परमाणु बम क्या है? परमाणु बम का आविष्कार किसने किया? परमाणु हमले से कैसे बचें? जानिए Parmanu Bomb Kya Hota Hai से जुड़ी सभी जानकारी हिंदी में

आज हम जानेंगे परमाणु बम क्या है (Parmanu Bomb Kya Hota Hai in Hindi), के बारे में पूरी जानकारी। परमाणु बम को दुनिया का सबसे घातक हथियार कहा जाता है। एक अकेले परमाणु बम में इतनी ताकत होती है कि यह लाखों लोगों की जान ले सकता है। अब तो ऐसे परमाणु बम भी बनाए जा चुके हैं जो एक बार किसी जगह पर गिरा देने के पश्चात वहां पर करोड़ों लोगों की मौत एक साथ हो सकती है। परमाणु बम को सबसे पहले अमेरिका ने जापान के हिरोशिमा और नागासाकी शहर पर गिराया था, जिसके कारण लाखों लोगों की मौत हुई थी।

उसके बाद के कई सालों तक वहां के लोग इसके रेडिएशन से प्रभावित हुए थे। हमारा भारत देश भी परमाणु शक्ति संपन्न देशों की लिस्ट में शामिल है। दुनिया में सबसे अधिक परमाणु बम रूस देश के पास है और उसके बाद अमेरिका का नंबर आता है फिर चाइना का नंबर आता है। हालांकि एक इंटरेस्टिंग बात यह है कि पाकिस्तान के पास हमारे भारत देश से अधिक परमाणु बम है परंतु हमारा भारत देश लगातार अपने आप को शक्तिशाली बना रहा है। परमाणु बम क्या है?, आदि सारी जानकारी के बारे में विस्तार से जानने के लिए, इस लेख को अंत तक पढ़े।

परमाणु बम क्या है? – What is an Atom Bomb in Hindi?

परमाणु बम क्या है
परमाणु बम क्या है

अंग्रेजी भाषा में परमाणु बम को एटम बम/न्यूक्लियर बम कहा जाता है। यूरेनियम या फिर प्लूटोनियम के परमाणु विखंडन के जरिए एटम बम के अंदर एनर्जी पैदा होती है और जब यह पैदा होती है, तब एटम के सेंटर में न्यूट्रॉन से प्रेशर दिया जाता है। जिसके कारण काफी भयंकर ऊर्जा निकलती है। जिसे नाभिकीय विखंडन कहा जाता है जिसके बारे में हमने 10वीं की या फिर 12वीं की क्लास में पढ़ा ही है।

परमाणु बम के खतरनाक होने के बारे में बात करें तो, यह इतने ज्यादा खतरनाक होते हैं कि अगर इसे कहीं पर एक बार गिरा दिया जाए तो वहां पर सालों-साल तक ना तो कोई जीव जंतु पैदा होता है, ना ही कोई इंसान पैदा होने लायक होता है ना ही कोई वनस्पति पैदा होती है। जापान में साल 1945 में अमेरिका ने परमाणु बम फैटमैन और लिटिल बॉय, नागासाकी और हिरोशिमा इलाके में गिराया था और इसी के कारण वहां पर उस समय भारी तबाही मची थी।

आज भी वहां पर इंसानों की जो संतानें पैदा होती है, उनमें कुछ ना कुछ विकलांगता अवश्य होती है। न्यू मैक्सिको सिटी में परमाणु बम म्यूजियम बनाया हुआ है। इस म्यूजियम का मकसद परमाणु हिस्ट्री और साइंस के लिए यूनाइटेड स्टेट ऑफ अमेरिका के संसाधन के तौर पर वर्क करना है। 1 साल में यह म्यूजियम सिर्फ 12 घंटे के लिए ही ओपन होता है।

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि पहले एटम बम का आविष्कार जे रॉबर्ट ओपेनहाइमर ने अपनी टीम के साथ मिलकर के किया था। देखा जाए तो परमाणु हथियार मुख्य तौर पर दो प्रकार के होते हैं – जिसमें पहला है विखंडन और दूसरा है थर्मोन्यूक्लियर। इसमें जो विखंडन एटम बम होता है, इसमें विखंडन प्रोसेस का यूज़ होता है, वही थर्मोन्यूक्लियर एटम बम को हाइड्रोजन बम कहते हैं।

ये भी पढ़ें : कंप्यूटर क्या है? कंप्यूटर की पूरी जानकारी

भारत में कितने परमाणु बम है? – How many Atom Bombs do India have in Hindi?

दुनिया में अभी सभी देशों के पास परमाणु बम उपलब्ध नहीं हो पाया है। दुनिया में ऐसे गिने-चुने देश ही है, जिनके पास अपना खुद का परमाणु बम है, उस देश में हमारा भारत देश भी शामिल है। अगर हमारे भारत देश के पास मौजूद परमाणु बम के बारे में बात करें तो हमारे भारत देश के पास टोटल 150 परमाणु बम है। इसके अलावा दुनिया में सबसे अधिक परमाणु बम रखने की लिस्ट में रूस देश का स्थान पहले नंबर पर आता है और उसके बाद दूसरे नंबर पर संयुक्त राज्य अमेरिका है।

परमाणु बम का आविष्कार किसने किया? – Who invented Atom Bomb in Hindi?

