ईएसआईसी क्या है? जानिए ईएसआईसी से जुड़ी सभी जानकारी हिंदी में

आज हम जानेंगे ईएसआईसी क्या है (What is ESIC in Hindi), के बारे में पूरी जानकारी। बीमारियां किसी भी व्यक्ति को बता कर के नहीं आती है, वह अचानक से ही व्यक्ति को अपनी गिरफ्त में ले लेती है। ऐसे में अगर इंसान पहले से ही अपनी तैयारी करके नहीं रखता है, तो उसे बीमारी का इलाज करवाने में काफी दिक्कत आती है। यहां तक कि तो कभी-कभी किसी भयंकर बीमारी का इलाज करवाने में उसे अपनी जमीन जायदाद तक बेच डालनी पड़ती है।

यही वजह है कि अधिकतर लोग ईएसआईसी के साथ जुड़े हुए होते हैं, जो लोगों को इंश्योरेंस देने का काम करती है। इस आर्टिकल के जरिए हम ईएसआईसी के बारे में पूरी इंफॉर्मेशन प्राप्त करने का प्रयास करेंगे। तो आज के लेख में हमसे जुड़े रहे और जाने ईएसआईसी से जुड़ी हुई सभी जानकारियां विस्तार से वो भी हिंदी में, इसलिए लेख को अंत तक जरूर पढ़े।

ईएसआईसी क्या है? – What is ESIC in Hindi?

Contents show
ESIC kya hai
ईएसआईसी क्या है
ईएसआईसी क्या है

जितने भी वर्कर प्राइवेट सेक्टर की नौकरी करते हैं, उन्हें इलाज करवाने के लिए मेडिक्लेम की सर्विस प्राप्त हो सके, इसी उद्देश्य के साथ वह अपना रजिस्ट्रेशन ईएसआईसी में करवाते हैं। इसमें रजिस्टर्ड लोगों को हेल्थ इंश्योरेंस प्राप्त होता है। ऐसे इंस्टिट्यूट जिसमें 20 या फिर उससे अधिक व्यक्ति काम करते हैं, वह सभी इंस्टिट्यूट ESIC के अंतर्गत ही आते हैं।

उस इंस्टिट्यूट में जो व्यक्ति काम करता है, उसे ईएसआईसी के द्वारा हेल्थ इंश्योरेंस के तहत अस्पतालों में फ्री में अपना इलाज करवाने की सुविधा प्राप्त होती है। इससे उन्हें बीमारी की अवस्था में आर्थिक बोझ का सामना नहीं करना पड़ता है ना हीं इलाज करवाने के लिए पैसों का मुंह देखना पड़ता है। जो भी पैसा ईएसआईसी में जमा होता है, उसे ईएसआईसी एक्ट 1948 के इंस्ट्रक्शन के हिसाब से मैनेज किया जाता है।

ईएसआईसी से इलाज कैसे कराएं? – How to get treatment from ESIC in Hindi?

अगर आपको नॉर्मल दवाइयां लेनी है, तो आप उसे ईएसआईसी की डिस्पेंसरी/हॉस्पिटल से प्राप्त कर सकते हैं। इसके अलावा अगर आपको कोई बड़ा ऑपरेशन या ज्यादा खर्चे वाला इलाज करवाना है, तो आपको ईएसआईसी की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर, अपने घर के आस-पास स्थित ईएसआईसी से जुड़ा हुआ अस्पताल या इंस्टीट्यूट के बारे में पता करना पड़ेगा।

आपको वहां पर अपना ESIC कार्ड और साथ में अन्य जरूरी दस्तावेज लेकर जाना है और उसके बाद अस्पताल के कर्मचारियों के द्वारा आगे की प्रक्रिया का जरूरी तरीके से पालन किया जायेगा और आपका इलाज या ऑपरेशन पूर्ण कर दिया जाएगा।

ये भी पढ़े: जीमेल का पासवर्ड कैसे पता करें? जानिए जीमेल का पासवर्ड पता करने से जुड़ी सभी जानकारी हिंदी में

ESIC का फुल फॉर्म क्या है? – What is the full form of ESIC in Hindi?

ESIC: EMPLOYEES STATE INSURANCE CORPORATION

एम्पलाइज स्टेट इंश्योरेंस कॉरपोरेशन को हिंदी भाषा में कर्मचारी राज्य बीमा निगम कहा जाता है, जो ऐसे लोगों को इंश्योरेंस की सर्विस देने का काम करता है जो प्राइवेट सेक्टर की फील्ड में नौकरी करते हैं। इसमें प्राइवेट सेक्टर की फील्ड के ऐसे लोग शामिल हो सकते हैं जिनकी कंपनी में 10 या फिर उससे ज्यादा लोग काम करते हैं।

ईएसआईसी कार्ड के फायदे क्या है? – What are the benefits of ESIC card in Hindi?

