ट्रैवल एजेंट क्या होता है? Travel Agent कैसे बने? जानिए Travel Agent बनने से जुड़ी सभी जानकारी हिंदी में

आज हम जानेंगे ट्रैवल एजेंट (Travel Agent) कैसे बने पूरी जानकारी (How To Become Travel Agent Details In Hindi) के बारे में क्योंकि इंसान एक ही जगह पर रह कर कभी-कभी काफी ज्यादा बोर हो जाता है। ऐसे में कुछ नया और एंटरटेनिंग करने के लिए तथा अपने माइंड को फ्रेश करने के लिए वह किसी ऐसी जगह की यात्रा पर जाता है जो उसे पसंद होती है। घूमना फिरना लगभग हर किसी को पसंद होता है, ऐसे में अगर आप ट्रैवल एजेंट बनकर लोगों को घूमने फिरने में उनकी हेल्प करते हैं तो आप इस बिजनेस के जरिए अच्छी कमाई कर सकते हैं।

ट्रैवल एजेंट बनकर आपके पास कमाई करने के कई रास्ते होते हैं। आज के इस लेख में जानेंगे कि Travel Agent Kaise Bane, ट्रैवल एजेंट बनने के लिए क्या करे, Travel Agent Meaning In Hindi, Travel Agent Kya Hota Hai, ट्रैवल एजेंट बनने का तरीका, Travel Agent Kaise Bante Hain, आदि की सारी जानकारीयां विस्तार में जानने को मिलेंगी, इसलिये पोस्ट को लास्ट तक जरूर पढे़ं।

ट्रैवल एजेंट क्या होता है? – What is Travel Agent Information in Hindi?

Travel Agent Kaise Bane
Travel Agent Kaise Bane

जो व्यक्ति एक कस्टमर को ट्रेवल से रिलेटेड प्रोडक्ट ओर सर्विस देता है उसे ट्रैवल एजेंट के तौर पर जाना जाता है। इसके अलावा हम यह भी कह सकते हैं कि ऐसा व्यक्ति जो घूम घूम कर ग्राहकों को टिकट की सेलिंग करता है, उसे ट्रैवल एजेंट कहा जाता है। ट्रैवल एजेंट कस्टमर को विभिन्न जगहों पर जाने के लिए ट्रैवल करने की सर्विस उपलब्ध करवाता है। ट्रैवल एजेंट ग्राहकों को यात्रा से संबंधित गाइडेंस देता है और उनके मन में यात्रा से संबंधित जो भी सवाल होते हैं उनका जवाब देता है। कुल मिलाकर ट्रैवल एजेंट टूरिज्म इंडस्ट्री से जुड़ा हुआ व्यक्ति होता है।

ट्रैवल एजेंट बनने के लिए क्या करें? – What to do to Become a Travel Agent?

वर्तमान के समय में दुनिया में ऐसे कई बिजनेस हो गए हैं, जिनकी स्टार्टिंग आप खुद से भी कर सकते हैं और उन्हीं में से एक बिजनेस है ट्रैवल एजेंट का बिजनेस। हमारे इंडिया में ऐसे कई लोग हैं, जो ट्रैवल एजेंट बनकर बिजनेस कर रहे हैं और इसके द्वारा काफी अच्छी इनकम जनरेट कर रहे हैं। आप भी इस बिजनेस को काफी कम इन्वेस्टमेंट में स्टार्ट कर सकते हैं।

ट्रैवल एजेंट बिजनेस की सबसे खास बात यह है कि आप चाहे तो इसे किसी ऑफिस के द्वारा भी स्टार्ट कर सकते हैं या फिर आप अपने घर पर रहकर भी इस बिजनेस को चालू कर सकते हैं। अगर आप ऑफिस के द्वारा ट्रैवल एजेंट के बिजनेस को स्टार्ट करते हैं तो आपको टेलीफोन, फर्नीचर, हेल्पर की जरूरत पड़ेगी, जिसके लिए आपको कुछ इन्वेस्टमेंट भी करना पड़ेगा और अगर आपके पास पैसे की कमी है तो आप इस बिजनेस को अपने घर से भी स्टार्ट कर सकते हैं।

ट्रैवल एजेंट कैसे बने? – How to Become a Travel Agent?

