अघोर पंथ क्या होता है? अघोरी कैसे बने? जानिए Aghori बनने से जुड़ी सभी जानकारी हिंदी में

आज हम जानेंगे अघोरी (Aghori) कैसे बने पूरी जानकारी (How To Become Aghori In Hindi) के बारे में क्योंकि अगर आप कभी प्रयागराज के कुंभ मेला, नासिक के कुंभ मेला या फिर उज्जैन के कुंभ मेला में गए होंगे, तो वहां पर आपको विभिन्न प्रकार के साधु-संत दिखाई दिए होंगे। इसके अलावा आपको वहां पर नागा साधु भी दिखाई दिए होंगे। इसके अलावा वहां पर ऐसे लोग विशेष तौर पर लोगों के आकर्षण का केंद्र होते हैं जिन्हें अघोरी कहा जाता है।

अघोरी के बारे में जानने के लिए हर कोई उत्सुक रहता है, क्योंकि उन्हें अघोरी के बारे में जैसा टीवी पर दिखाया जाता है, वह वैसा ही उन्हें जानते हैं। इसीलिए जब कोई अघोरी उन्हें दिखाई देता है तो वह उसे एक अलग ही प्रकार की निगाहों से देखते हैं। आज के इस लेख में जानेंगे कि Aghori Kaise Bane, अघोरी बनने के लिए क्या करे, Aghori Kya Hota Hai, अघोरी बनने का तरीका, Aghori Kaise Bante Hain, आदि की सारी जानकारीयां विस्तार में जानने को मिलेंगी, इसलिये पोस्ट को लास्ट तक जरूर पढे़ं।

अघोरी किसे कहते हैं? – What is Aghori Information in Hindi?

Aghori Kaise Bane
Aghori Kaise Bane

सामान्य भाषा में कहा जाए तो जो व्यक्ति शमशान जैसी खतरनाक जगह पर जाकर या फिर जंगलों में जाकर आसानी से रह लेता है और तांत्रिक साधना करता है, उसे अघोरी कहा जाता है। अघोरी हम और आप जैसे ही सामान्य व्यक्ति होते हैं, जो अघोर पंथ में शामिल हो करके और सिद्धियां प्राप्त करके अघोरी कहलाने लगते हैं।

अघोर पंथ किसे कहते हैं? – Who is called Aghor Panth?

अघोर पंथ विभिन्न प्रकार की साधना की बहुत ही रहस्यमई और खतरनाक शाखा मानी जाती है। अघोर पंथ के खुद के नियम होते हैं और खुद की विधि होती है और इनकी जिंदगी जीने का अपना अंदाज ही अलग होता है। जो साधक अघोर पंथी होते हैं उन्हें ही Aghori कहा जाता है। गाय का मांस छोड़कर अघोरी लोग सभी प्रकार के मांस का सेवन करते हैं।

श्मशान साधना का अघोर पंथ में काफी विशेष महत्व बताया गया है, इसीलिए जो भी अघोरी बनना चाहते हैं या फिर जो भी अघोरी बन चुके हैं वह शमशान साधना करना ज्यादा पसंद करते हैं, क्योंकि उनका ऐसा मानना होता है कि शमशान साधना करने से जल्दी फल की प्राप्ति होती है।

अघोरी गाय का मांस क्यों नहीं खाते है? – Why do Aghori not eat beef?

गाय को हमारे हिंदू धर्म में बहुत ही पवित्र जानवर माना गया है और ऐसा कहा गया है कि गाय के अंदर 33 कोटि देवी देवता निवास करते हैं और जैसा कि आप जानते हैं कि अघोरी अधिकतर भगवान शंकर की साधना करते हैं। इसीलिए अघोरी लोग गाय का मांस नहीं खाते हैं और गाय के मांस को छोड़ कर के वह अन्य सभी प्रकार के मांस का सेवन करते हैं।

अघोरी कैसे बने? – How to Become Aghori Information in Hindi?

Aghori साल भर जंगलों में रहते हैं और जैसे ही कुंभ मेला नजदीक आने वाला होता है, तो वह जंगलों से निकलकर कुंभ मेले के आस पास आकर अपना डेरा जमा लेते हैं। अघोरी काफी अच्छी कपालिक क्रिया कर लेते हैं और यह शमशान साधना भी करते हैं तथा विभिन्न प्रकार की सिद्धि प्राप्त करने के लिए तांत्रिक साधना भी करते हैं। हालांकि यह तांत्रिक से काफी ज्यादा अलग होते हैं। अघोरी तंत्र क्रिया करने के लिए ऐसे स्थान का चुनाव करते हैं जहां पर कोई भी व्यक्ति आता-जाता ना हो और जहां पर बिल्कुल एकांत हो, ताकि वह मन लगाकर अपनी श्मशान साधना या फिर तांत्रिक साधना को संपूर्ण कर सकें।

अघोरी बनने के लिए क्या करें? – What to do to Become Aghori?

