Bachelor Of Engineering (B.E.) क्या है? और B.E. कैसे करें? B.E. Full Form, Qualification, Admission Process, Career, Salary, Fees, Entrance Exam, Scope की पूरी जानकारी हिंदी में

आज के इस आर्टिकल में Bachelor of Engineering के बारे में बात करने वाले है। अब तक हमने आप लोगों के साथ 12 वीं साइंस के बाद बायोलॉजी विषय के स्टूडेंट के लिए ज्यादा जानकारी शेयर कि है। लेकिन सोचा उन बच्चो का क्या? जो 12 वीं साइंस में मैथमेटिक्स विषय के साथ पढ़ाई कर रहे है। यदि आप भी 12 वीं साइंस में मैथ्स विषय के साथ पढ़ाई करते है तक ये आर्टिकल आपके लिए है।

तो आज के इस आर्टिकल में आप जानने वाले है BE के बारे में जानने वाले है। यदि आप आगे BE करनेवाले है या करना चाहते है तक इस आर्टिकल को जरूर ध्यान से पढे। बी.ई क्या है? (What is B.E. Details In Hindi), बी.ई कैसे करें? (How To Do Bachelor Of Engineering Details In Hindi?), बी.ई के लिए योग्यता क्या है? (What Is The Qualification For Bachelor Of Engineering Course), बी.ई के लिए प्रवेश प्रक्रिया क्या है?(What Is The Admission Process For BE Course), बी.ई के बाद करियर और स्कोप (Career and Scope after B.E.), बी.ई के बाद सैलरी कितनी मिलेगी और Bachelor Of Engineering के बारे में सभी जानकारी जानेंगे तो, आइए जानते है….

बी.ई क्या है? – What is Bachelor of Engineering in Hindi

Bachelor of Engineering in Hindi
Bachelor of Engineering in Hindi

B.E means Bachelor Of Engineeringहोता है जो एक अंडरग्रैजुएट इंजीनियरिंग डिग्री कोर्स है और यह 4 साल का कोर्स है, जिसमे 8 सेमेस्टर की थ्योरी और प्रैक्टिकल के साथ इलेक्ट्रिकल, मैकेनिकल, थर्मोडायनेमिक, सिविल इंजीनियरिंग इत्यादि के बारे में आपको पढ़ाया जाता हैं।

बेचलर ऑफ इंजीनियरिंग के अंदर भी बहुत सारे स्पेशलाइजेशन कोर्स होते है जैसे मिकेनिकल इंजीनियरिंग, केमिकल इंजीनियरिंग, कंप्यूटर इंजीनियरिंग, सिविल इंजिनियरिंग जैसे बहुत सारे कोर्स होते है। इन सभी कोर्स में से किसी एक कोर्स को आपको चुनना होता है और उसी में आपको आगे पढ़ाई करनी होती है।

यदि आपको टेक्निकल चीजे, कुछ नया करना, नया प्रैक्टिकल पढ़ाई करना, टेक्निकल रिसर्च करना जैसा अच्छा लगता है तो आपको इंजिनियरिंग जरूर करनी चाहिए, लेकिन इस कोर्स को करने के बाद आपको अपनी स्किल्स पर  ज्यादा जोर देना होगा। तो आइए आगे जानते है कैसे आप B.E कर सकते हैं।

b.e degree, b.e course, bitsat 2020 b.e syllabus

B.E. Full Form

B.E Full Form – Bachelor Of Engineering होता है|

बी.ई कैसे करें? – How to do B.E. Details in Hindi

यदि आप बेचलर ऑफ इंजीनियरिंग करना चाहते है तो इसको शुरुआत 10th पास होने के बाद ही शुरू हो जाती है। 10th पास होने के बाद आपको 11th और 12th में साइंस विषय लेना होगा, और साइंस में भी आपको फिजिक्स, केमिस्ट्री, और मैथमेटिक्स विषय होना जरूरी है।

जब आप 12वी साइंस के परीक्षा अच्छे मार्क्स के साथ पास कर लेंगे इसके बाद ही आप Bachelor Of Engineering के लिए जा सकते है। लेकिन बेचलर ऑफ इंजीनियरिंग करने के लिए भी आपको कुछ योग्यता को पूरा करना जरूरी है, जिसकी सारी जानकारी नीचे दी हुई है।

बी.ई के लिए योग्यता – Eligibility for B.E.

