एंड्रॉइड क्या होता है? एंड्रॉइड का वर्जन, इतिहास, फायदे और नुकसान क्या है?

आज हम जानेंगे एंड्रॉइड का वर्जन, इतिहास, फायदे और नुकसान क्या है की पूरी जानकारी (Android in Hindi) के बारे में क्योंकि किसी भी व्यक्ति को जब स्मार्टफोन लेने का मन करता है, तो वह सबसे पहले अपनी पसंद एंड्रॉइड वर्जन के ऊपर आधारित स्मार्टफोन के ऊपर ही उतारता है, जिसका एक कारण यह है कि एंड्रॉइड वर्जन वाले जो स्मार्टफोन होते हैं, उनके लिए बहुत सारी उपयोगी एप्लीकेशन हमें आसानी से गूगल प्ले स्टोर पर मिल जाती है। गूगल प्ले स्टोर पर हमें वही एप्लीकेशन प्राप्त होती है, जो एंड्रॉइड वर्जन वाले स्मार्टफोन पर चलती है।

वही एप्पल एप्लीकेशन स्टोर पर हमें वह एप्लीकेशन प्राप्त होती है, जो एप्पल कंपनी के स्मार्टफोन में चलती है। दुनिया में सबसे ज्यादा एंड्रॉइड एप्लीकेशन बनाई जाती है। इसलिए एंड्रॉयड स्मार्टफोन की बिक्री भी ज्यादा है। क्या आप यह जानना चाहते हैं कि आखिर एंड्रॉइड होता क्या है अथवा एंड्रॉइड का क्या मतलब है, अगर हां तो बने रहिए हमारे साथ। आज के इस लेख में जानेंगे कि Android Version Kya Hota Hai, एंड्रॉइड के फीचर्स, History of Android in Hindi, आदि की सारी जानकारीयां विस्तार में जानने को मिलेंगी, इसलिये पोस्ट को लास्ट तक जरूर पढे़ं।

एंड्रॉइड क्या होता है? – What is Android in Hindi?

Contents show
Android In Hindi
Android In Hindi

आपने लिनक्स केर्नल वर्जन के बारे में सुना ही होगा। इसी लिनक्स केर्नल वर्जन के ऊपर आधारित होता है एंड्रॉइड। यहां तक कि आपको यह भी बता दें कि एंड्रॉइड जिस लिनक्स केर्नल के ऊपर आधारित है वह खुद भी एक ऑपरेटिंग सिस्टम ही है और लिनक्स तथा एंड्रॉयड ऑपरेटिंग सिस्टम का यूज़ सरवर और कंप्यूटर में होता है। जब एंड्रॉइड ऑपरेटिंग सिस्टम डिवेलप किया जा रहा था तो लिनक्स ऑपरेटिंग सिस्टम में कई प्रकार के चेंज किए गए और उसे घुमा फिरा करके एंड्रॉयड ऑपरेटिंग सिस्टम को तैयार किया गया।

एंड्रॉयड ऑपरेटिंग सिस्टम क्या है? – What is Android Operating System in Hindi

दुनिया में जितने भी टच स्क्रीन वाले स्मार्टफोन है, उनमे से अधिकतर स्मार्ट फोन के अंदर आपको एंड्रॉयड ऑपरेटिंग सिस्टम मिल जाता है। हालांकि अब टेबलेट के अंदर भी एंड्रॉयड ऑपरेटिंग सिस्टम दिया जा रहा है। इसके अलावा एंड्रॉयड ऑपरेटिंग सिस्टम का इस्तेमाल डिजिटल कैमरा, गेमिंग कंसोल, नोटबुक, टीवी और घड़ी में भी हो रहा है।

कुल मिलाकर देखा जाए तो जिन चीजों को हम टच करके चला सकते हैं, वैसी अधिकतर चीजों में एंड्रॉयड ऑपरेटिंग सिस्टम होता है। साल 2019 के सितंबर के महीने में एंड्रॉयड का सबसे लेटेस्ट वर्जन लॉन्च हुआ था, जो एंड्रॉइड 10Q है।