ऐसे कई लोग इंडिया में है, जो Aghori को देखकर अघोरी बनना चाहते हैं, परंतु अघोरी कैसे बना जाता है उन्हें इसके बारे में कोई भी जानकारी नहीं होती है। अगर आप Aghori बनना चाहते हैं तो आइए जानते हैं कि अघोरी कैसे बने और अघोरी बनने के नियम कौन से हैं।

1. ब्रम्हचर्य का पालन करें

अगर आपको अघोरी बनना है तो आपको अघोरी बनने के कुछ नियमों का पालन भी करना पड़ेगा, जिसमें अघोरी बनने का सबसे महत्वपूर्ण जो नियम है वह यह है कि आपको ब्रह्मचर्य का पालन करना पड़ेगा। Aghori लोग सभी को समान भाव की दृष्टि से देखते हैं फिर चाहे वह कोई कुरूप पुरुष या फिर महिला हो या फिर कोई सुंदर पुरुष अथवा महिला हो, उनके लिए इंसान जानवर सभी समान होते हैं। वह ना तो किसी से घृणा करते हैं ना ही किसी को नफरत की निगाहों से देखते हैं। इस प्रकार Aghori बनने के लिए सबसे पहले ब्रह्मचर्य का पालन करें।

2. अपने मन से नफरत को निकाल दे

अगर आपको अघोरी बनना है तो आपको अपने मन से नफरत को बिल्कुल ही निकाल देना है। अघोरी लोग बिल्कुल ही सहज होते हैं। मतलब कि ना तो वह किसी से नफरत करते हैं ना हीं यह किसी के प्रति बुरा विचार रखते हैं। हालांकि यह क्रोधित होने पर व्यक्ति को तुरंत ही श्राप दे सकते हैं, परंतु यह सामान्य अवस्था में किसी भी व्यक्ति से किसी भी प्रकार की नफरत नहीं रखते हैं। इन्हें इससे कोई भी मतलब नहीं होता है कि सामने वाले व्यक्ति का स्वभाव कैसा है या फिर उसका गुण कैसा है। यह अपनी चाल में मस्त होते हैं।

3. सब कुछ खाने के लिए तैयार रहें

आपने अक्सर टीवी में देखा होगा कि टीवी में ऐसा दिखाया जाता है कि, अघोरी लोग इंसानों का मांस भी खा लेते हैं और बहुत दिनों पुराना सड़ा गला मास भी खा लेते हैं, जिसके पीछे ऐसी मान्यता है कि अघोरी लोग ऐसा करके यह दिखाना चाहते हैं कि वह किसी भी चीज से घृणा नहीं करते हैं और ऐसा करने से उनके मन से घृणा भी निकल जाती है‌। सामान्य लोग श्मशान, मुर्दे का मांस, जानवरों का मांस और लास से नफरत करते हैं परंतु Aghori लोग इन्हें प्यार के साथ अपनाते हैं‌, क्योंकि जंगलों में रहते रहते हैं यह इसके आदी बन जाते हैं, जिसके बाद इनके मन से जानवर और इंसान के प्रति सारी घृणा निकल जाती है।

4. घर परिवार त्यागने के लिए तैयार रहें

अघोरी बनना इतना आसान नहीं है। Aghori बनने के लिए आपको बहुत सी चीजों का त्याग करना पड़ता है, जिसमें से ही एक चीज है घर परिवार का त्याग करना। जैसा कि आप जानते हैं कि अघोरी लोग अक्सर जंगलों में रहते हैं या फिर किसी ऐसे स्थान पर रहते हैं, जहां पर ज्यादा शोर शराबा ना होता हो और जहां पर वह अपनी साधना या फिर तांत्रिक क्रिया आसानी के साथ कर सके और यह सब भीड़भाड़ वाले इलाके में या फिर घर पर रहकर करना संभव नहीं होता है।

इसीलिए Aghori लोग अघोरी बनने के लिए और साधना करने के लिए जंगलों में तथा एकांत स्थानों में चले जाते हैं और यह तब संभव हो पाता है जब उनके अंदर अपने घर परिवार को छोड़ने की हिम्मत आ जाती है। अगर आपने शादी नहीं की है तो यह आपके लिए अच्छी बात है परंतु अगर आपने शादी कर ली है और उसके बाद आपके मन के अंदर अघोरी बनने की इच्छा उत्पन्न हो रही है, तो सबसे पहले आपको अपने अंदर यह दम पैदा करना पड़ेगा कि आप अपने घर परिवार को त्याग सकें और एक अघोरी बनने की राह पर आगे बढ़ने के लिए सांसारिक मोह माया से दूर जा सके।

