ईमेल और जीमेल में क्या अंतर हैं? – Difference between an Email and Gmail in Hindi

आज हम जानेंगे ईमेल और जीमेल में क्या अंतर हैं (Difference between Email and Gmail in Hindi), के बारे में पूरी जानकारी। जिन लोगों के पास कंप्यूटर या फिर लैपटॉप है अथवा स्मार्टफोन है, वह अपने स्मार्टफोन में ईमेल अथवा जीमेल का इस्तेमाल करते ही हैं। जीमेल गूगल का ही प्रोडक्ट है जो वेबसाइट के तौर पर भी उपलब्ध है और एप्लीकेशन के तौर पर भी उपलब्ध है। इसके अलावा आप ई-मेल तैयार करने के लिए विभिन्न अन्य प्लेटफार्म का इस्तेमाल कर सकते हैं।

इन दोनों के ही जरिए हम ऑडियो, फोटो, वीडियो, टेक्स्ट और इमेज दूसरे किसी व्यक्ति के साथ शेयर कर सकते हैं, साथ ही रिसीव भी कर सकते हैं। ईमेल और जीमेल सुनने में तो एक ही जैसा लगता है परंतु इन दोनों में कुछ डिफरेंस अवश्य हैं। इस आर्टिकल के द्वारा हम ईमेल और जीमेल में क्या अंतर है, इस बात को क्लियर करने का प्रयास कर रहे हैं। इसलिए ईमेल और जीमेल की सारी जानकारी के बारे में विस्तार से जानने के लिए, इस लेख को अंत तक पढ़े।

ईमेल क्या है? – What is Email in Hindi?

Difference between an Email and Gmail in Hindi
ईमेल और जीमेल में क्या अंतर हैं

ईमेल का पूरा नाम इलेक्ट्रॉनिक मेल होता है, जिसका सीधा-सा अर्थ यही है कि जिस लेटर को इलेक्ट्रॉनिक जरिए से सेंड किया जाता है या फिर रिसीव किया जाता है उसे ईमेल कहते हैं। ईमेल भेजने के लिए पहले के टाइम में याहू का इस्तेमाल होता था परंतु गूगल मेल के लॉन्च होने के बाद अधिकतर लोग गूगल मेल का इस्तेमाल अब करने लगे हैं। याहू मेल, हॉटमेल और जीमेल की सहायता से आप ईमेल भेज सकते हैं और रिसीव कर सकते हैं।

बात करें अगर ईमेल के द्वारा हम क्या भेज सकते हैं, इसके बारे में तो अगर हमारे पास कोई डॉक्यूमेंट या फिर कोई भी इलेक्ट्रॉनिक फाइल उपलब्ध है, जिसे हम अपने स्मार्टफोन में देख सकते हैं या फिर कंप्यूटर में देख सकते हैं तो उस डॉक्यूमेंट या फिर इलेक्ट्रॉनिक फाइल को हम ईमेल के जरिए दूसरे व्यक्ति के ईमेल आईडी पर भेज सकते हैं। इसके अलावा दूसरा व्यक्ति भी हमें कोई भी इलेक्ट्रॉनिक फाइल या फिर डॉक्यूमेंट भेज सकता है।

ये भी पढ़े: रैम और रोम में क्या अंतर है?

इसके लिए उस व्यक्ति के पास हमारी ईमेल आईडी होनी चाहिए। आपको हम यह भी बता दें कि आप एक ही फोन नंबर पर 4-5 ईमेल आईडी बना सकते हैं। कुछ लोग तो यह भी कहते हैं कि एक ही फोन नंबर पर 10-12 ईमेल आईडी भी बनाई जा सकती है। वर्तमान के समय में ईमेल आईडी बनाने का मौका विभिन्न प्रकार की कंपनियां देती है। इसमें प्रमुख तौर पर गूगल का नाम आता है जिसके जरिए आप जीमेल आईडी बना सकते हैं।

वही याहू मेल के जरिए आप याहू मेल आईडी बना सकते हैं और माइक्रोसॉफ्ट के जरिए आप हॉटमेल या फिर आउटलुक की आईडी बना सकते हैं। इसके अलावा विभिन्न प्रकार के देशों में उनकी अलग-अलग ईमेल आईडी सर्विस देने वाली कंपनी मौजूद है, जैसे कि चाइना में यांडेक्स नाम की कंपनी ईमेल आईडी बनाने की सुविधा देती है। ई-मेल के आविष्कार के बारे में बात करें तो साल 1971 में रे टॉमलिंसन नाम के व्यक्ति के द्वारा ईमेल का आविष्कार किया गया था।

ईमेल आईडी के फायदे के बारे में बात करें तो यह बातचीत करने का बहुत ही अच्छा तरीका है। इसके जरिए आप अपने घर बैठे ही स्मार्ट फोन की सहायता से किसी भी दूसरे व्यक्ति को मैसेज भेज सकते हैं और दूसरे व्यक्ति से मैसेज प्राप्त भी कर सकते हैं। ई-मेल के जरिए आप जो भी मैसेज भेजते हैं, वह बिल्कुल सेफ रहता है, क्योंकि यह इलेक्ट्रॉनिक फॉर्मेट में सामने वाले को प्राप्त होता है और ईमेल, मेल सर्वर पर सिक्योर रहता है।

ईमेल सर्विस का इस्तेमाल करने के लिए आपको ₹1 भी खर्च करने की जरूरत नहीं होती है, क्योंकि ईमेल अकाउंट बनाने के लिए आपको कोई भी पैसे नहीं देने पड़ते हैं। यह बिल्कुल फ्री में बन जाता है, साथ ही ईमेल अकाउंट तैयार करने के बाद आपको ईमेल भेजने के लिए कोई भी पैसे नहीं देने पड़ते हैं। यह सभी बिल्कुल मुफ्त होता है। ई-मेल के जरिए आप फोटो, म्यूजिक, वीडियो, फाइल और विभिन्न प्रकार के डॉक्यूमेंट भेज सकते हैं साथ ही आप जितना चाहे उतना लंबा डॉक्यूमेंट भेज सकते हैं।

ये भी पढ़े: वारंटी और गारंटी में क्या अंतर है?

