जासूसी क्या होता है? Jasoos कैसे बने? जानिए जासूसी बनने से जुड़ी सभी जानकारी हिंदी में

आज हम जानेंगे जासूस कैसे बने पूरी जानकारी (How To Become Jasoos Details In Hindi) के बारे में क्योंकि जासूस का नाम सुनते ही हमारे मन में एक रोमांच भरी इमेज पैदा हो जाती है, जिसमें एक ऐसे व्यक्ति की छवि उत्पन्न होती है जो कालाकोट, सिर पर डिटेक्टिव वाली टोपी, काला चश्मा और चेहरे पर अलग प्रकार की मुस्क मुस्कान होती है। जैसा कि हम सभी यह बात अच्छी तरह से जानते हैं कि जासूस का काम गुप्त तौर पर क्राइम के केस को सुलझाना होता है।

इसके अलावा अपने उच्च अधिकारियों के आदेश पर वह इंटरनेशनल मामलों में भी जासूसी करता है। आज के इस लेख में जानेंगे कि Jasoos Kaise Bane, जासूस बनने के लिए क्या करे, Jasoos Meaning In Hindi, Jasoos Kya Hota Hai, जासूस बनने का तरीका, Jasoos Kaise Bante Hain, आदि की सारी जानकारीयां विस्तार में जानने को मिलेंगी, इसलिये पोस्ट को लास्ट तक जरूर पढे़ं।

जासूस किसे कहते हैं? – What is Jasoos Information in Hindi?

Jasoos Kaise Bane
Jasoos Kaise Bane

जासूस उस व्यक्ति को कहते हैं जो किसी संस्था अथवा व्यक्ति विशेष के कहने पर किसी अन्य संस्था अथवा व्यक्ति विशेष की जासूसी करता है। जासूसी करने वाला व्यक्ति अपनी पहचान उजागर नहीं करता है और वह गुप्त तौर पर अपने मिशन अथवा काम को अंजाम देते हैं। इस प्रकार के व्यक्ति को कोई भी व्यक्ति आसानी से पहचान नहीं पाता है।

यह सामान्य व्यक्ति की तरह ही दिखाई देते हैं परंतु इनके अंदर जासूसी के गुण होते हैं और यह अपने इसी गुण के कारण हाई प्रोफाइल केस को सुलझाते हैं अथवा उसकी जासूसी करते हैं और उस मामले की पूरी इंफॉर्मेशन उस संस्था अथवा कंपनी को देते हैं जिसके लिए वह काम करते हैं।

जासूस कैसे बने? – How did you Become Jasoos Information in Hindi

जासूस बनने के लिए जो सबसे महत्वपूर्ण बात वह यह है कि व्यक्ति के अंदर रिस्क उठाने की हिम्मत होनी चाहिए, क्योंकि अक्सर जासूसी के काम में व्यक्ति को कुछ ऐसे मामलों की जासूसी करनी पड़ती है जहां पर उसे जान का खतरा भी होता है। ऐसे में अगर व्यक्ति नीडर नहीं होगा, तो वह इस काम को नहीं कर पाएगा। इसीलिए जासूस बनने के लिए सबसे महत्वपूर्ण बात यही होती है कि व्यक्ति हिम्मतवान होना चाहिए और उसके अंदर किसी भी परिस्थिति में डर पैदा नहीं होना चाहिए।

जासूस बनने के लिए क्या करे? – What do you do to Become Jasoos?

एक जासूस लोगों के बीच अपनी असलियत को छुपा कर अपने मिशन को अंजाम देता है। अगर आपको भी इस प्रकार के काम को करने में रोमांच पैदा होता है, तो आप भी जासूसी यानी कि डिटेक्टिव के क्षेत्र में अपना कैरियर बना सकते हैं। आइए आगे हम स्टेप बाय स्टेप जानते हैं कि जासूस बनने के लिए क्या करना पड़ता है अथवा जासूस बनने के लिए क्या करें या फिर डिटेक्टिव कैसे बने।

1. जोखिम लेने का साहस विकसित करें

डिटेक्टिव बनने के लिए या फिर जासूस बनने के लिए सबसे महत्वपूर्ण चीज होती है रिस्क उठाने का जज्बा। अगर आपको जासूस बनना है या फिर आपको डिटेक्टिव बनना है, तो आपको रिस्क उठाने की हिम्मत अपने अंदर पैदा करनी होगी। हम यह बात अच्छी तरह से जानते हैं कि आप जासूस बनना चाहते हैं, इसीलिए आपको अभी तक जासूसी के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं है। इसीलिए हम आपको बता दें कि अगर आप जासूस बनना चाहते हैं तो आपको सबसे पहले तो अपने अंदर से डर को दूर करना पड़ेगा और आपको निडर बनना पड़ेगा।