ट्रैवल एजेंट का बिजनेस स्टार्ट करने के लिए अथवा ट्रैवल एजेंट बनने के लिए आपको मुख्य तौर पर कंप्यूटर लैपटॉप प्रिंटर और स्मार्टफोन की आवश्यकता पड़ती है। अगर आपने यह निश्चय कर लिया है कि आप ट्रैवल एजेंट बनना चाहते हैं तो नीचे हम आपको ट्रैवल एजेंट बनने के लिए क्या करना पड़ता है, इसकी पूरी जानकारी विस्तार से दे रहे हैं।

ट्रैवल एजेंट बनने के लिए शैक्षिक योग्यता – Educational Qualification to become a Travel Agent

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि ट्रैवल एजेंट बनने के लिए शैक्षिक योग्यता से ज्यादा व्यक्ति के हुनर को महत्व दिया जाता है, फिर भी जैसा कि आप जानते हैं कि ट्रैवल एजेंट बनने के लिए पढ़ाई का महत्व तो होता ही है, ऐसे में अगर व्यक्ति दसवीं अथवा 12वीं कक्षा भी पास है तो भी यह उसके लिए ही फायदेमंद साबित होगा।

ट्रैवल एजेंट बनने के लिए एजेंसी का पंजीकरण कैसे करें? – How to Register an Agency to Become a Travel Agent?

अगर आप ट्रैवल एजेंट बनने के लिए अपनी ट्रैवल एजेंसी का रजिस्ट्रेशन करवाना चाहते हैंतो इसके लिए सबसे पहले आपको मिनिस्ट्री ऑफ टूरिज्म की ऑफिशल वेबसाइट etraveltradeapproval.nic.in पर जाना होगा। वहां पर आपको लॉगइन आईडी क्रिएट करनी होगी। उसके बाद आपसे जो भी जानकारी मांगी जाएगी, आपको उसे भरना होगा और आवश्यक डॉक्यूमेंट को अटैच करके आपको सबमिट वाली बटन दबानी होगी। इस प्रकार आप अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं।

ट्रैवल एजेंट बनने के फायदे – Benefits of becoming a Travel Agent

जो भी व्यक्ति ट्रैवल एजेंट बन जाता है, उसे निम्न फायदे मिलते हैं।

  • ट्रैवल एजेंट बनने के बाद व्यक्ति होटल की बुकिंग, हवाई जहाज की बुकिंग, बस की बुकिंग, रेलवे की बुकिंग,टूर पैकेज की बुकिंग, हॉलिडे की बुकिंग, हनीमून की बुकिंग कर सकता है और पैसे कमा सकता है।
  • ट्रैवल एजेंट बनने के बाद व्यक्ति फोन रिचार्ज, डीटीएच रिचार्ज और अन्य सभी प्रकार के बिल की पेमेंट कर सकता है।
  • ट्रैवल एजेंट चाहे तो खुद के टूर packages भी लॉन्च कर सकता है और कमाई कर सकता है।
  • ट्रैवल एजेंट बनने के बाद व्यक्ति ऑनलाइन बैंकों में ट्रांजैक्शन कर सकता है।
  • ट्रैवल एजेंट बनने के बाद व्यक्ति हर सर्विस देने के बदले अच्छी कमीशन प्राप्त कर सकता है।

ट्रैवल एजेंट का काम – Work of a Travel Agent?

ट्रैवल एजेंसी का मुख्य लोगों को यात्रा करने के लिए टिकट उपलब्ध करवाना होता है, इसके साथ ही विभिन्न प्रकार के टूर पैकेज को क्रिएट करना और उन्हें सस्ते दामों पर कस्टमर के लिए उपलब्ध करवाना भी ट्रैवेल एजेंट का काम होता है। ट्रैवल एजेंसी एंटरटेनमेंट के अलावा, टूरिज्म से संबंधित विभिन्न प्रकार की सर्विस ग्राहकों को प्रोवाइड करवाती है।

