सेव और सेव ऐस में अंतर क्या है? – Difference between Save and Save As in Hindi

आज हम जानेंगे सेव और सेव ऐस में अंतर क्या है (What is difference between Save and Save As in Hindi), के बारे में पूरी जानकारी। अगर आप कंप्यूटर, लैपटॉप का इस्तेमाल करते हैं, तो आपने उसमें बहुत सारे फीचर्स का भी इस्तेमाल किया होगा, साथ ही कंप्यूटर, लैपटॉप में बहुत सारे ऑप्शन के बारे में भी आपको पता होगा। उन्हीं में से अक्सर दो ऑप्शन आपकी स्क्रीन पर कई बार आए होंगे, जो काफी आपस में मिलते जुलते हैं। वह दो ऑप्शन सेव और सेव ऐस है।

यह दोनों ऑप्शन लगभग एक जैसा ही काम करते हैं, परंतु इसके बावजूद भी इन दोनों में कुछ ना कुछ अंतर अवश्य होता है, जिसके बारे में अधिकतर लोगों को पता नहीं होता है। यहां तक कि जो कंप्यूटर चलाने के एक्सपर्ट है, उन्हें भी यह नहीं पता होता है कि सेव और सेव ऐस मे क्या अंतर है। इसीलिए इस आर्टिकल के द्वारा हम आपको सेव और सेव ऐस मे क्या अंतर है, के बारे में जानकारी दे रहे हैं। तो आज के लेख में हमसे जुड़े रहे और जाने सेव और सेव ऐस से जुड़ी हुई सभी जानकारियां विस्तार से वो भी हिंदी में, इसलिए लेख को अंत तक जरूर पढ़े।

सेव क्या है? – What is Save in Hindi?

save aur save as me antar kya hai
सेव और सेव ऐस में अंतर क्या है
सेव और सेव ऐस में अंतर क्या है

इसे समझाने के लिए हम आसान से शब्दों का इस्तेमाल करेंगे। मान लीजिए आप ने कंप्यूटर में कोई फाइल बनाई हुई है या फिर किसी डॉक्यूमेंट को क्रिएट किया हुआ है, तो कंप्यूटर में उसे सही प्रकार से संभाल कर रखने के लिए दो प्रकार के ऑप्शन आपको मिलते हैं। पहला होता है सेव और दूसरा होता है सेव एस। इस प्रकार कंप्यूटर में पहली बार किसी फाइल को सेव करने के लिए सेव बटन का इस्तेमाल किया जाता है।

इसके लिए आपको कंप्यूटर की शॉर्टकट की Ctrl + S का इस्तेमाल करना पड़ता है। इसका इस्तेमाल करके आपने जो फाइल कंप्यूटर में बनाई हुई है, उसे आप कंप्यूटर के अंदर ही सेव कर सकते हैं। यहां पर आपकी जानकारी के लिए हम बताना चाहते हैं, कि माइक्रोसॉफ्ट वर्ड मे जब किसी फाइल को आप पहली बार तैयार करते हैं, तो उसे सेव करने के लिए आप Ctrl + S बटन का इस्तेमाल कर सकते हैं।

इसके अलावा फाइल को लगातार कंटिन्यू सुरक्षित करने के लिए आप Ctrl + S बटन का इस्तेमाल करेंगे। फाइल को सेव करने के लिए अथवा से सेव एस करने के लिए आप Ctrl + S बटन का इस्तेमाल कर सकते है, परंतु कुछ जगह पर परिस्थिति अलग-अलग होती है और यह परिस्थिति आपको ही देखनी पड़ती है कि आप किसी फाइल को पहली बार कंप्यूटर में सेव कर रहे हैं या फिर किसी ऐसी फाइल को आप कंप्यूटर में सेव कर रहे हैं, जो पहले से ही बनी हुई है।

ये भी पढ़े: पाइल्स फिशर और फिस्टुला में अंतर क्या है? – Difference between Piles Fissure and Fistula in Hindi

सेव ऐस क्या है? – What is Save As in Hindi?

यह कंप्यूटर का बहुत ही शानदार फीचर होता है और इसके जरिए आपने अपने कंप्यूटर में जो पुरानी फाइल को बना करके रखा है, उसे आप नए नाम के साथ सेव कर सकते हैं या फिर नई इनकोडिंग अथवा नए फाइल फॉर्मेट में फिर से सेव कर सकते हैं। सेव और सेव ऐस दोनों थोड़ा बहुत आपस में सामान ही होते हैं, परंतु इसके बावजूद भी इसमें थोड़ा-सा डिफरेंस होता है। जब आप किसी शब्द को डॉक्यूमेंट के पेज पर पहली बार टाइप करते हैं, तो उस डॉक्यूमेंट को नाम देने के लिए और उसे स्थान देने के लिए Save As बटन का इस्तेमाल किया जाता है। इसके द्वारा डॉक्यूमेंट कंप्यूटर में सेव होता है।

ये भी पढ़े: शिया और सुन्नी मुसलमान में अंतर क्या है? – Difference between Shia and Sunni Musalmaan in Hindi

सेव और सेव ऐस में अंतर – Difference between Save and Save As

  1. सेव बटन का इस्तेमाल हम कंप्यूटर में किसी फाइल को हमेशा के लिए स्टोर करने के लिए करते हैं और सेव ऐस बटन का इस्तेमाल हम कंप्यूटर में जो फाइल पहले से ही बनाई गई है, उसे नए नाम के साथ सेव करने के लिए करते हैं।
  2. जो फाइल नई है, उसे सिस्टम में स्टोर करने के लिए सेव बटन का इस्तेमाल होता है और जो फाइल पुरानी है, उसे नया नाम देने के लिए या फिर नए फॉर्मेट में सेव करने के लिए अथवा नई इनकोडिंग के साथ सिस्टम में स्टोर करने के लिए सेव एस बटन का इस्तेमाल होता है।
  3. किसी भी फाइल को एडिट करने के बाद दोबारा से उसे सेव करने के लिए सेव बटन का इस्तेमाल होता है। ऐसा करने पर वह पुरानी फाइल मॉडिफाइड हो जाती है और मॉडिफाइड फार्म में स्टोर हो जाती है परंतु जब हम सेव ऐस बटन पर क्लिक करते हैं, तो जो पुरानी फाइल होती है, उसे एडिट करके हम किसी नई लोकेशन पर या फिर नए नाम के साथ स्टोर कर सकते हैं।

निष्कर्ष

आशा है आपको सेव और सेव ऐस में अंतर क्या है के बारे में पूरी जानकारी मिल गई होगी। अगर अभी भी आपके मन में सेव और सेव ऐस में अंतर क्या है (Difference between Save and Save As in Hindi) को लेकर आपका कोई सवाल है तो आप बेझिझक कमेंट सेक्शन में कमेंट करके पूछ सकते हैं। अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी हो, तो इसे शेयर जरूर करें ताकि सभी कोसेव और सेव ऐस में अंतर क्या है के बारे में जानकारी मिल सके।

4.5/5 - (2 votes)

यह टीम लेख की गुणवत्ता की जांच करके आप तक नई जानकारी पहुंचाने का काम करती है।

Leave a Comment