मास्टर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन क्या है? MBA (Master of Business Administration) Course कैसे करें? Full Form, Qualification, Admission Process, Career, Salary, Syllabus, Fees, Entrance Exam, Scope आदि से जुड़ी सभी जानकारी हिंदी मे

आज हम जानेंगे मास्टर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन कोर्स (MBA Course) कैसे करें पूरी जानकारी (How To Do MBA (Master of Business Administration) Course Details In Hindi) के बारे में क्योंकि आज भारत का हर छात्र अपने करियर को लेकर बहुत चिंतित है। उनके दिमाग में हमेशा एक सवाल रहता है कि उन्हें कौन सा कोर्स करना चाहिए ताकि उन्हें भविष्य में नौकरी पाने के लिए ज्यादा भटकना न पड़े। एमबीए भारत में सबसे लोकप्रिय स्नातकोत्तर Course में से एक है। MBA अन्य postgraduate courses से काफी अलग है। यह कोर्स आपके करियर को सफल बनाने के लिए बहुत फायदेमंद है।

आज के इस लेख में जानेंगे कि MBA Course Kya Hota Hai, MBA Course के लिए Qualifications, MBA Meaning In Hindi, MBA Course Kaise Kare, MBA (Master of Business Administration) Course के लिए Eligibility, MBA Course के लिए Admission Process, बैचलर ऑफ डेंटल सर्जरी कोर्स के लिए तैयारी कैसे करें, MBA Entrance Exams, MBA Course की Fees, Master of Business Administration Course करने के बाद Job And Career Opportunity, MBA Course के बाद Salary, आदि की सारी जानकारीयां विस्तार में जानने को मिलेंगी, इसलिये पोस्ट को लास्ट तक जरूर पढे़ं।

एमबीए क्या होता है? – What is MBA (Master of Business Administration) Course Information in Hindi

विषय-सूची

Mba Course Details In Hindi
Mba Course Details In Hindi

MBA यानी Master of Business Administration एक 2 साल का postgraduate course है जो छात्रों द्वारा चुना जाने वाला सबसे लोकप्रिय कोर्स है। ये कोर्स छात्रों को technical, managerial और leadership skills सिखाते हैं। MBA Course आपके skill development में बहुत मदद करता है। आप अपने graduate के बाद MBA Course कर सकते हैं। इस कोर्स में किसी भी अन्य स्नातकोत्तर पाठ्यक्रम यानि Postgraduate course की तुलना में अधिक scope है।

MBA का फुल फॉर्म क्या होता है? – What Is MBA Full Form In Hindi?

MBA का Full Form Master of Business Administration होता है। हिंदी में MBA का फुल फॉर्म मास्टर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन होता है।

एमबीए में प्रवेश कैसे प्राप्त करें – How to Get Admission in Master of Business Administration (MBA) Course

MBA में admission के लिए आपको कॉलेज के मानदंडों को पूरा करना होगा, तभी आप MBA entrance exam के लिए आवेदन कर सकते हैं। MBA में admission पाने के लिए पहले आपको undergraduate course करना होता है। यदि आप अपना undergraduate course की degree minimum 50% marks के साथ पूरी कर चुके है तो, आप MBA की entrance exam के लिए जरूर apply कर सकते हैं। एमबीए में प्रवेश ज्यादातर आपके graduation के अंकों के आधार पर होते हैं। आप प्रवेश के लिए डायरेक्ट कॉलेज में जा सकते हैं या ऑनलाइन फॉर्म भी जमा कर सकते हैं।

मास्टर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन के लिए प्रवेश परीक्षा – Entrance Exam for Master of Business Administration (MBA)

MBA में प्रवेश के लिए कुछ entrance exam होती है, जिसमें आपको किसी एक के लिए पहले से तैयारी करनी होती है।

  • CAT (Common Admission Test)
  • MAT (Management Aptitude Test)
  • CMAT (Common Management Aptitude Test)
  • IIFT (Indian Institute of Foreign Trade) etc. 
  • XAT
  • NMAT
  • GMAT
  • GMAT
  • TANCET
  • MAH CET

एमबीए कोर्स के लिए योग्यता – Qualification/Eligibility For Master of Business Administration (MBA) Course

  • MBA एक postgraduate course है, तो आपको पहले graduation करना होगा।
  • आप graduation किसी भी stream में कर सकते हैं।
  • MBA में admission के लिए undergraduate level पे आपके marks minimum 50% होने चाहिए।
  • लेकिन वहीं भारत के कुछ top Colleges 60% marks तक का भी demand कर सकते हैं।
  • आरक्षित श्रेणी के छात्रों के लिए, कुल अंक में न्यूनतम स्कोर 45 प्रतिशत है
  • SC/ST candidates वाले students के marks minimum 45% तक होने चाहिए।
  • MBA में admission आपके entrance exam clear करने के बाद ही होते हैं।
  • अंतिम वर्ष के Graduation उम्मीदवार भी एमबीए के लिए आवेदन करने के लिए पात्र हैं

मास्टर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन कोर्स की फीस – MBA (Master of Business Administration) Course Fees

MBA Course की Fees किसी भी अन्य Postgraduate Course से थोड़ी अधिक है। एमबीए कोर्स आपको उच्च वेतन के साथ अधिक नौकरी देता है। भारत में इस कोर्स की फीस 2.5 लाख से 20 लाख तक है। ये फीस कॉलेजों पर निर्भर करती है, सभी कॉलेजों की फीस अलग-अलग है।

एमबीए कोर्स के विषय और सिलेबस – MBA (Master of Business Administration) Course Course Syllabus & Subjects

MBA Syllabus (Semester I) – Finance for Non-Finance, Joy of Management, Micro-Economics, Business Statistics, Marketing and Consumer Behaviour, Excel Spreadsheet Modelling, Organizational Behaviour, Marketing of Products and Services

