पाचन शक्ति कैसे बढ़ाएं? पाचन शक्ति मजबूत करने के कारगर उपाय – Strong Digestion Tips in Hindi

आज हम जानेंगे पाचन शक्ति कैसे बढ़ाए की पूरी जानकारी (improve Weak Digestive System in Hindi) के बारे में क्योंकि अगर हमारा सोचना सही है, तो आप इसीलिए अपनी पाचन शक्ति तेज करना चाहते हैं, क्योंकि आपकी पाचन शक्ति कमजोर है और इसके कारण आपका शरीर भी कमजोर है, क्योंकि पाचन शक्ति कमजोर होने पर खाना सही प्रकार से डाइजेस्ट नहीं होता है जिसके कारण गैस और एसिडिटी की प्रॉब्लम तो पेट में बन ही जाती है।

साथ ही हमें खाने के पौष्टिक तत्व भी नहीं मिल पाते हैं, जिससे हमारे शरीर का सही ढंग से विकास भी नहीं होता है, ना ही हमारी शरीर में धातुओं का निर्माण होता है। आज के इस लेख में जानेंगे कि पाचन शक्ति कैसे बढ़ाएं, how to strong digestive system in hindi, पाचन शक्ति कमजोर होने के लक्षण और कारण क्या होता है, आदि की सारी जानकारीयां विस्तार में जानने को मिलेंगी, इसलिये पोस्ट को लास्ट तक जरूर पढे़ं।

पाचन शक्ति क्या है? – What is Digestive Power in Hindi

Contents show
पाचन शक्ति कैसे बढ़ाएं
Digestive Power In Hindi

पाचन शक्ति के बारे में आप तभी समझ सकेंगे, जब आपको इसे आसान भाषा में समझाया जाए। जब आप कोई खाना खाते हैं, तो वह आपके पेट में पहुंचता है और फिर पेट में वह छोटे-छोटे टुकड़े में डिवाइड होता है। एक प्रकार से पेट में वह गलना चालू हो जाता है। हालांकि पेट में आपका खाना तभी तेज गति के साथ गलता है, जब आपकी पाचन शक्ति मजबूत होती है और अगर पाचन शक्ति मजबूत नहीं है तो पेट में खाने के गलने की रफ्तार कम हो जाती है जिसे पाचन शक्ति कमजोर होना कहा जाता है।

जब पेट में खाना नहीं पचता है तो वह एक ही जगह पर पड़ा रहता है और धीरे-धीरे खाना सड़ने लगता है। इसका सबसे बड़ा संकेत यह होता है कि अगर आपको बार-बार पाद आती है तो इसका मतलब यही है कि पाचन शक्ति आपके पेट में कमजोर है। इसके अलावा बदहजमी का सामना भी पाचन शक्ति कमजोर होने पर आपको करना पड़ता है। इसे ठीक करना इसलिए आवश्यक होता है क्योंकि बिना इसे ठीक किए हुए आप खाने के सभी पौष्टिक तत्व हासिल नहीं कर पाएंगे।

पाचन शक्ति कैसे बढ़ाए? – How to increase Digestion Power in Hindi

पाचन शक्ति कमजोर होने पर हम चाहे कितना भी पौष्टिक खाना क्यों ना खा ले या फिर हम चाहे कुछ भी क्यों न कर लें, वह सब व्यर्थ ही है। एक प्रकार से अगर पाचन शक्ति कमजोर है, तो हम जो भी खाते हैं वह किसी भी प्रकार से हमारी बॉडी को फायदा नहीं देता है।

पाचन शक्ति कमजोर होने के लक्षण क्या है?

  • पेट में लगातार गैस बनना
  • बदहजमी होना
  • शरीर कमजोर होना
  • शरीर ऊपर मांस ना चढ़ना
  • बॉडी में खून की कमी होना
  • आलस आना
  • हमेशा पेट भरा भरा रहना
  • खाने का मन ना करना
  • कम भूख लगना
  • आंखों में पीलापन आना
  • बालों का तेज गति के साथ टूटना

पाचन शक्ति कमजोर होने के कारण क्या है?