नीचे हमने आपके लिए ईएसआईसी कार्ड के फायदे बताएं हैं।

1. मेडिकल के फायदे:

इस कार्ड को प्राप्त कर लेने के बाद आप अपने घर के आस-पास स्थित ईएसआईसी डिस्पेंसरी से दवाई खरीद सकते हैं। इसके अलावा अगर आपको कोई इलाज करवाना है, तो आप हॉस्पिटल में भर्ती हो करके अपना इलाज भी करवा सकते हैं। यह इलाज कैशलेस होगा।

2. मातृत्व लाभ:

इसके अंतर्गत ऐसी महिलाओं को मातृत्व लाभ मिलता है, जो प्रेग्नेंट होती है। प्रेग्नेंट हो चुकी महिला को लगातार 26 हफ्ते तक 100 प्रतिशत दैनिक तौर पर वेतन मिलता है।

3. आश्रित को लाभ:

किसी भी व्यक्ति को ईएसआईसी के तहत इंश्योरेंस का तो फायदा मिलता ही है, लेकिन किसी अनहोनी में काम के दौरान कर्मचारी की मौत हो जाने पर, उसके आश्रित को ईएसआईसी के द्वारा मासिक भुगतान किया जाता है।

4. स्वास्थ्य लाभ:

कोई भी कर्मचारी यदि किसी भी बीमारी की वजह से मेडिकल छुट्टी लेता है, तो इस छुट्टी के दौरान कर्मचारी को ईएसआईसी रोजाना के वेतन का 70 फीसदी वेतन के हिसाब से 91 दिनों तक भुगतान करता है।

5. अक्षमता लाभ:

इसके अंतर्गत विकलांगता के फायदे भी प्राप्त होते हैं। वही कोई वर्कर अगर परमानेंट तौर पर विकलांग हो जाता है, तो उसे जिंदगी भर अक्षमता का लाभ प्राप्त होता है।

6. गैर रोजगार भत्ता:

किसी भी प्रकार की चोट के कारण नौकरी करने में अगर थोड़ा-सा नुकसान होता है, तो अधिक से अधिक 24 महीने तक ईएसआईसी मासिक भुगतान भत्ता देता है।

ये भी पढ़े: लड़की से बात कैसे करें? जानिए लड़की से बात करने से जुड़ी सभी जानकारी हिंदी में

ईएसआईसी कार्ड कैसे बनाएं? – How to make ESIC Card in Hindi?

अगर आप यह सोच रहे हैं कि आप खुद से ही किसी ऑनलाइन तरीके को करके ईएसआईसी कार्ड बनवा लेंगे, तो ऐसा करना पॉसिबल नहीं है। दरअसल इसके पीछे वजह यह है कि ऑनलाइन ईएसआईसी कार्ड नहीं बनाया जा सकता है। इसे बनवाने के लिए आपको सबसे पहले किसी प्राइवेट सेक्टर की कंपनी में नौकरी ज्वाइन करनी पड़ेगी, उसके बाद 3 से 4 दिन के बाद कंपनी खुद ही आवश्यक प्रक्रिया का पालन करके आपको ईएसआईसी के साथ जोड़ देगी।

उसके बाद आपको ईएसआईसी कार्ड कंपनी की तरफ से प्राप्त हो जाएगा। इस प्रकार जब कभी भी आपको अपना इलाज करवाना हो तब आपको इस कार्ड को लेकर के ईएसआईसी के साथ जुड़े हुए हॉस्पिटल में जाना पड़ेगा और वहां पर आवश्यक प्रक्रिया पूरी करके एडमिट होना पड़ेगा, उसके बाद आपका कैशलेस इलाज किया जाएगा और इलाज का जो भी पैसा बनता है, वह ESIC की तरफ से दिया जाएगा।

ईएसआईसी कार्ड कैसे डाउनलोड करें?

नीचे हमने आपको ESIC की ऑफिशियल वेबसाइट का लिंक दिया है।

  1. नीचे दिए हुए लिंक पर क्लिक करके सीधा इसकी ऑफिशियल वेबसाइट पर चले जाएं। वेबसाइट लिंक:  यहां क्लिक करे
  2. वेबसाइट पर पहुंचने के बाद निश्चित जगह में अपना यूजर नेम फिर पासवर्ड और उसके बाद कैप्चा कोड डालें और लॉगिन कर ले।
  3. लॉग इन करने के बाद जो पेज खुलेगा, उसमें से आपको ई पहचान कार्ड लिंक पर क्लिक कर देना है।
  4. अब आपको जिस एंप्लॉय के कार्ड को डाउनलोड करना है, उसका नाम या फिर ईएसआईसी नंबर डालकर सर्च करें।
  5. सर्च करने के बाद जब प्राप्त हो जाए तब व्यू बटन को दबा दें।
  6. अब आपको जो VIEW COUNTER FOIL ऑप्शन दिखाई दे रहा है, उसे दबा देना है।
  7. अब आपको अपनी स्क्रीन पर एम्पलाई का नाम, एड्रेस, डिस्पेंसरी, बायोडाटा और नॉमिनी का ई पहचान दिखाई देगा।
  8. अब आपको इसे या तो प्रिंट कर लेना है या फिर डाउनलोड कर लेना है।

ईएसआईसी के लिए पात्रता – What is the eligibility for ESIC in Hindi?

