डेटा साइंटिस्ट क्या होता है? Data Scientist कैसे बने? जानिए Data Scientist बनने से जुड़ी सभी जानकारी हिंदी में

आज हम जानेंगे डेटा साइंटिस्ट (Data Scientist) कैसे बने पूरी जानकारी (How To Become Data Scientist Details In Hindi) के बारे में क्योंकि आधुनिक युग में अधिकतर कार्यों को करने के लिए डाटा का ही इस्तेमाल किया जाता है। आपकी इंफॉर्मेशन के लिए बता दें कि, डाटा साइंस एक ऐसा विज्ञान है, जो कई जगह पर छुपे हुए तरीकों से कार्य करती है। डाटा साइंस को एक प्रकार से आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का फ्यूचर भी कहा जाता है। इसलिए ऐसे बहुत कम ही लोग हैं जिन्हें डाटा साइंस के बारे में पूरी इंफॉर्मेशन है, बल्कि अधिकतर लोग इसके बारे में कुछ भी नहीं जानते हैं।

डाटा साइंस क्या है, इसके बारे में जानने की इच्छा अधिकतर लोगों को होती है, क्योंकि यह एक ऐसा शब्द है, जो आजकल लोगों को काफी सुनने में आ रहा है। आज के इस लेख में जानेंगे कि Data Scientist Kaise Bane, डेटा साइंटिस्ट बनने के लिए क्या करे, Data Scientist Meaning In Hindi, Data Scientist Kya Hota Hai, डेटा साइंटिस्ट बनने का तरीका, Data Scientist Kaise Bante Hain, आदि की सारी जानकारीयां विस्तार में जानने को मिलेंगी, इसलिये पोस्ट को लास्ट तक जरूर पढे़ं।

डेटा साइंटिस्ट क्या होता है? – What is a Data Scientist Information in Hindi?

विषय-सूची

Data Scientist Kaise Bane
Data Scientist Kaise Bane

डाटा साइंटिस्ट एक ऐसा व्यक्ति होता है, जो डाटा की चेकिंग करता है और उस डाटा में से महत्वपूर्ण इंफॉर्मेशन को बाहर निकालता है। डाटा साइंस अर्थात डाटा का विश्लेषण करके उसमें से महत्वपूर्ण इंफॉर्मेशन को बाहर निकालना। कई कंपनियां अपने बिजनेस को प्रमोट करने के लिए और अपने बिजनेस की मार्केटिंग करने के लिए ऐसे लोगों को नौकरी पर रखती हैं, जो इंटरनेट पर सर्च किए जाने वाले डाटा को इकट्ठा करते हैं और डाटा को इकट्ठा करके उनका एनालिसिस करते हैं और इसी विश्लेषण के बेस पर कंपनी अपने बिजनेस की तरक्की के लिए महत्वपूर्ण कदम उठाती है, जो व्यक्ति इस काम को करते हैं उसे डाटा एनालिस्ट या डाटा साइंटिस्ट कहा जाता है।

डेटा साइंटिस्ट कैसे बनें? – How to Become Data Scientist Information in Hindi?

एडवांस टेक्नोलॉजी के कारण धीरे-धीरे मार्केट में डेटा साइंटिस्ट की डिमांड बढ़ने लगी है। ऐसे में अगर कोई व्यक्ति डाटा साइंटिस्ट बनने के बारे में सोच रहा है या फिर डाटा साइंस की फील्ड में करियर बनाने के बारे में विचार कर रहा है, तो डाटा साइंस उसके लिए बहुत ही बढ़िया करियर ऑप्शन साबित हो सकता है। क्योंकि आज के समय में चार्टर्ड अकाउंटेंट और इंजीनियर की तुलना में डेटा साइंटिस्ट काफी अच्छी सैलरी प्राप्त कर रहे हैं। यही कारण है कि 21वीं सदी की सबसे बेस्ट नौकरी की लिस्ट में एक मैग्जीन ने डाटा साइंटिस्ट की नौकरी को शामिल किया है।

डाटा साइंटिस्ट बनने के लिए क्या करें? – What to do to become a Data Scientist?

