी कारणवश आपका Transaction Complete नहीं हो पाता है तो ऐसी स्थिति में आपको परेशान होने की या डरने की आवश्यकता नहीं है, क्योंकि ऐसे में आपका पैसा कहीं गायब नहीं होता है बल्कि आपके अपने फण्ड भेजने वाले अकाउंट में ही वापिस आ जाता है।

7 . ये Low Value Transaction के लिए ज्यादा Useful और बेनिफिशियल होता है।

8 . यहाँ प्रत्येक Batch एक‍ घंटे का होता है। जिससे समय की अधिक बाध्यता नहीं होती है।

 

NEFT Transfer के charges?

NEFT transfer के लिये हर राशि के लिये कुछ taxes लगना निर्धारित किया गया है; जिसके बारे में हम यहां पढेंगे। मगर ध्यान देने वाली बात यह है कि NEFT ट्रांजेक्शन के लिये Recipient Bank द्वारा आपको कोई भी शुल्क नहीं लगाया जाता है। लेकिन एक प्रेषक(sender) द्वारा जब fund receiver को फण्ड ट्रांसफर किया जाता है तो, भेजने वाले बैंक द्वारा कुछ चार्ज लगाये जाते हैं, आईये जानते हैं कि वो क्या और कितने चार्जेज़ होते हैं

 

Transaction AmountNEFT Charges
Amounts Rs 10000 तकRs 2.50 + Applicable GST
Amounts Rs 10000 से ऊपर और up to Rs 1 lakh तकRs 5 + Applicable GST
Amounts Rs 1 lakh से ऊपर और up to Rs 2 lakh तकRs 15 + Applicable GST
Amounts Rs 2 lakh से ऊपर और up to Rs 5 lakh तकRs 25 + Applicable GST
Amounts Rs 5 lakh से ऊपर और up to Rs 10 lakh तकRs 25 + Applicable GST

 

NEFT Transaction की Timing?

NEFT के काम करने की अगर बात करें तो, पहले NEFT सिस्टम एक निश्चित समय के लिये ही काम करता था और फिर अगले दिन उसी निर्धारित समय में चालू होता था। मगर यदि अभी के समय की बात करें तो NEFT System Hourly Batches में काम करता हैं इसलिए ये Service Centers Operational Hours के बीच काम करता हैं जिसकी टाईमिंग है (8:00 AM से 7:00 PM normal weekdays में और 8 am से 1 pm तक Saturdays को), इसके एक के बाद एक लगातार  काम करने के लिए 8 से 6 batches होते हैं ।

 

इसलिए पैसों को transfer किया जाता है इन निर्धारित दिनों में, Monday से Saturdays तक (बस महीने के 2nd और 4th Saturday को छोड़कर) 8:00 AM से 6:30 PM तक, इसके अलावा NEFT Transactions का कार्य Public और Bank holidays में भी नहीं हो पाता है। वर्तमान में इंटरनेट सुविधा द्वारा इंटरनेट बैंकिंग द्वारा होने वाले NEFT के काम करने की समय सीमा को देश के सभी बैंकों में पूरे 24 घंटे का कर दिया गया है ।

 

NEFT के द्वारा कौन  लोग fund transfer कर सकते है?

NEFT द्वारा fund transfer किसी भी Individual one, Firm,  Corporation etc. के द्वारा किया जा सकता है।  एक Bank Account से किसी दूसरे Bank Account को Fund Transfer करने के लिए ध्यान देने योग्य बात यह है कि Payee or Sender दोनों का ही उस बैंक में अकाउंट होना चाहिये और उस Bank Branch में NEFT Facility भी Enable होनी जरूरी है।

 

यदि किसी का Bank Branch में Bank Account न भी हो और तब भी यदि वो NEFT के द्वारा Fund Transfer करना चाहता है तो NEFT Instruction Slip को भर कर Fund Transfer कर सकता है। मगर NEFT के द्वारा इस प्रकार से Fund Transfer करने के लिए आप एक Transaction में अधिकतम 5 लाख रूपए तक की राशि ही Transfer कर सकते है।

 

NEFT के द्वारा कौन  लोग fund receive कर सकते है?

ठीक उसी प्रकार फण्ड प्राप्त करने लारे का Bank Branch में अकाउंट होना जरूरी होता है साथ ही Bank Branch में NEFT की सुविधा उपलब्ध होना जरूरी होती है।

 

NEFT Transfer Limit कितनी होती है?

NEFT द्वारा धनराशि ट्रांसफर करने की कोई न्यूनतम राशि तय नहीं होती है। अर्थात् आप 10 रूपये का अमाउंट भी एक बैंक खाते से दूसरे बैंक के खाते में स्थानान्तरित कर सकते हैं।

मगर यदि आप रिटेल कस्टमर हैं, तो आपकी NEFT की अधिकतम लिमिट 10 लाख रूपये ही होगी। वहीं HDFC में यह limit 25 Lakh रूपये होती है, मगर वही SBI बैंक ग्राहकों के लिये यह लिमिट 10 लाख रूपये ही होती है। NEFT की कोई transfer time limit नहीं होती है।

 

NEFT से जुडे़ हुये कुछ विशेष सवाल- जवाब in Hindi (FAQ)

 

NEFT transactions को Settle होने में कितना समय लग जाता है ?

NEFT की सामान्य प्रक्रिया पूरी करने के बाद फण्ड ट्रांजेक्शन/ ट्रांसफर को batch wise format में process करते हैं, इसमें 2 दिन तक का समय लग सकता है, उसके बाद आपके पैसे 2 वर्किंग डेज़ में ही क्रेडिट कर दिये जाते है।

 

क्या NEFT Process के लिये Bank IFSC Code का होना अनिवार्य होता है?

जी हां, बिना Bank branch IFSC Code के प्रक्रिया आगे बढ़ ही नहीं पायेगी। अतः आप सटीक IFSC Code को ही भरें।

 

क्या यह NEFT Facility हर जगह उपलब्ध होती है?

जी नहीं, ऐसा जरूरी नहीं है कि NEFT Facility हर बैंक में Enable / Available हो।

 

उम्मीद है आपको यह पोस्ट NEFT क्या है,NEFT Transfer और NEFT से जुडी़ सभी जानकारियां को पढ़कर अच्छा लगा होगा और हमारी यह पोस्ट what Is NEFT in hindi से जुडे़ आपके सभी Doubts क्लियर करने में सफल रही होगी, फिर भी अगर आपको कोई doubt रह गया हो तो, आप कमेंट बॉक्स में आकर पूछ सकते है।

 

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.