B.E के लिए कुछ qualification चाहिए होता है जो निम्न है

  • बेचलर ऑफ इंजीनियरिंग में प्रवेश लेने के लिए आपको 12 वीं साइंस में फिजिक्स, केमिस्ट्री और मैथमेटिक्स विषय होना जरूरी है।
  • इसके साथ साथ 12 वीं कि परीक्षा को आपको कम से कम 60% मार्क्स के साथ पास होना जरूरी है।
  • 12 वीं के बाद Joint Entrance Exam Mains [JEE Mains], Joint Entrance Exam Advance [JEE Advance] परीक्षा को पास होना भी जरूरी है।
  • इसके अलावा नेशनल और स्टेट लेवल की एंट्रेंस एग्जाम पास करना भिं जरूरी है। जिसको जानकारी नीचे दी हुई है।

बेचलर ऑफ इंजीनियरिंग प्रवेश प्रक्रिया – Bachelor Of Engineering Admission Process

जैसा कि आपको उपर बताया Bachelor Of Engineering की योग्यता क्या होनी चाहिए। जब आप 12 वीं कक्षा पास कर लेने उसके बाद अपने अनुसार अच्छी यूनिवर्सिटी और कॉलेज में एडमिशन के ऑनलाइन या ऑफलाइन फॉर्म भर दीजिए।

इंडिया में बहुत सारे ऐसे कॉलेज और यूनिवर्सिटी है, जिसमे आपको प्रवेश लेने के लिए उनकी एंट्रेंस एग्जाम को देना होगा और उसमे पास होना होगा। इसके अलावा यदि आप IIT जैसी बड़ी इंस्टीट्यूट में प्रवेश लेना चाहते है तो आपको Joint Entrance Exam Mains [JEE Mains], Joint Entrance Exam Advance [JEE Advance] परीक्षा को अच्छे मार्क्स के साथ पास करना होगा।

BE में ज्यादातर प्रवेश आपके मार्क्स के आधारित होता है। जितना अच्छा आपका परफॉर्मेंस होगा, उतना ही अच्छा कॉलेज में प्रवेश मिलेगा।

B.E की Course Fees कितनी है?

बेचलर ऑफ इंजीनियरिंग की औसत शुल्क INR 25,000 to 2 Lakh per annum होती है। लेकिन फिर भी बेचलर ऑफ इंजीनियरिंग की फीस अलग अलग यूनिवर्सिटी पर आधारित है, उनकी सर्विस, स्टैंडर्ड, कैंपस पर आधारित है।

बैचलर ऑफ इंजीनियरिंग करने के बाद करियर – Career after doing Bachelor of Engineering

यदि आप इंजिनियरिंग करने के बाद कैरियर देखने जायेगे तो इसमें बहुत सारा स्कोप मौजूद है। लेकिन इस कोर्स को करने के बाद आपको अलग करना होगा, आप जो भी स्किल्स सीखते है उसमे मास्टर बनना होगा।

यदि इंजिनियरिंग के बाद जॉब कि बात करे तो, इसमें आप software engineer, Mechanical engineer, data scientist, Construction engineer, Railway engineer, Aeronautical, Arctic और Construction manager  जैसे पोस्ट के लिए आप जॉब कर सकते है।

इंजिनियरिंग जॉब इस बात पर भी आधारित है कि आपके इंजिनियरिंग में कोर्स और किस विषय में स्पेशलाइजेशन किया है। इसके अनुसार आपको जॉब मिलेगी।

B.E के बाद कितनी सैलरी मिल सकती है? – Salary After Bachelor of Engineering (BEng / BE)

B.E के बाद आपको कितनी सेलरी मिलेगी, यह अलग अलग स्ट्रीम और आपने किस विषय में स्पेशलाइजेशन किया है इस बात पर भी निर्भर है। इसके अलावा आपको जॉब पोस्ट, आपको स्किल्स और आपके अनुभव पर निर्भर है। फिर भी बेचलर ऑफ इंजीनियरिंग कोर्स के बाद 6.53 lakhs per annum की एवरेज सेलरी पा सकते है।

निष्कर्ष

आज के का आर्टिकल में जाना बेचलर ऑफ इंजीनियरिंग कोर्स के बारे में की, BE क्या है (What is B.E. Details In Hindi), बी.ई कैसे किया जाता है?  (How To Do Bachelor Of Engineering), क्या योग्यता होनी चाहिए?, बेचलर ऑफ इंजीनियरिंग करने के बाद आपका कैरियर कैसा रहेगा? और भी बहुत कुछ।

इस आर्टिकल में मैंने BE से जुड़ी डिटेल में जानकारी देने की कोशिश की है, मुझे उम्मीद है कि आपको यह जानकारी अच्छी लगी होगी। इस आर्टिकल से जुड़े कोई भी सवाल है तो आप नीचे कॉमेंट बॉक्स में जरूर बताए।

Leave a Comment