किसी भी लक्ष्य को अथवा मंजिल को प्राप्त करने के लिए जब आदमी को उसका सही रास्ता पता होता है, तभी वह एक रणनीति के तहत धीरे धीरे आगे बढ़ता है और अपनी मंजिल को प्राप्त करता है। इसी प्रकार अगर कोई अभ्यर्थी डेटा साइंटिस्ट बनना चाहता है और डाटा साइंस की फील्ड में अपना करियर बनाना चाहता है, तो उसे यह जानकारी होनी चाहिए कि डेटा साइंटिस्ट कैसे बना जाता है और डाटा साइंटिस्ट बनने के लिए कितनी पढ़ाई करनी पड़ती है। नीचे आप इन सभी बातों के बारे में जानेंगे

डेटा साइंटिस्ट बनने के लिए योग्यता – Qualification to become Data Scientist

ऐसे महिला और पुरुष अभ्यर्थियों के पास कंप्यूटर साइंस,आईटी, स्टैटिक्स, मैथमेटिक्स, बिजनेस स्टडीज या फिर फिजिक्स सब्जेक्ट में बैचलर डिग्री होनी चाहिए, जो डाटा साइंस की फील्ड में अपना करियर बनाना चाहते हैं और डाटा साइंटिस्ट बनना चाहते हैं। डाटा साइंस की फील्ड में करियर बनाने के लिए अधिकतर विद्यार्थी एमसीए, बीटेक, कंप्यूटर साइंस, बीएससी, आईटी, बीएससी कंप्यूटर साइंस, बीएसए, बीटेक आईटी जैसे बैचलर डिग्री के कोर्स को पूरा करते हैं, जिसके पीछे मुख्य वजह है इन कोर्स को करने पर विद्यार्थियों को प्रोग्रामिंग लैंग्वेज की इनफार्मेशन हासिल हो जाती है, जो कि डेटा साइंटिस्ट बनने के लिए बहुत ही काम आती है।

डेटा साइंटिस्ट बनने की प्रक्रिया क्या है? – Process to become Data Scientist

नीचे आप जानेंगे कि डेटा साइंटिस्ट कैसे बना जाता है अथवा डाटा साइंटिस्ट बनने की प्रोसेस क्या है।

1. स्नातक की डिग्री पूरी करें

डेटा साइंटिस्ट की पोस्ट प्राप्त करने के लिए अभ्यर्थियों को बैचलर डिग्री को कंप्लीट करना पड़ेगा। अपनी बैचलर डिग्री को अभ्यर्थी कंप्यूटर साइंस, मैथमेटिक्स, बिजनेस स्टडी, फिजिक्स सब्जेक्ट, आईटी, स्टैटिक्स में कंप्लीट कर सकते हैं।

2. नौकरी के लिए अप्लाई करें

डाटा साइंस से रिलेटेड बैचलर डिग्री को पूरा करने के बाद आपको डाटा साइंस की काफी अच्छी इंफॉर्मेशन प्राप्त हो जाती है। इसके बाद आपको किसी कंपनी में डेटा साइंटिस्ट की पोस्ट के लिए अप्लाई करना पड़ता है। अगर आपका सिलेक्शन हो जाता है, तो आप डेटा साइंटिस्ट की पोस्ट प्राप्त कर लेते हैं और उसके बाद आप डाटा साइंटिस्ट के तहत अपना वर्क स्टार्ट कर सकते हैं।

डेटा साइंटिस्ट का काम क्या है? – Work of a Data Scientist

जैसा कि हमने आपको ऊपर बताया कि बड़ी और छोटी कंपनियां अपने बिजनेस की मार्केटिंग करवाने के लिए और अपने बिजनेस को प्रमोट करने के लिए कुछ ऐसे लोगों को हायर करती हैं, जिन्हें डाटा साइंटिस्ट कहा जाता है‌। डेटा साइंटिस्ट इंटरनेट पर सर्च किए जाने वाले शब्दों के डाटा को इकट्ठा करता है और फिर उनका व्यवस्थित तरीके से एनालिसिस करता है और उस डाटा का एनालिसिस प्राप्त करने के बाद जो रिजल्ट प्राप्त होते हैं, वह रिजल्ट डाटा साइंटिस्ट उन कंपनियों को देता है, जिसके लिए वह काम करता है‌।