ओपन सोर्स क्या है? – Open Source in Hindi

जो सॉफ्टवेयर ओपन सोर्स की कैटेगरी में आते हैं उन सॉफ्टवेयर की प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को कोई भी व्यक्ति देख सकता है और उस प्रकार के सॉफ्टवेयर को डेवलपर अपने हिसाब से चेंज कर सकता है, जिसे टेक्निकल भाषा में मॉडिफाई करना कहा जाता है।

ये भी पढ़ें : TRP(Television Rating Point) क्या होता है?

एंड्रॉइड का इतिहास क्या है? – History of Android in Hindi

अगर एंड्रॉइड का इतिहास हम आपको सेंटेंस में बताएंगे तब आपको कन्फ्यूजन भी हो सकती है। इसीलिए हमने आपके लिए एंड्रॉइड के इतिहास को डिवाइड किया हुआ है, ताकि आप आसानी से इसके इतिहास अथवा एंड्रॉयड की हिस्ट्री जान सके।

  • ऐंडी रूबीन, रिच माइनर और नीक सियर ने एंड्रॉइड बनाया।
  • एंड्रॉइड साल 2003 के अक्टूबर महीने में बनाया गया।
  • साल 2005 में अगस्त के महीने में गूगल ने इसे खरीद लिया।
  • गूगल ने एंड्रॉयड को बनाने वाले 3 लोगों को भी अपनी कंपनी में नौकरी पर रख लिया।
  • साल 2007 में एंड्रॉयड पहली बार इनकॉरपोरेशन के द्वारा रिलीज किया गया।
  • एचटीसी ड्रीम एंड्रॉइड पर चलने वाला पहला स्मार्टफोन था जो साल 2008 में बाजार में आया था।
  • एचटीसी ड्रीम स्मार्ट फोन में यूट्यूब, गूगल कैलेंडर, गूगल प्ले स्टोर, जीमेल, गूगल मैप, वेब ब्राउज़र जैसी एप्लीकेशन थी।
  • साल 2013 में एंड्रॉयड बनाने वाले ऐंडी रूबीन ने गूगल कंपनी छोड़ दी।
  • ऐंडी रूबीन के बाद भारतीय मूल के सुंदर पिचाई को एंड्रॉयड का हेड पद प्राप्त हुआ।
  • वर्तमान के समय में सुंदर पिचाई गूगल के सीईओ हैं।

एंड्रॉयड के वर्जन क्या है?

  • Android 1.0 Alpha:- यह साल 2008 में 23 सितंबर को लांच हुआ था।
  • Android 1.1 Beta :- यह साल 2009 में 9 फरवरी को लांच हुआ।
  • Android 1.5 Cupcake :- यह साल 2009 में 27 अप्रैल को लांच हुआ।
  • Android 1.6 Donut :- यह साल 2009 में 15 सितंबर को लांच हुआ।
  • Android 2.1 Eclair :- यह साल 2009 में 26 जून को लांच हुआ।
  • Android 2.3 Froyo :- यह साल 2010 में 20 मई को लांच हुआ।
  • Android 2.3 Gingerbread :- यह एंड्रॉयड वर्जन साल 2010 में 6 दिसंबर को लांच हुआ।
  • Android 3.2 Honeycomb :- यह साल 2011 में 22 फरवरी को लांच हुआ।
  • Android 4.0 Ice Cream Sandwich :- यह साल 2011 में 18 अक्टूबर को लांच हुआ।
  • Android 4.1 Jelly Bean :- यह साल 2012 में 9 जुलाई को लांच हुआ।
  • Android 4.2 Jelly Bean :- यह साल 2012 में 9 जुलाई को लांच हुआ।
  • Android 4.3 Jelly Bean :- यह साल 2012 में 9 जुलाई को लांच हुआ।
  • Android 4.4 KitKat :- यह साल 2013 में 21 अक्टूबर को लांच हुआ।
  • Android 5.0 Lollipop :- यह साल 2014 में 19 नवंबर को लांच हुआ।
  • Android 5.1 Lollipop :- यह साल 2014 में 19 नवंबर को लांच हुआ।
  • Android 6.0 Marshmallow :- यह साल 2015 में अक्टूबर के महीने में लॉन्च हुआ।
  • Android 7.0 Nougat :- यह साल 2015 में 5 अक्टूबर को लांच हुआ।
  • Android 7.1 Nougat :- यह साल 2015 में 5 अक्टूबर को लांच हुआ।
  • Android 8.0 Oreo :- यह साल 2016 में 22 अगस्त को लांच हुआ।
  • Android 8.1 Oreo :- यह साल 2017 में 21 अगस्त को लांच हुआ।
  • Android 9.0 Pie :- यह साल 2018 में 6 अगस्त को लांच हुआ।
  • Android 10 Q :-  यह साल 2019 में 3 सितंबर को लांच हुआ।