क्योंकि अक्सर जासूसी के काम में व्यक्ति को कुछ ऐसे खतरनाक मिशन दिए जाते हैं, जिसमें जान माल का खतरा भी होता है। ऐसे में अगर आपके अंदर हिम्मत नहीं है, तो आप उस मिशन को करने से पहले ही डर जाएंगे, जिसके कारण आप जासूसी की फील्ड में अपना कैरियर नहीं बना पाएंगे, ना ही आपको फिर आगे कोई दूसरा मिशन दिया जाएगा‌। इसलिए अपने अंदर के डर को दूर करें और निडर बने तथा जोखिम उठाने का जज्बा अपने अंदर लाए।

2. शीघ्र निर्णय लें

एक जासूस अपनी पहचान छिपाकर लोगों के बीच अपना काम करता है। ऐसी अवस्था में कभी-कभी ऐसी परिस्थितियां आ जाती है जिसमें जासूस को तुरंत कोई ना कोई डिसीजन लेना पड़ता है। इसीलिए जासूस के अंदर क्विक डिसीजन लेने का गुण होना चाहिए, साथ ही उसके अंदर कॉन्फिडेंस लेवल का भी अच्छा होना आवश्यक है। इसके अलावा उसे हमेशा चुनौतियों का सामना करने के लिए तैयार रहना चाहिए। अगर आपके अंदर यह सभी गुण हैं तो फिर आपको जासूस बनने से अथवा डिटेक्टिव बनने से कोई नहीं रोक सकता है।

3. किसी भी तरह का काम करने के लिए तैयार रहें

एक जासूस का मुख्य काम किसी संस्था या फिर किसी व्यक्ति विशेष के बारे में इंफॉर्मेशन इकट्ठा करना होता है। इसके अलावा भी जासूस अन्य कई प्रकार के काम करता है। जैसे मैरिज के संबंध में दोनों पक्षों की खुफिया इंफॉर्मेशन को इकट्ठा करना, अभिभावक के आग्रह पर उनके बच्चों की जासूसी करना, अकाल मृत्यु को प्राप्त व्यक्ति की मौत से संबंधित सबूतों को खोजना या फिर डाइवोर्स की प्रॉब्लम से निजात दिलाना इत्यादि।

इस प्रकार जासूस को विभिन्न प्रकार के काम करने होते हैं। इसीलिए जासूस बनने के लिए आपको हर प्रकार के काम को करने के लिए हमेशा तैयार रहना चाहिए। ऐसा नहीं है कि आपको किसी काम को मना करना है, क्योंकि एक सक्सेसफुल जासूस वही बन सकता है, जो अपने काम को अपनी जिम्मेदारी समझे और हर प्रकार के काम को करने के लिए तैयार रहे, जो जासूसी से संबंधित हो।

4. उपकरण का उपयोग करना सीखें

एक जासूस को विभिन्न प्रकार के साधनों का इस्तेमाल करना भी आना चाहिए। जैसा कि आप जानते हैं कि जासूसी करने के लिए व्यक्ति के पास विभिन्न प्रकार की चीजें मौजूद होती हैं। जैसे कि फिंगरप्रिंट सेंसर, रिकॉर्डिंग मशीन, ट्रांसमीटर, कैमरा, स्मार्टफोन, लैपटॉप इत्यादि। इसीलिए व्यक्ति को इन सभी चीजों का प्रयोग करना आना चाहिए।अगर उन्हें इसका इस्तेमाल नहीं करना आता है, तो सबसे पहले उन्हें इसका इस्तेमाल कैसे किया जाता है, इसके बारे में पूरी इंफॉर्मेशन प्राप्त कर लेनी चाहिए।

क्योंकि यह सब ऐसी चीजें हैं जो एक जासूस के महत्वपूर्ण अंग माने जाते हैं। बिना इसके जासूसी करना संभव नहीं है। डिटेक्टिव इन सभी चीजों के द्वारा ही अपने केस से संबंधित सबूतों को इकट्ठा करता है और उन्हें संबंधित व्यक्ति अथवा संस्था के सामने पेश करता है, जो एक ठोस आधार सबूत के तौर पर बन जाते हैं।

5. कानूनी प्रक्रिया की जानकारी प्राप्त करें

एक सक्सेसफुल जासूस अथवा डिटेक्टिव बनने के लिए आपको कानूनी प्रक्रिया के बारे में भी अच्छी खासी इंफॉर्मेशन होनी चाहिए, क्योंकि जब आप जासूसी का काम करते हैं तो कई बार ऐसी अवस्था आती है कि वहां पर लोग उल्टा आपके ऊपर ही आरोप लगा देते हैं। ऐसे में अगर आपको कानूनी प्रक्रिया के बारे में इंफॉर्मेशन होगी, तो आप आसानी से अपना बचाव कर सकेंगे और किसी भी प्रकार के फर्जी मामले में फंसने से बच जाएंगे।