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि अगर आप ऐसी किसी भी कंपनी में नौकरी कर रहे हैं जिसमें 20 से अधिक कर्मचारी काम करते हैं, साथ ही वह कंपनी प्राइवेट कंपनी की लिस्ट में आती है, तो वह ऑटोमेटिक ही इसके लिए पात्रता रखती है। इस प्रकार इसका फायदा पाने के लिए आपको किसी प्राइवेट सेक्टर की कंपनी में नौकरी करना पड़ेगा।

इसमें पात्रता का पैमाना एक यह भी है कि अगर किसी वर्कर की सैलरी रुपए 21000 या फिर उससे कम है, तो वह इसमें शामिल हो सकता है। हालांकि जिन लोगों की सैलरी इससे ज्यादा है, वह भी अपनी खुद की इच्छा से इसमें ESI ACT 1948 के अंतर्गत शामिल होना चाहे तो हो सकते हैं।

ये भी पढ़े: शिया और सुन्नी मुसलमान में अंतर क्या है? – Difference between Shia and Sunni Musalmaan in Hindi

ईएसआईसी कितना परसेंट कटता है? – What is the percentage deducted by ESIC?

गवर्नमेंट ने हाल ही में इस योजना में एक बड़ा बदलाव किया है, जिसके अंतर्गत वह इलाके जहां पर यह स्कीम पहली बार चालू होगी, उनमें वर्कर और कर्मचारी को अगले 2 सालों तक यानी कि 24 महीने के लिए नीचे बताए गए अंशदान देने होंगे।

• कंपनी का अंशदान: 3 परसेंट
• वर्कर का अंशदान: 1 परसेंट

जब 24 महीना पूरा हो जाएगा, तो उसके बाद नीचे बताए गए अंशदान कंपनी को और वर्कर को देने होंगे।

• कंपनी का अंशदान: 4.75 परसेंट
• वर्कर का अंशदान: 1.75 परसेंट

ईएसआईसी में दी जाने वाली सुविधा? – Benefits given by ESIC in Hindi?

मुख्य तौर पर ईएसआईसी में शामिल होने पर आप गंभीर बीमारियों के इलाज बिल्कुल मुफ्त में करवा सकते हैं और उनकी पेमेंट ESIC करती है। इसके अलावा इसमें शामिल होने पर आपको सुविधा के अंतर्गत हॉस्पिटल में भर्ती होने की सुविधा मिलती है, साथ ही मरीज को रहने, खाने और सोने की व्यवस्था भी मिलती है। इसके अलावा उसे एंबुलेंस की सर्विस भी प्रोवाइड करवाई जाती है।

ईएसआईसी के बारे में अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

ईएसआई का हेड क्वार्टर कहां है?

नई दिल्ली।

ईएसआई का उद्देश्य क्या है?

कैशलेस इलाज देना।

ईएसआई में कौन शामिल हो सकता है?

प्राइवेट सेक्टर में नौकरी करने वाले लोग।

ईएसआई में कितनी सैलरी वाले लोग शामिल हो सकते हैं?

रुपए 21000 या फिर उससे कम।

क्या प्राइवेट सेक्टर में काम करने वाले ऐसे लोग भी इसमें शामिल हो सकते हैं जिनकी सैलरी 21000 से ज्यादा है?

हां परंतु स्वेच्छा से।

निष्कर्ष

आशा है आपको ईएसआईसी क्या है के बारे में पूरी जानकारी मिल गई होगी। अगर अभी भी आपके मन में ईएसआईसी क्या है (What is ESIC in Hindi) को लेकर आपका कोई सवाल है, तो आप बेझिझक कमेंट सेक्शन में कमेंट करके पूछ सकते हैं। अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी हो, तो इसे शेयर जरूर करें ताकि सभी को ईएसआईसी क्या है के बारे में जानकारी मिल सके।

आपको हमारा यह लेख कैसा लगा?

यह टीम लेख की गुणवत्ता की जांच करके आप तक नई जानकारी पहुंचाने का काम करती है।

Leave a Comment