इसके बाद वह कंपनी उस एनालिसिस के आधार पर ही यह रणनीति अपनी कंपनी की मैनेजमेंट टीम के साथ मिलकर बनाती है कि, कंपनी को तरक्की के रास्ते पर किस प्रकार से लेकर जाया जाए और कंपनी की तरक्की के लिए कौन से आवश्यक कदम उठाने हैं।

डाटा साइंस कोर्स करने के बाद किन पदों पर नौकरी कर सकते हैं?

  • डेटा साइंटिस्ट
  • डेटा एनालिस्ट
  • बिजनेस एनालिस्ट
  • डेटा एनालिस्ट मैनेजर
  • डेटा आर्किटेक्ट
  • डेटा एडमिनिस्ट्रेटर
  • बिजनेस इंटेलिजेंस मैनेजर

डेटा साइंटिस्ट बनने के फायदे – Benefits of becoming Data Scientist

डेटा साइंटिस्ट बनने का मुख्य फायदा है वह यह है कि अभ्यर्थी को काफी अच्छी सैलरी इस फील्ड में प्राप्त होती है। जैसा कि हमने आपको ऊपर बताया कि डाटा साइंटिस्ट को अगर 5 साल का एक्सपीरियंस प्राप्त हो जाता है, तो उसके बाद उसकी सालाना सैलरी तकरीबन 75 लाख के आसपास तक होती है। यानी कि 5 साल का एक्सपीरियंस प्राप्त करने के बाद एक डेटा साइंटिस्ट महीने में ₹4,00000 से लेकर साढे ₹5,00000 तक भी कमा सकता है और अगर यह नौकरी वह विदेशों में करता है, तो उसकी महीने की इनकम और भी ज्यादा हो सकती है‌।

इसके अलावा डेटा साइंटिस्ट बनने के फायदे के बारे में बात करें, तो डाटा साइंटिस्ट बनने के बाद व्यक्ति की लॉजिकल थिंकिंग काफी ज्यादा इंप्रूव होती है। क्योंकि डाटा साइंटिस्ट जो काम करता है, उसमें उसके दिमाग का काफी ज्यादा इस्तेमाल होता है। इस प्रकार उसका दिमाग तेज बनता है और उनके सोचने और समझने की शक्ति में भी बढ़ोतरी होती है। डेटा साइंटिस्ट बन करके आप एक साथ ही कई कंपनियों के प्रोजेक्ट को हैंडल कर सकते हैं और अपनी इनकम को और भी ज्यादा बढ़ा सकते हैं। यही नहीं आप Freelancing कर के भी पैसे कमा सकते हैं।

डेटा साइंटिस्ट बनने के लिए कौशल – Skills to Become Data Scientist

डाटा साइंटिस्ट बनने के लिए और डाटा साइंस की फील्ड में करियर बनाने के लिए व्यक्ति के अंदर निम्न स्किल्स होनी चाहिए।

  • डेटा साइंटिस्ट बनने के लिए व्यक्ति को पाइथन कोडिंग लैंग्वेज की इनफार्मेशन होनी चाहिए। इसके साथ ही उसे जावा, purl और C++ की भी इंफॉर्मेशन होनी चाहिए।
  • डाटा साइंटिस्ट बनने के लिए व्यक्ति को sql डाटाबेस कोडिंग की भी इंफॉर्मेशन होनी चाहिए, क्योंकि कई कंपनियां यह उम्मीद करती हैं कि डेटा साइंटिस्ट एसक्यूएल लिखें और समझे।
  • डेटा साइंटिस्ट बनने के लिए अभ्यर्थी को अनस्ट्रक्चर्ड डाटा को भी समझना पड़ेगा। इसके लिए वह वीडियो, ऑडियो या फिर सोशल मीडिया की हेल्प ले सकता है‌
  • अभ्यर्थी के अंदर हमेशा कुछ नई चीजों को सीखने की जिज्ञासा होनी चाहिए।
  • डाटा साइंटिस्ट बनने के लिए व्यक्ति को डाटा साइंस की फील्ड के बारे में अच्छे इंफॉर्मेशन होनी चाहिए और उसे सभी प्रकार की बिजनेस प्रॉब्लम का अच्छे से पता होना चाहिए, ताकि वह उन बिजनेस प्रॉब्लम को सॉल्व कर सके।
  • एक डेटा साइंटिस्ट को इस बात की इंफॉर्मेशन होनी चाहिए कि, कौन सी प्रॉब्लम का सलूशन पहले निकालना है।