एंड्रॉयड के फायदे क्या है? – Advantages of Android in Hindi

1. एंड्रॉइड की सबसे मुख्य विशेषता यह है कि यह किड्स फ्रेंडली है यानी कि बच्चे भी बड़ी ही सरलता के साथ एंड्रॉयड को चला सकते हैं और इसे ऑपरेट कर सकते हैं। एंड्रॉइड का यूज़र इंटरफ़ेस भी काफी शानदार दिखाई देता है।

2. एंड्रॉयड के कारण ही आप अपने फोन की स्क्रीन को 1 अंगुली से भी ऑपरेट कर सकते हैं और 1 से ज्यादा उंगली से भी ऑपरेट कर सकते हैं। जैसे कि आप को जूम करना होता है तो आप 2 उंगली से भी अपनी स्क्रीन को जूम कर सकते हैं। इसे multi-touch कहा जाता है।

3. एंड्रॉयड के जरिए ही हम मल्टीटास्किंग कर पाते हैं, यानी कि हम एक ही साथ अलग अलग अलग एप्लीकेशन को चला सकते हैं।

4. एंड्रॉयड के कारण हमें स्मार्ट फोन में अलग-अलग लैंग्वेज का सिलेक्शन करने का मौका मिलता है। इसके जरिए हम किसी भी लैंग्वेज में स्मार्टफोन को चला सकते हैं।

5. एंड्रॉयड के कारण ही हमें 3G, 4G, जीएसएम, वाईफाई, ब्लूटूथ की सर्विस मिलती है।

ये भी पढ़ें : कंप्यूटर की पीढ़ी की पूरी जानकारी 

6. दुनिया में सबसे ज्यादा एप्लीकेशन एंड्रॉइड के लिए ही बनाई जाती है। इसलिए आप मनपसंद एप्लीकेशन या फिर गेम्स गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड कर सकते हैं।

7. एंड्रॉइड हमेशा अपडेट होता रहता है। इसलिए आपको नए नए फीचर देखने को मिलते हैं।

8. गूगल की तरफ से इसे ओपन सोर्स रखा गया है, ताकि कोई भी डेवलपर इसमें चेंज कर सके।

एंड्रॉइड के नुकसान क्या है? – Disadvantages of Android in Hindi

Android के नुकसान निम्नलिखित हैं:

  • आप उसमें गूगल प्ले स्टोर के अलावा इंटरनेट से भी एप्लीकेशन Install कर सकते हैं। ऐसे में कभी कबार कुछ ऐसी एप्लीकेशन भी इंस्टॉल हो जाती है, जिसमें वायरस होते हैं जो स्मार्टफोन को हैंग करने लगते है।
  • ऐप्स बैकग्राउंड में एक्टिव रहते हैं।
  • एंड्रॉइड के कुछ स्मार्टफोन अब ऐसे आने लगे हैं जिसकी बैटरी निकाली नहीं जा सकती है। इसलिए अगर कभी बैटरी खराब हो जाती है तो उसे बनवाने में नाकों काले चने चबाने पड़ते हैं।
  • एंड्रॉयड स्मार्टफोन में एप्लीकेशन के विजेट ऑटोमेटिक बन जाते हैं, जिसे बार-बार हटाने की आवश्यकता पड़ती है।
  • कम स्पेसिफिकेशन वाले स्मार्टफोन धीमे चलते हैं
  • ऐप्स में कई विज्ञापन भी दिखाई देते है।
  • एंड्रॉयड स्मार्टफोन अपडेट होने में काफी समय लगाते हैं। इसीलिए हमें काफी देर तक अपने स्मार्टफोन से दूरी बनाकर रखनी होती है।

एंड्रॉइड का भविष्य क्या है? – Future of Android

आप यह देख रहे होंगे कि वर्तमान के समय में एंड्रॉइड इस्तेमाल करने वाले लोगों की संख्या लगातार बढ़ रही है और दुनिया में एंड्रॉयड ऑपरेटिंग सिस्टम के ऊपर आधारित स्मार्टफोन बनाने वाली कई कंपनी है और कई नई कंपनियां स्थापित भी हो रही है, जो इस बात को दर्शाता है कि स्मार्टफोन बनाने वाली कंपनियों को एंड्रॉइड का फ्यूचर बहुत ही ब्राइट लग रहा है।

ये भी पढ़ें : Custom Rom in Hindi और Stock Rom in Hindi की पूरी जानकारी

इसलिए वह महंगे महंगे प्लांट स्थापित करने में अरबों खरबों रुपए खर्च कर रहे है। इस प्रकार से यह माना जा सकता है कि एंड्रॉइड का फ्यूचर बहुत ही बढ़िया है और जो इसके साथ जुड़ा रहेगा वह आगे चलकर के फायदे में रहेगा।

एंड्रॉइड (Android) से संबंधित अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

क्या एंड्रॉइड अपडेट के पैसे देने पड़ते हैं?

नहीं

एंड्रॉइड का नया वर्जन कब आता है?

जब एंड्रॉइड के नए वर्जन की घोषणा की जाती है तब इसका नया वर्जन आता है।

एंड्रॉयड स्मार्टफोन अपडेट करने में कितना समय लगता है?

यह अपडेशन की साइज पर निर्भर करता है।

दुनिया में सबसे ज्यादा स्मार्ट फोन कौन से ऑपरेटिंग सिस्टम पर बनाया जाता है?

एंड्रॉयड ऑपरेटिंग सिस्टम

एंड्रॉयड ऑपरेटिंग सिस्टम पर आधारित स्मार्टफोन में एप्लीकेशन कहां से डाउनलोड की जाती है?

गूगल प्ले स्टोर से अथवा इंटरनेट से

एंड्रॉइड फोन का मतलब क्या है?

जो एंड्रॉयड ऑपरेटिंग सिस्टम पर चलता है।

एंड्रॉयड के विकास के लिए आधिकारिक भाषा कौन सी है

जावा

कोई भी ऐप कैसे बनाया जाता है?

कोडिंग और प्रोग्रामिंग लैंग्वेज सीखकर

निष्कर्ष

आशा है आपको एंड्राइड का फायदा क्या है के बारे में पूरी जानकारी मिल गई होगी। अगर अभी भी आपके मन में Android kya hota hai (What is Android in Hindi) और एंड्राइड क्या होता है को लेकर आपका कोई सवाल है तो आप बेझिझक कमेंट सेक्शन में कमेंट करके पूछ सकते हैं। अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे शेयर जरूर करें ताकि सभी को android version kya hota hai में जानकारी मिल सके।

आपको हमारा यह लेख कैसा लगा?

Leave a Comment