ट्रैवल एजेंट बनने के लिए कौशल – Skills to Become a Travel Agent

एक सक्सेसफुल ट्रैवल एजेंट बनने के लिए व्यक्ति के अंदर निम्न कौशल होने चाहिए।

1. सक्सेसफुल ट्रैवल एजेंट बनने के लिए व्यक्ति की कम्युनिकेशन स्किल्स यानी बातचीत करने की कला अच्छी होनी चाहिए, क्योंकि एक ट्रेवल एजेंट में बातचीत करने की कला अच्छी होना बहुत ज्यादा मायने रखता है, क्योंकि एक ट्रैवल एजेंट को कस्टमर को अपनी ट्रैवल एजेंसी की सर्विस लेने के लिए मनाना होता है।

2. ऐसे में अगर उसके अंदर बात करने की अच्छी कला है तो वह आसानी से ग्राहकों को अपनी ट्रैवल एजेंसी या फिर अपने साथ जोड़ सकता है, जो एक ट्रैवल एजेंसी और ट्रैवल एजेंट के लिए ही फायदेमंद साबित होंगे।

3. अगर आपकी कम्युनिकेशन स्किल्स अच्छी नहीं है, तो आप उसे डेवलप करने के लिए पर्सनैलिटी डेवलपमेंट कोर्स कर सकते हैं।

4. ट्रैवल एजेंट बनने के लिए आपके अंदर ट्रैवल इंडस्ट्री का अच्छा खासा ज्ञान होना चाहिए और आपको लगातार ट्रैवल इंडस्ट्री से संबंधित अपने ज्ञान को बढ़ाने की कोशिश करनी चाहिए।

5. ट्रैवल एजेंट बनने के लिए आपको हमेशा अपने अंदर इमानदारी रखनी होगी और आपको हमेशा अपने कस्टमर को ट्रेवल और उससे संबंधित सेवाओं के बारे में सच्ची इंफॉर्मेशन ही देनी होगी, ताकि ग्राहक आपके ऊपर भरोसा करें और आप एक ईमानदार और भरोसेमंद ट्रैवल एजेंट के तौर पर मार्केट में स्थापित हो।

6. ट्रैवल एजेंट बनने के लिए आपको इंडिया के लगभग अधिकतर फेमस प्लेस के बारे में जानकारी रखनी होगी। आपको इस बात की जानकारी रखनी होगी कि कौन सी जगह की खासियत क्या है, वहां का मौसम कैसा है, वहां के लोग कैसे हैं, ताकि जब कोई कस्टमर आपके पास किसी विशेष जगह पर जाने के लिए टिकट बुकिंग करने के लिए आए तो आप उसे उस जगह के बारे में पूरी इंफॉर्मेशन दे सकें।

ट्रैवल एजेंट बनने की प्रक्रिया क्या है? – Process to Become a Travel Agent

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, हमारे इंडिया में आप दो प्रकार से ट्रैवल एजेंट बन सकते हैं, जिसमें पहला तरीका यह है कि आप किसी फेमस ट्रैवल एजेंसी की फ्रेंचाइजी ले ले और दूसरा तरीका यह है कि आप खुद की ट्रैवल एजेंसी शुरू करें। आइए इन दोनों तरीकों के बारे में जानते हैं।

1. फ्रेंचाइजी लेकर ट्रैवल एजेंट बने

अगर आप ट्रैवल एजेंट बनना चाहते हैं तो इसके लिए पहली प्रक्रिया में आप किसी फेमस में ट्रेवल एजेंसी की फ्रेंचाइजी ले सकते हैं और ट्रैवल एजेंट बन सकते हैं। इसके लिए सबसे पहले आपको किसी भी फेमस ट्रैवल एजेंसी कंपनी के साथ कॉन्ट्रैक्ट करना होगा। अगर आप किसी भी फेमस ट्रैवल एजेंसी के साथ कॉन्ट्रैक्ट करते हैं तो इससे फायदा यह होगा कि आपके बिजनेस को स्टार्ट करने में आधे से ज्यादा पैसा वह कंपनी ही लगाएगी, जिसके साथ आपने कॉन्ट्रैक्ट किया है। इस प्रकार कम इन्वेस्टमेंट में आपका बिजनेस स्टार्ट हो जाएगा।