6. अपने Skill का विकास करे

जासूस बनने के लिए आपको अपनी Skills को डेवलप करना होगा। एक जासूस को कानून से संबंधित प्रोसेस के बारे में पूरी इंफॉर्मेशन होनी चाहिए‌। इसके अलावा जासूस के अंदर अच्छी कम्युनिकेशन स्किल यानी की बातचीत करने की कला होनी चाहिए, साथ ही उसके अंदर लिखित और मौखिक रिपोर्ट तैयार करने और उसे रिकॉर्ड करने की स्किल होनी चाहिए। जासूस को ईमानदार होना चाहिए‌ जो भी जानकारी उसे प्राप्त होती है उसे अपने पास तक ही सीमित रखना चाहिए।

एक जासूस के अंदर टीम वर्क करने का गुण होना चाहिए। इनके अंदर हिम्मत होनी चाहिए। विभिन्न परिस्थितियों में भी अपने आप को किस प्रकार से संभालना है उसकी जानकारी एक जासूस को होनी चाहिए। अगर आपके अंदर यह गुण हैं तो अच्छी बात है और अगर आपके अंदर यह गुण नहीं है तो आप इन गुणों को अपने अंदर लाने का प्रयास करें।

जासूस बनने के लिए कौन सा कोर्स करना चाहिए – Which Course Should take to Become Jasoos?

जासूस बनने के लिए आप निम्न कोर्स कर सकते हैं।

  • One Year Diploma in Private Investigation
  • Diploma in Criminology
  • Diploma in Forensic Science
  • Degree Course in Criminology
  • Degree Course in Forensic Sciences

जासूस बनने के बाद करियर – Career After Becoming Jasoos

जासूस बनने के बाद आप निम्न फील्ड में करियर बना सकते हैं।

  • क्रिमिनोलॉजी
  • प्राइवेट जासूस
  • इंडस्ट्रियल जासूस
  • जस्टिस जासूस
  • क्रिमिनल जासूस

जासूस बनने के बाद नौकरी कहाँ मिलेगी – Where You Get Job after Becoming Jasoos?

अगर आप सफलतापूर्वक जासूस बन जाते हैं, तो इसके बाद आपको निम्न क्षेत्रों में नौकरी प्राप्त हो सकती है।

  • इंडस्ट्रियल फील्ड
  • Cyber Crime Department
  • डोमेस्टिक फील्ड
  • लॉ डिपार्टमेंट

जासूस का वेतन – Salary of Jasoos

अगर जासूस किसी संस्था के लिए काम करता है तो उसे महीने की सैलरी के तौर पर तकरीबन ₹40,000 से लेकर ₹60,000 तक की सैलरी प्राप्त होती है। यह सैलरी इसलिए ज्यादा होती है क्योंकि जासूस का काम जोखिम वाला काम होता है और इसमें जानमाल का खतरा भी होता है, इसीलिए जासूस की सैलरी ज्यादा होती है। अगर जासूस किसी व्यक्ति विशेष के लिए काम करता है तो उसे सैलरी नहीं मिलती है, बल्कि उसे एक साथ ही नगद पैसे प्राप्त हो जाते हैं। अगर जासूस अपनी खुद की जासूसी एजेंसी चलाता है तो वह महीने में लाखों रुपए भी कमा लेता है।

जासूसी का कोर्स कहाँ से करे? – Where to do Jasoos Course?

नीचे हमने आपको जिस संस्था के नाम दिए हैं वह जासूसी का कोर्स करने के लिए बेस्ट इंस्टीट्यूट माने जाते हैं, आप यहां से जासूसी का कोर्स कर सकते हैं।

  • Aligarh Muslim University (AMU)
  • Andhra University (Visakhapatnam)
  • Tata Institute of Social Sciences (Mumbai)
  • University of Madras (Chennai)
  • Utkal University (Bhubaneswar)
  • Dr. Harisingh Gour Vishwavidyalaya (Madhya Pradesh)
  • Gujarat University (Ahmedabad)
  • Karnataka University (Karnataka)
  • Mahatma Gandhi Kashi Vidyapith (Varanasi)
  • Nagpur University (Maharashtra)
  • Panjab University (Chandigarh)

निष्कर्ष

आशा करते हैं कि आपको Jasoos Details In Hindi की पूरी जानकारी प्राप्त हो चुकी होगी। अगर फिर भी आपके मन में Jasoos Kaise Bane (How To Become Jasoos In Hindi) और जासूस कैसे बने? को लेकर कोई सवाल हो तो, आप बेझिझक Comment Section में Comment कर पूछ सकते हैं।

अगर यह जानकारी पसंद आया हो तो, जरूर इसे Share कर दीजिए ताकि Jasoos Kise Kahte Hai बारे में सबको जानकारी प्राप्त हो।

About Ainain

मैं इस ब्लॉग का संस्थापक और एक पेशेवर ब्लॉगर हूं। यहाँ पर मैं नियमित रूप से अपने पाठकों के लिए उपयोगी और मददगार जानकारी साझा करता हूं। ❤️

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.