जीमेल क्या है? – What is Gmail in Hindi?

जीमेल एक वेबसाइट है, जिसे गूगल के द्वारा तैयार किया गया है और वर्तमान के समय में लोग ईमेल भेजने के लिए सबसे ज्यादा गूगल की जीमेल सर्विस का ही इस्तेमाल करते हैं, क्योंकि यहां पर ईमेल को भेजना और ईमेल को रिसीव करना बहुत ही सरल है। जब जीमेल की स्टार्टिंग हुई थी तब इसकी स्टार्टिंग में गूगल के जो ऑफिसर थे, वहीं इसका यूज कर सकते थे परंतु साल 2004 में 1 अप्रैल के दिन दुनिया भर की जनता के लिए इसे इस्तेमाल करने की घोषणा की गई।

विकिपीडिया के नजरिए से देखा जाए तो तकरीबन 1.2 अरब लोग साल 2017 में जुलाई के महीने तक जीमेल का इस्तेमाल करते थे और लगातार इसकी संख्या बढ़ती ही जा रही है। अधिकतर लोग अपने स्मार्टफोन या फिर कंप्यूटर में जीमेल आईडी का ही इस्तेमाल करते हैं। इसके अलावा एक इंटरेस्टिंग बात यह भी है कि गूगल की जीमेल एप्लीकेशन को दुनिया भर में अभी तक 1 अरब से भी अधिक बार लोगों ने अपने डिवाइस में इंस्टॉल किया है।

साल 2014 के आसपास में गूगल के द्वारा जीमेल एप्लीकेशन को लॉन्च किया गया था और बता दे कि इसके इतने अधिक डाउनलोड होने का मुख्य कारण यह है कि जीमेल दुनिया की कई भाषाओं को सपोर्ट करता है। एक अंदाज के मुताबिक जीमेल के अंदर 72 भाषाएं सपोर्टिंग लैंग्वेज के तौर पर उपलब्ध है। इसलिए दुनिया के अधिकतर देशों के लोग जीमेल एप्लीकेशन का ही इस्तेमाल ईमेल के लिए करते हैं और अब तो अधिकतर स्मार्ट फोन और कंप्यूटर में जीमेल एप्लीकेशन पहले से ही इनबिल्ट हो करके आ रही है।

इससे लोगों को अलग से जीमेल एप्लीकेशन को डाउनलोड करने की आवश्यकता नहीं पड़ती है। जीमेल एप्लीकेशन का इस्तेमाल करना बहुत ही आसान है। इस एप्लीकेशन के अंदर बस आपको अपने फोन नंबर का इस्तेमाल करते हुए अपनी ईमेल आईडी बनानी होती है। इस प्रक्रिया को करने में मुश्किल से 1 से लेकर के 2 मिनट का समय लगता है। इतने में ही जीमेल एप्लीकेशन पर आपकी ईमेल आईडी बन जाती है, उसके बाद आप किसी भी व्यक्ति को ईमेल भेज सकते हैं, साथ ही ईमेल रिसीव भी कर सकते हैं।

इसके अलावा आप किसी भी दूसरे डिवाइस में अपनी जीमेल आईडी और पासवर्ड का इस्तेमाल करके भी लॉगिन कर सकते हैं और कहीं से भी अपनी जीमेल आईडी को एक्सेस कर सकते हैं। जी-मेल आपको टू-स्टेप ऑथेंटिकेशन का भी ऑप्शन देता है, जो बिना आपकी परमिशन के आपकी जीमेल आईडी में लॉगिन करने की प्रक्रिया को काफी मुश्किल बनाता है। इस प्रकार से इसका सिक्योरिटी सिस्टम भी बहुत ही शानदार और कमाल का है।

ये भी पढ़े: लोकसभा और राज्यसभा में क्या अंतर है?

ईमेल और जीमेल में अंतर – Difference between an Email and Gmail in Hindi

ईमेल और जीमेल में क्या अंतर हैं 1
  • इन दोनों में अंतर के बारे में बात करें तो ईमेल किसी भी डिवाइस के द्वारा भेजा गया एक मेल होता है और जीमेल, गूगल के द्वारा बनाया गया है जो कि एक वेबसाइट है।
  • ईमेल और जीमेल में, जीमेल हमे मुफ्त में ईमेल आईडी बनाने देता है और हम उस ईमेल आईडी से ईमेल सर्विस को इस्तेमाल करते है।
  • ईमेल और जीमेल में, जीमेल एक सर्विस है, जिसके जरिए हम ईमेल का प्रयोग करते है।

निष्कर्ष

आशा है आपको ईमेल और जीमेल में क्या अंतर हैं के बारे में पूरी जानकारी मिल गई होगी। अगर अभी भी आपके मन में ईमेल और जीमेल में क्या अंतर हैं (What is the difference between an Email and Gmail in Hindi) को लेकर आपका कोई सवाल है, तो आप बेझिझक कमेंट सेक्शन में कमेंट करके पूछ सकते हैं। अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी हो, तो इसे शेयर जरूर करें ताकि सभी को ईमेल और जीमेल में क्या अंतर हैं के बारे में जानकारी मिल सके।

आपको हमारा यह लेख कैसा लगा?

यह टीम लेख की गुणवत्ता की जांच करके आप तक नई जानकारी पहुंचाने का काम करती है।

Leave a Comment