TGT और PGT Kya Hai?, TGT aur PGT Kaise Kare? TGTऔर PGT के लिए Eligibility,Exam और Salary की पूरी जानकारी हिंदी में

TGT Kya Hai? PGT Kya Hai? PGT और TGT Kaise Kare? TGT And PGT Full Details in Hindi भारत में हरेक लोगो का सपना होता है कि वे अच्छी सरकारी या फिर अच्छे ओहदे पर नौकरी मिले और भारत में ऐसे कई डिपार्टमेंट है जिसमे जॉब करना बहुत से लोगो का सपना होता है।

इसी डिपार्टमेंट में से एक सेक्टर है एजुकेशन, आज ज्यादातर लोग शिक्षण क्षेत्र में अपना कैरियर बनाना चाहता है। यदि आपने भी अपना ग्रेजुएशन डिग्री पूरा कर लिया है और बीएड भी कंप्लीट कर लिया है तो यह आर्टिकल आपके लिए है।

आज के का आर्टिकल में TGT (Trained Graduate Teacher) और PGT के बारे में पूरी जानकारी देने वाला हूं। यदि आप जानना चाहते है Trained Graduate Teacher Meaning in Hindi, TGT और PGT Kya hota hai?, TGT और PGT Kaise kare? और अपना कैरियर Teacher में बनाना चाहते है तो इसे जरूर पढ़े।

TGT क्या होता है – What is TGT (Trained Graduate Teacher) Information in Hindi?

TGT aur PGT Kaise Kare
TGT aur PGT Kaise Kare

TGT means “Trained Graduate Teacher” होता है| इसके नाम से ही पता चलता है कि आपने टीचर की ट्रेनिंग ले ली है और आपकी ग्रेजुएशन भी पूरी हो चुकी है। वैसे भी TGT कोई कोर्स नहीं है।

आसन शब्दो मै बताए तो TGT का मतलब होता है कि, आपने ग्रेजुएट पूरी कर ली है और आपने एजुकेशन ट्रेनिंग बीएड भी पूरा कर लिया है तो आपने TGT पूरा कर लिया है और इसको TGT कहते है।

TGT के तहत आप 10वी कक्षा तक बच्चो को पढ़ाई करा सकते है।

TGT का फुल फॉर्म क्या होता है? – What is TGT Full Form in Hindi?

TGT : TRAINED GRADUATE TEACHER

TGT का Full FormTrained Graduate Teacher होता है। हिंदी में TGT का फुल फॉर्म प्रशिक्षित स्नातक शिक्षक होता है|

यहां तक आपने TGT यानी TRAINED GRADUATE TEACHER के बारे में जाना। यहां से अब आगे जानते है PGT के बारे में।

PGT क्या होता है – What is PGT (Post Graduate Teacher) Information in Hindi?

PGT means “Post Graduate Teacher” होता है| आसन शब्दो मै बताए तो “PGT का मतलब होता है कि, आपने पोस्टग्रेजुएट पूरी कर ली है और आपने एजुकेशन ट्रेनिंग बीएड भी पूरा कर लिया है तो आपने PGT पूरा कर लिया है और इसको PGT कहते है।

PGT करने के बाद आप आसानी से आप 10th क्लास से 12th क्लास तक के बच्चों को पढ़ा सकता है.

PGT का फुल फॉर्म क्या होता है? – What is PGT Full Form in Hindi?

PGT : POST GRADUATE TEACHER

PGT का Full FormPost Graduate Teacher होता है। हिंदी में PGT का फुल फॉर्म पोस्ट ग्रेजुएट टीचर होता है|

दोस्त अभी तक जाना TGT और PGT के बारे में BASIC जानकारी, यदि आप इस को करना चाहते है तो इसकी जानकारी नीचे दी गई है।

TGT और PGT कैसे करे? – How to do TGT and PGT Teacher information in Hindi

TGT कैसे करे? (How to do TGT)

TGT करने के लिए आपको किसी भी विषय में ग्रेजुएट होना जरूरी है। यदि आप आगे जाकर Math विषय को पढ़ना चाहते ए तो आपको अपनी ग्रेजुएशन मैथ्स विषय में पूरी होनी चाहिए।

ग्रेजुएट करने के बाद आपको बीएड करना है। जब आप बीएड को पास कर देते है तो आपने TGT यानी Trained Graduate Teacher पूरा कर लिया है।

PGT कैसे करे? (How to do PGT)

PGT करने के लिए आपको किसी भी अपने विषय में पोस्ट ग्रेजुएट होना जरूरी है बाद में आपको बीएड करना होगा। जब आप पोस्ट ग्रेजुएट और बीएड दोनों की डिग्री हासिल कर लेते है तो आप एक PGT यानी POST GRADUATE TEACHER बन गए।

TGT और PGT के लिए पात्रता क्या है? What is the Eligibility for TGT And PGT?

TGT और PGT के लिए Eligibility की जानकारी नीचे दी गई है…

TGT और PGT की परीक्षा देने के लिए आपको आपके विषय में ग्रेजुएट और पोस्ट ग्रेजुएट, बीएड की डिग्री और ctet का प्रमाणपत्र होना चाहिए। TGT परीक्षा देने के बाद जब आप टीचिंग के लिए जाते है तो आप सिर्फ 6 से लेकर 10वी कक्षा तक ही पढ़ा सकते है। यदि आपने PGT बने है तो आप 10th क्लास से लेकर 12th तक के बच्चो को पढ़ा सकते है।

TGT And PGT Exam Pattern

TGT And PGT परीक्षा का पैटर्न दूसरे एग्जाम की तरह होता है जिसमे सबसे पहले लेखन परीक्षा और बाद में इंटरव्यू लिया जाता है। लेखन परीक्षा में भी दो पार्ट होते है। जिसमे सबसे पहले पार्ट में जनरल अंग्रेजी और जनरल हिंदी के पार्ट होते है। जबकि दूसरे पार्ट में General Knowledge & Current Affairs, Reasoning Ability, Computer Literacy, Pedagogy होते है।

लेखन परीक्षा पूरी होने के बाद उम्मीवारों का इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है। जो 60 मार्क्स का होगा है। लेखन और इंटरव्यू के बाद सभी उम्मीदवारों का एक merit list आता है, बाद म उनका चयन किया जाता है।

What Is The Salary Of Tgt Teachers

TGT teacher बनने बाद आप आसानी से 34400 – 46400 रू की सेलरी पा सकते है। यह सेलरी आपको 7वे पगार पंच के मुजब आपको दी जाएगी।

What Is The Salary Of PGT Teachers

PGT teacher बनने बाद आप आसानी से Rs. 60,000/-( New recruits) to Rs.1,15,000/- (Senior Most)  की सेलरी पा सकते है। यह सेलरी आपको 7वे पगार पंच के मुजब आपको दी जाएगी।

निष्कर्ष

आज के इस आर्टिकल में आपने Trained Graduate Teacher And Post Graduate Teacher के बारे में जानकारी जानी। TGT And PGT क्या है? और कैसे TGT And PGT कर सकते है और इसके लिए योग्यता क्या है और इससे जुड़ी जानकारी देने की कोशिश की है।

मुझे उम्मीद है कि आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा। इस आर्टिकल से जुड़े कोई सवाल है तो आप नीचे कॉमेंट बॉक्स में जरूर बताए।

1 thought on “TGT और PGT Kya Hai?, TGT aur PGT Kaise Kare? TGTऔर PGT के लिए Eligibility,Exam और Salary की पूरी जानकारी हिंदी में”

Leave a Comment