  • अधिक जंक फूड खाना
  • ज्यादा नमक खाना
  • ज्यादा चीनी खाना
  • ज्यादा तेल वाली चीजें खाना
  • एक बार में ही ज्यादा खाना खाना
  • कम पानी पीना
  • कसरत, योगा ना करना
  • नींद की कमी
  • पौष्टिक चीजें ना खाना
  • फाइबर की कमी
  • स्टेरॉयड वाली दवा लेना

पाचन शक्ति को मजबूत करने के लिए घरेलू उपाय – How to improve Digestion Naturally at Home in Hindi

Improve Digestion Naturally At Home In Hindi
Improve Digestion Naturally At Home In Hindi

यह आवश्यक नहीं है कि अगर आपकी बॉडी की पाचन शक्ति कमजोर हो गई है या फिर आपके खाने का पाचन सही प्रकार से नहीं हो पा रहा है, तो आप कोई दवाई लेकर के ही इसे ठीक करने का प्रयास करें। कमजोर पाचन शक्ति को फिर से ठीक करने के लिए कई घरेलू उपाय भी ऐसे हैं, जो काफी असरदार साबित होते हैं। हालांकि घरेलू उपाय काफी देर में काम करते हैं परंतु यह जड़ से समस्या को खत्म करने का काम करते हैं। लीजिए नीचे हमने आपके लिए पाचन शक्ति को बढ़िया करने के लिए घरेलू उपाय पेश किए हैं।

1. गुनगुना पानी पिएं

राजीव दीक्षित सर ने कहा है कि खाना खाने के बाद अगर कोई व्यक्ति तुरंत पानी पीता है या फिर खाना खाने के दरमियान बीच-बीच में वह पानी पीता है, तो इससे खाने का पाचन तो होता ही नहीं है, साथ ही पाचन शक्ति भी कमजोर हो जाती है।

ये भी पढ़ें : बवासीर क्या है? घर पर बवासीर की ट्रीटमेंट कैसे करें?

इसका प्रमुख कारण यह है कि, जब आप खाना खाने के दरमियान पानी पी लेते हैं, तो आपके पेट की अग्नि शांत पड़ जाती है। इसलिए खाना खाने के दरमियान पानी ना पिए और खाना खाने के 1 घंटे बाद तक पानी ना पिए। इसके बाद दिन भर में कम से कम 8 से 12 गिलास पानी अवश्य पिए। यह आपकी बॉडी को हाइड्रेट लगेगा और जहरीले तत्वों को भी आपकी बॉडी से बाहर निकाल फेकेगा।

2. थोड़ा-थोड़ा खाए

अपना मनपसंद खाना मिल जाने के बाद लोग एक ही बार में उसे दबा कर के खा लेते हैं इससे उन्हें स्वाद तो अवश्य मिल जाता है परंतु एक ही बार में हमारा पेट इतने अधिक खाने को नहीं पचा पाता है और उसमें से कुछ खाना सड़ने लगता है, जो पाचन शक्ति को कमजोर कर देता है। इसीलिए एक ही बार में ज्यादा खाना ना खाएं, बल्कि टाइम बाट करके थोड़ी थोड़ी मात्रा में खाना खाएं। इससे खाने का पाचन भी सही से हो जाएगा और आपको खाने में से बनने वाली धातु भी मिल जाएगी।

3. खाने को अच्छी तरह से चबाएं

कई लोगों की यह हैबिट होती है कि वह खाना मुंह में डालने के बाद उसे एक दो बार ही कूचते हैं और उसके बाद उसे सीधा निगल जाते हैं। ऐसा होने पर खाना सीधा खड़ा खड़ा ही पेट में जाता है जिसे पचने में टाइम लगता है परंतु अगर आप अपने मुंह में ही खाने को अच्छी तरह से चबाकर के खाएंगे, तो पेट में जाने के बाद उसका पाचन जल्दी से हो जाएगा, जिससे खाने के रेस आपको प्राप्त होंगे।

ये भी पढ़ें : सोनोग्राफी क्या है? सोनोग्राफी के प्रकार, टेस्ट और नुकसान क्या है? सोनोग्राफी टेस्ट क्यों और कैसे किया जाता है?