5. मन को एकाग्र करें

Aghori बनने के लिए आपको अपने मन को भी एकाग्र करना पड़ेगा। जैसा कि आप जानते हैं कि अघोरी लोग सिद्धियां प्राप्त करने के लिए अपने घर परिवार को छोड़ते हैं। ऐसी अवस्था में जब वह जंगल में जाकर साधना करते हैं तो साधना में सिद्धि हासिल करने के लिए या फिर साधना को संपूर्ण करने के लिए उनका मन एकाग्र होना चाहिए। अगर उनका मन जंगलों में भी यहां वहां भटकेगा, तो वह कभी भी अघोरी नहीं बन सकते। अघोरी बनने के लिए आपको पूरी एकाग्रता के साथ अपनी साधना को करना पड़ेगा, तभी आप एक अघोरी बन पाएंगे।

6. मन में वासना ना लाए

Aghori बनने के लिए आपको वासना से भी दूर रहना पड़ेगा, क्योंकि अघोरी लोग वासना से रहित होते हैं। वह किसी भी सुंदर स्त्री को देखकर कामातुर नहीं होते हैं, ना ही उनके मन में सुंदर स्त्री के प्रति कोई भी दुर्भावना उत्पन्न होती है, क्योंकि अघोरी बनने के दरमियान उन्हें इस बात की जानकारी हो जाती है कि वही व्यक्ति सच्चा अघोरी कहलाता है जिसके मन में वासना ना हो और जो सभी को एक समान दृष्टि से देखें।

7. समय दें

जब आप Aghori बनने के लिए निकल पड़ते हैं तो आपको अघोरी बनने के लिए काफी परिश्रम और समय देना पड़ता है। ऐसा नहीं है कि आप एक दिन में ही अघोरी बन जाएंगे, क्योंकि आपसे पहले ही कई अघोरी लोग सालों साल तपस्या करके ही अघोरी बने हैं। इसीलिए आपको संयम के साथ और धैर्य के साथ अपनी साधना करनी चाहिए। ऐसा करने से निश्चित ही एक ना एक दिन आप अघोरी बनने में अवश्य कामयाब हो जाएंगे।

8. गुरु बनाएं

जब आप जंगलों में अघोरी बनने की साधना करने जाते हैं तो आपको वहां पर किसी न किसी व्यक्ति को अपना गुरु अवश्य बनाना चाहिए, क्योंकि गुरु आपको अघोरी कैसे बना जाता है और अघोरी बनने के लिए कौन से नियमों का पालन करना पड़ता है, इसकी पूरी जानकारी देता है और आपको अगर बीच में किसी भी प्रकार की कठिनाई Aghori बनने में आती है तो गुरु आपकी उस कठिनाई का समाधान करने का प्रयास भी करता है। गुरु का हमारी जिंदगी में होना बहुत ही महत्वपूर्ण होता है क्योंकि गुरु ही हमें अच्छे और बुरे के बारे में बताता है और हमें आगे बढ़ने के रास्ते बताता है।इसीलिए अगर आपको अघोरी बनना है तो गुरु अवश्य बनाना पड़ेगा।

9. मंत्रों की जानकारी लें

अघोरी बनकर यह जाहिर सी बात है कि आप कोई तांत्रिक साधना या फिर सिद्धि प्राप्त करना चाहते हैं। ऐसे में आपको तांत्रिक साधना किस प्रकार की जाती है और मंत्रों का जाप किस प्रकार कितनी संख्या में और कौन सी माला से तथा कैसे करना चाहिए, इसकी जानकारी भी लेनी चाहिए,ताकि आप पूरी तैयारी के साथ तांत्रिक साधना को स्टार्ट कर सकें और अपनी तांत्रिक साधना में सिद्धि प्राप्त कर सकें।

निष्कर्ष

आशा करते हैं कि आपको Aghori Details In Hindi की पूरी जानकारी प्राप्त हो चुकी होगी। अगर फिर भी आपके मन में Aghori Kaise Bane (How To Become Aghori In Hindi) और अघोरी कैसे बने? को लेकर कोई सवाल हो तो, आप बेझिझक Comment Section में Comment कर पूछ सकते हैं।

अगर यह जानकारी पसंद आया हो तो, जरूर इसे Share कर दीजिए ताकि Aghori Kya Hota Hai बारे में सबको जानकारी प्राप्त हो।

About Ainain

aghoriमैं इस ब्लॉग का संस्थापक और एक पेशेवर ब्लॉगर हूं। यहाँ पर मैं नियमित रूप से अपने पाठकों के लिए उपयोगी और मददगार जानकारी साझा करता हूं। ❤️

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.