बिजनेस स्टार्ट हो जाने के बाद आपको अपने बिजनेस को तरक्की की राह पर आगे ले जाने के लिए कठिन मेहनत करनी होगी, ताकि आपका बिजनेस चले और आप एक सक्सेसफुल ट्रैवल एजेंट के तौर पर मार्केट में स्थापित हो सके। किसी भी ट्रैवल एजेंसी की फ्रेंचाइजी लेने के लिए आपको तकरीबन ₹2,00000 से लेकर ₹5,00000 तक का इन्वेस्टमेंट करना पड़ सकता है। हालांकि आप जितना भी इन्वेस्टमेंट करते हैं अगर आपने अच्छा काम किया होगा तो वह आपका एक साल में कवर भी हो जाता है, इंडिया की बात करें तो आप इंडिया में निम्न ट्रैवल एजेंसी की फ्रेंचाइजी ले सकते हैं और ट्रैवल एजेंट बन करके अच्छी कमाई कर सकते हैं।

  • Yatra.com
  • redbus.com
  • travel.com
  • Makemytrip.com

2. खुद की ट्रैवल एजेंसी खोलें

अगर आपके पास अच्छा खासा बजट है, साथ ही आप खुद की ट्रैवल एजेंसी खोलकर ट्रैवल एजेंट बनना चाहते हैं और कमाई करना चाहते हैं तो आप ऐसा निश्चित तौर पर यह‌ कर सकते हैं। खुद की ट्रैवल एजेंसी खोलने के लिए आपको काफी ज्यादा भारी भरकम निवेश करने की आवश्यकता होती है। एक अंदाज के तौर पर देखा जाए तो खुद की ट्रैवल एजेंसी खोलने के लिए आपको तकरीबन 11 लाख से ₹15लाख तक का इन्वेस्टमेंट करना पड़ सकता है‌। खुद की ट्रैवल एजेंसी खोलने का फायदा यह होता है कि आप अपनी ट्रेवल एजेंसी से जो भी फायदा कमाते हैं वह आपका ही होता है और आपके प्रॉफिट में कोई भी अन्य व्यक्ति हिस्सेदार नहीं होता है।

ट्रैवल एजेंट का वेतन – Salary of Travel Agent

जब कोई व्यक्ति किसी ट्रैवल एजेंसी के साथ जुड़कर ट्रैवल एजेंट की नौकरी करता है तो शुरुआत में उसे हर महीने सैलरी के तौर पर तकरीबन ₹16,000 से लेकर ₹20,000 की सैलरी प्राप्त होती है इसके बाद जब उसे कुछ साल का एक्सपीरियंस ट्रैवल एजेंसी में हो जाता है और फिर वह अपनी खुद की ट्रैवल एजेंसी ओपन करता है तो वह ट्रैवल एजेंसी के बिजनेस को करके लाखों रुपए भी कमा सकता है। ट्रैवल एजेंट की सबसे खास बात यह है कि इसमें जब एक बार आपके ग्राहक विभिन्न लोग बन जाते हैं तो उसके बाद आपको ग्राहकों को ढूंढने की आवश्यकता नहीं होती है बल्कि ग्राहक खुद ही आपको ढूंढता है।

निष्कर्ष

आशा है आपको Travel Agent Details In Hindi के बारे में पूरी जानकारी मिल गई होगी। अगर अभी भी आपके मन में Travel Agent Kaise Bane (How To Become Travel Agent In Hindi) और ट्रैवल एजेंट  कैसे बने? को लेकर आपका कोई सवाल है तो आप बेझिझक कमेंट सेक्शन में कमेंट करके पूछ सकते हैं।  अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे शेयर जरूर करें ताकि सभी को Travel Agent Kya Hota Hai के बारे में जानकारी मिल सके।

About Ainain

मैं इस ब्लॉग का संस्थापक और एक पेशेवर ब्लॉगर हूं। यहाँ पर मैं नियमित रूप से अपने पाठकों के लिए उपयोगी और मददगार जानकारी साझा करता हूं। ❤️

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.