4. खाना खाने के बाद थोड़ा टहले

कुछ लोग तो इतने आलसी होते कि खाना खाने के बाद वह सीधा सो जाते हैं, वहीं कई लोग खाना खाने के बाद किसी एक ही जगह पर बैठकर के या तो पिक्चर देखते हैं या फिर ऑफिस का काम करते हैं। ऐसे मे भी खाने का पाचन नहीं होता है और पाचन शक्ति कमजोर हो जाती है। इसे ठीक करने के लिए खाना खाने के बाद आपको थोड़ी दूर तक टहलना चाहिए या फिर कुछ ऐसा काम करना चाहिए, जिसमे आपका शारीरिक बल लगे।

5. टाइम टू टाइम खाना खाए

कई लोग ऐसे होते हैं जो सुबह उठने के बाद 12:00 बजे के आसपास खाना खाते हैं। यह खाना खाने का सही समय नहीं होता है। अगर आप जल्दी खाना खा लेते हैं, तो इससे आपकी बॉडी को खाना पचाने का अच्छा टाइम मिल जाता है। इसीलिए सुबह उठने के बाद आपको 8:00 या 8:30 बजे तक खाना खा लेना चाहिए। इसके बाद अगर आपको भूख लगती है, तो आप 12:00 बजे भी खाना खा सकते हैं। रात का खाना आपको 9:00 बजे के आसपास खा लेना चाहिए।

6. विटामिन सी वाला भोजन ग्रहण करें

विटामिन सी वह तत्व होता है, जो आंखों के लिए फायदेमंद माना जाता है, साथ ही यह कमजोर पाचन प्रणाली को भी बढ़िया करने के काम में आता है। विटामिन सी आपको ब्रोकली, स्ट्रौबरी, नींबू, संतरा तथा अन्य खट्टी चीजों में भारी मात्रा में मिलता है। इन्हें अपने भोजन में शामिल करें। यह विटामिन सी की पूर्ति भी आपकी बॉडी में करेंगे और पाचन शक्ति को भी बढ़िया करने का काम करेंगे।

ये भी पढ़ें : प्रेगनेंसी टेस्ट किट क्या है? घर पर प्रेगनेंसी टेस्ट किट का इस्तेमाल कैसे करें?

7. अदरक खाए

जिंजरोल और शोगोल यह दो ऐसे तत्व है, जो अदरक में पाए जाते हैं, जो पाचन शक्ति को तेज करने का काम करते हैं। पाचन शक्ति को तेज करने के लिए आप अदरक को चाय में डालकर के पी सकते हैं या फिर अदरक को सुखा करके भी इसका सेवन कर सकते हैं अथवा सौंठ का पाउडर भी ले सकते हैं।

पाचन शक्ति बढ़ाने की आयुर्वेदिक दवा क्या है?

कुछ ऐसी दवाइयां होती हैं, जो काफी कम टाइम में ही आपकी पाचन शक्ति को सही कर देती हैं। हालांकि लंबे समय तक इन दवाइयों का सेवन करने से आपकी बॉडी को अन्य कई नुकसान होते हैं। यहां तक कि जब दवाई आप छोड़ देते हैं, तब आपकी पाचन शक्ति फिर से गड़बड़ हो जाती है।

इसीलिए लोग पाचन शक्ति को बढ़िया करने के लिए आयुर्वेदिक दवाइयों पर अपना भरोसा जताते हैं परंतु फिर भी उन्हें यह नहीं पता होता है कि ऐसी कौन सी आयुर्वेदिक दवाई है, जो पाचन शक्ति को बढ़िया कर सकती है। इसलिए हमने नेट से ढूंढ कर के पाचन शक्ति को मजबूत करने के लिए बेस्ट आयुर्वेदिक दवाइयों के नाम आपके लिए लाए हैं, जो कुछ इस प्रकार हैं।

  • पतंजलि दिव्य चूर्ण
  • पतंजलि मेदोहर वटी
  • हिमालया लिव-52 सिरप
  • हिमालया लिव-52 टेबलेट
  • बैद्यनाथ महामंजिष्ठादि काढा
  • पतंजलि सिंहनाद गुग्गुल
  • नरसिंह चूर्ण
  • बैद्यनाथ पंचसव
  • त्रिफला चूर्ण
  • पेट सफा चूर्ण

पाचन शक्ति बढ़ाने के लिए योग क्या है?