डेटा साइंटिस्ट की जिम्मेदारियां – Responsibilities of Data Scientist

डेटा साइंटिस्ट की मुख्य तौर पर यही जिम्मेदारी है कि वह इंटरनेट से जो डाटा प्राप्त करता है, उसका पूर्ण रूप से एनालिसिस करें और एनालिसिस प्राप्त करने के बाद जो रिजल्ट प्राप्त होते हैं, उसे अपने कंपनी को दें, ताकि कंपनी उस रिजल्ट के आधार पर अपनी मार्केटिंग स्ट्रेटजी और अपनी कंपनी को किस प्रकार से आगे बढ़ाना है, इसका निर्णय ले सके। डेटा साइंटिस्ट को डाटा एनालिसिस करते समय काफी सावधानी रखनी होती है, क्योंकि उनके द्वारा दिए गए डेटा के आधार पर ही कोई कंपनी अपनी मार्केटिंग रणनीति तैयार करती है।

डेटा साइंटिस्ट को कितना वेतन मिलता है? – Salary of Data Scientist

एक स्टाफिंग सॉल्यूशन कंपनी के अनुसार ऐसे डाटा साइंटिस्ट जिनके पास 5 साल का एक्सपीरियंस है, उनकी सालाना सैलरी तकरीबन 75,00000 रुपए के आसपास होती है। हालांकि यह सैलरी अलग-अलग कंपनी में भिन्न भिन्न हो सकती है।

डेटा साइंटिस्ट का करियर? – Career of Data Scientist

डेटा साइंटिस्ट की फील्ड में करियर का अच्छा ऑप्शन होने के कारण फ्यूचर में इस फील्ड में काफी अच्छा करियर स्कोप हो सकता है, क्योंकि लगातार इंटरनेट इस्तेमाल करने वाले लोगों की संख्या में इजाफा हो रहा है और वर्तमान के टाइम में तो कई काम इंटरनेट के द्वारा ही होने लगे हैं। ऐसे में कंपनियों को ऐसे डेटा साइंटिस्ट की काफी ज्यादा डिमांड है।

जो इंटरनेट टेक्नोलॉजी के डाटा को एनालिसिस कर सके और एनालिसिस करने के बाद उसे मैनेज कर सके ताकि कंपनी उस डाटा को अपने फायदे के लिए यूज कर सके। आज के टाइम में तो लगभग तमाम कंपनियों की तरक्की इंटरनेट टेक्नोलॉजी पर ही डिपेंड है, ऐसे में डेटा साइंटिस्ट का करियर उज्जवल होना लाजमी है।

निष्कर्ष

आशा है आपको Data Scientist Details In Hindi के बारे में पूरी जानकारी मिल गई होगी। अगर अभी भी आपके मन में Data Scientist Kaise Bane (How To Become Data Scientist In Hindi) और डेटा साइंटिस्ट कैसे बने? अगर इस बारे में आपका कोई सवाल है तो आप बेझिझक कमेंट सेक्शन में कमेंट करके पूछ सकते हैं। अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे शेयर जरूर करें ताकि सभी को Data Scientist Kya Hota Hai के बारे में जानकारी मिल सके।

About Ainain

मैं इस ब्लॉग का संस्थापक और एक पेशेवर ब्लॉगर हूं। यहाँ पर मैं नियमित रूप से अपने पाठकों के लिए उपयोगी और मददगार जानकारी साझा करता हूं। ❤️

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.