MBA Syllabus (Semester II) – Costing Products and Services, Synthesizing and Analyzing Data using R, Managing Operations and Supply Chain, Human Resource Management, Indian Banking and Financial Markets, Indian Economy in the Global Context, Managing Stakeholders and Legal Processes, Managing Financial Resources

MBA Syllabus (Semester III) – Management of Design, Business Model and Intellectual Property, Leveraging IT for Business, Corporate Governance and Social Responsibility, Analyzing and Mitigating Risk, Applied Business Research, Problem Solving and Consulting Skills

MBA Syllabus (Semester IV) – Capstone Simulation, Ethics and Indian Ethos, Integrated Decisions Making, Leadership Development, Applied Business Research Project,Project Management, Data Science Using R and Python

मास्टर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन कोर्स की अवधि – MBA Course Duration

MBA Course की अवधि 2 वर्ष तक की होती है। इन 2 वर्षों में आपके पास कुल 4 सेमेस्टर  होते हैं और प्रत्येक सेमेस्टर 6 महीने का होता है। इस कोर्स को regular और distance mode के साथ कर सकते हैं।

MBA (Master of Business Administration) Course के Specializations

आप काफी स्ट्रीम में MBA Course कर सकते हैं। जिसमें से, कुछ लोकप्रिय specialization की सूची नीचे दी गई है।

  • MBA in finance
  • MBA in marketing
  • MBA in business analytics
  • MBA in Human Resource Management
  • MBA in International business 
  • MBA in Management Consultant
  • MBA in Operations Management

मास्टर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन कोर्स के बाद वेतन – Salary after MBA (Master of Business Administration)

भारत में MBA उम्मीदवार का salary किसी भी अन्य क्षेत्र से अधिक है। शुरुआत में, आपको एक अच्छा वेतन पैकेज मिलता है। MBA का annually salary Rs.290,000 से शुरू होता है। ये वेतन आपके ज्ञान और अनुभव के आधार पर बढ़ता रहता है। कुछ प्रोफेशनल MBA का वार्षिक वेतन भी 10 लाख से 18 लाख तक होती है। एक senior level के MBA का annually salary 30 लाख से 55 लाख तक हो सकता है।

इससे स्पष्ट है कि यदि आप यह कोर्स करते हैं तो आपको अपने भविष्य में नौकरी के लिए ज्यादा भटकना नहीं पड़ेगा। इसमें प्रवेश आपके लिए बहुत फायदेमंद साबित होगा। यदि आपने अपना स्नातक न्यूनतम 50% के साथ पास कर लिया है, तो यह कोर्स आपके लिए सबसे अच्छा विकल्प साबित होगा।

मास्टर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन कोर्स करने के फायदे – Advantages or Benefits of MBA (Master of Business Administration) Degree

  • नए जॉब पोजीशन आपके लिए खुले हैं
  • आपके लिए करियर के नए रास्ते खुले हैं।
  • आपकी कमाई की संभावना बढ़ जाती है।
  • आप अपने business community के एक respected member बन जाते हैं।
  • आपके professional skills में सुधार होता है।
  • आप नौकरी की अधिक सुरक्षा होती हैं।
  • आपका विश्व परिप्रेक्ष्य बढ़ता है।
  • आप अपने करियर के लिए सबसे महत्वपूर्ण क्षेत्रों में अधिक जानकार बन जाते हैं।

एमबीए के बाद नौकरी और कैरियर का अवसर – Career and Job Opportunities After MBA (Master of Business Administration) Course

Mba (master Of Business Administration) Details In Hindi
Mba (master Of Business Administration) Details In Hindi

MBA भारत में एक ऐसा postgraduate course है, जिसके बाद आपको सबसे अधिक नौकरी की पेशकश मिलती है। अगर आप MBA finance करते हैं तो आपको कई सेक्टर जैसे- Corporate finance, Corporate Banking, Credit risk management, Sales and trading आदि में जॉब मिल सकती है।

इसी तरह, अगर आप Marketing में MBA करते हैं तो आपको कुछ ऐसे सेक्टर में नौकरी मिल सकती है। जैसे – Competitive marketing, Analytical marketing, Online marketing, Customer Relationship marketing आदि।

अगर आप Business Analytics में MBA करते हैं तो आपको Information Technology, Healthcare, Financial Institutions इत्यादि जैसे क्षेत्र में नौकरी मिल सकती है। आप किसी भी स्ट्रीम में MBA करते हैं, तो हमेशा नौकरी की पेशकश होगी आप।

भारत में कुछ नौकरियां जो MBA के लिए सबसे अधिक वेतन दे रही हैं। जैसे- Investment Banker, Project manager, Consulting, Business development manager आदि। ये सभी नौकरी की सैलरी सालाना 4 लाख से शुरू होती है।

निष्कर्ष

आशा करते हैं कि आपको MBA Course Details In Hindi की पूरी जानकारी प्राप्त हो चुकी होगी। अगर फिर भी आपके मन में MBA Course Kya Hota Hai? (What Is Master of Business Administration In Hindi) और मास्टर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन कोर्स कैसे करे? को लेकर कोई सवाल हो तो, आप बेझिझक Comment Section में Comment कर पूछ सकते हैं।

अगर यह जानकारी पसंद आया हो तो, जरूर इसे Share कर दीजिए ताकि MBA Course Kaise Kare बारे में सबको जानकारी प्राप्त हो।

यह पोस्ट कितना उपयोगी था?

Average rating / 5. Vote count:

अब तक कोई रेटिंग नहीं! इस लेख को रेट करने वाले पहले व्यक्ति बनें।

Leave a Comment