योगा में कई प्रकार के आसन होते हैं जिनके अलग अलग फायदे हमारी बॉडी को प्राप्त होते हैं। पाचन तंत्र को मजबूत करने के लिए भी योगा में कई प्रकार के आसनों का वर्णन है परंतु इससे पहले कि आप योगा के जरिए अपने पाचन तंत्र को मजबूत बनाने के बारे में सोचें आपको यह पता कर लेना चाहिए कि, आखिर वह कौन से योगासन है, जो वाकई में पाचन तंत्र को मजबूत करने के लिए प्रभावशाली हैं और जिन्हें आप कर सकते हैं। नीचे हमने कुछ ऐसे योगासन की लिस्ट पेश की है, जो वाकई में पाचन तंत्र को तेज करने का काम करते हैं।

  • परसव सुखासन
  • अर्धमत्स्येंद्रासन
  • सुपत मत्स्येंद्रासन
  • अपनासन
  • भुजंगासन
  • धनुरासन

पाचन शक्ति बढ़ाने के लिए व्यायाम – Best Exercises to improve Digestive System

जब आप कसरत करना चालू करते हैं, तो आपकी बॉडी में जो मांसपेशियां ढीली पड़ गई होती है उनमें खिंचाव उत्पन्न होने लगता है, जिसे स्ट्रैचिंग कहा जाता है और खींचाव उत्पन्न होने की अवस्था में मांसपेशियां बॉडी में गर्मी पैदा करती है। इससे हमें ज्यादा भूख लगने लगती है।

ये भी पढ़ें : ब्लैक फंगस क्या है और कैसे होता है? जानिए क्या हैं ब्लैक फंगस के लक्षण, इलाज, कारण और बचने के उपाय

इस प्रकार हमारी भूख कसरत करने के कारण बढ़ती है और हम ज्यादा खाना खाने लगते हैं और कसरत करने के कारण हमारे खाने का पाचन भी सही से होता है, क्योंकि कसरत पाचन प्रणाली को मजबूत करने में सहायक होता है। नीचे आपको कुछ ऐसी एक्सरसाइज के नाम दिए जा रहे हैं, जो वाकई में पाचन प्रणाली को स्ट्रांग करने में सहायक है

  • एब्स एक्सरसाइज
  • बेंच प्रेस
  • स्क्वाट्स
  • थाई एक्सरसाइज

पाचन शक्ति बढ़ाने से संबंधित अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

क्या वज्रासन करने से भी पाचन सिस्टम मजबूत बनता है?

हां

डाइजेस्टिव सिस्टम कैसे खराब होता है?

अधिक जंक फूड खाने के कारण या फिर ज्यादा तली भूनी चीज खाने के कारण

पाचन शक्ति खराब हो जाने पर क्या होता है?

एसिडिटी और गैस की प्रॉब्लम पेट में होती है।

क्या खाने पर पाचन शक्ति को स्ट्रांग किया जा सकता है?

रोजाना एक केला

पाचन शक्ति बढ़ाने के लिए कौन सी क्रिया सर्वाधिक उपयोगी है?

वज्रासन

पाचन तंत्र के लिए क्या खाना चाहिए?

पौष्टिक चीजें

विटामिन ई के लिए क्या खाना चाहिए?

खट्टी चीजें

खाना हजम कैसे करें?

सौंफ और अजवाइन का सेवन खाना हजम कर सकता है।

कमजोर पाचन तंत्र के लिए होम्योपैथिक दवा क्या है?

अल्फाल्फा टॉनिक, मदर टिंचर

पाचन शक्ति बढ़ाने की अंग्रेजी दवा क्या है?

साईंपॉन सिरप

निष्कर्ष

आशा है आपको पाचन शक्ति कैसे बढ़ाएं? के बारे में पूरी जानकारी मिल गई होगी। अगर अभी भी आपके मन में pachan tantra kaise thik kare (How to improve Digestion Naturally at Home in Hindi) और पाचन शक्ति बढ़ाने के लिए क्या करें को लेकर आपका कोई सवाल है तो आप बेझिझक कमेंट सेक्शन में कमेंट करके पूछ सकते हैं। अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे शेयर जरूर करें ताकि सभी को pachan tantra kaise thik kare में जानकारी मिल सके।

4.3/5 - (6 votes)

1 thought on “पाचन शक्ति कैसे बढ़ाएं? पाचन शक्ति मजबूत करने के कारगर उपाय – Strong Digestion Tips in Hindi”

Leave a Comment