जैसा कि आप जानते हैं कि किसी भी चीज को खोजने के लिए अधिकतर टीम बनाकर काम किया जाता है। इस प्रकार परमाणु बम को वैज्ञानिक की एक टीम ने ही खोजा था परंतु मुख्य तौर पर इसे खोजने का श्रेय रॉबर्ट ओपेनहाइमर को दिया जाता है। एक प्रकार से आप यह भी कह सकते हैं कि एटम बम का आविष्कार रॉबर्ट ओपेनहाइमर ने किया था। जब पहले परमाणु बम का आविष्कार हो रहा था तब यह परमाणु टेस्टिंग स्थल से 9 मील दूर कंट्रोल रूम में बैठे हुए थे।

परमाणु बम की रेंज कितनी है? – What is the range of an Atom Bomb in Hindi?

इसके बारे में निश्चित तौर पर नहीं कहा जा सकता है क्योंकि हर देश के पास अलग-अलग टेक्नोलॉजी वाले और अलग-अलग दूरी के मारक क्षमता वाले परमाणु हथियार हैं। इसलिए निश्चित तौर पर यह नहीं कह सकते हैं कि परमाणु बम की रेंज कितनी होती है। रूस के पास RS-28 Sarmat उपलब्ध नाम की कॉन्टिनेंटल बैलेस्टिक परमाणु मिसाइल की मारक क्षमता 17920 किलोमीटर है।

जिसका मतलब है कि रूस दुनिया की हर बड़ी सिटी को अपने परमाणु बम से खत्म कर सकता है। यह मिसाइल मास्को सिटी से लेकर के वॉशिंगटन सिटी पहुंचने में सिर्फ आधे घंटे का समय लेती है। इसके अलावा कुछ देशों के पास 1000 किलोमीटर, 2000 किलोमीटर, 10000 किलोमीटर तक की दूरी पर मार करने वाले परमाणु हथियार भी मौजूद है।

ये भी पढ़ें : कंप्यूटर की पीढ़ी की पूरी जानकारी

परमाणु बम वाले देशों की सूची। – List of countries that have Atom Bombs in Hindi.

अब तो दुनिया में ऐसे कई देश हो चुके है, जिनके पास परमाणु बम उपलब्ध हो गया है परंतु यहां पर हम आपको मुख्य तौर पर ऐसे देशों के नाम दे रहे हैं, जो 1 से अधिक परमाणु बम रखते हैं।

  1. रूस: 6,500
  2. अमेरिका: 6,185
  3. फ्रांस: 300
  4. चीन: 290
  5. ब्रिटेन: 215
  6. इजरायल: 80
  7. पाकिस्तान: 140-150
  8. भारत: 130-140
  9. उत्तर कोरिया: 20-30

परमाणु हमले से कैसे बचें? – How to survive an Atom Bomb Attack in Hindi?

नीचे परमाणु हमले के बाद बचने के लिए किए जाने वाले कुछ उपाय हमने आपके साथ शेयर किए हैं।

  1. परमाणु हमला हो जाने की अवस्था में, आपको अपने पेट के बल जमीन पर लेट जाना है और किसी भी चीज से अपने चेहरे और हाथों को पूरी तरह से ढ़क लेना है।
  2. परमाणु बम के धुए के गुब्बारे को न देखे।
  3. कपड़े का इस्तेमाल करते हुए अपने मुंह और हो सके तो पूरी बॉडी को अच्छी तरह से कवर कर ले।
  4. अगर आपके पास कार है, तो आप कार में बैठ सकते हैं और कार की सभी खिड़कियां बंद कर ले।
  5. अगर आपके घर में कोई ऐसी जगह है जिसे तहखाना का नाम दिया जा सकता है, तो आपको उसमें चले जाना चाहिए।
  6. आपको ऐसी जगह से दूर चले जाना चाहिए, जहां पर भीड़-भाड़ हो।
  7. एटम बम अटैक होने के बाद आपको घर की खिड़कियों से दूर चले जाना चाहिए।
  8. अगर घर में एसी है, तो उसे बंद कर देना चाहिए।
  9. सरकार के द्वारा जो भी एडवाइजरी जारी की जाती है,उसका पालन करना चाहिए और हो सके तो जहां पर परमाणु बम का हमला हुआ है, उस इलाके से जल्द से जल्द दूर चले जाना चाहिए।
  10. अपने खाने-पीने की व्यवस्था पहले से ही कर ले। रोजाना तीन बार नहाए। प्रदूषित कपड़ों को फेंक दें। बाहरी खाना ना खाएं। शुद्ध पानी पिए।

ये भी पढ़ें : कृत्रिम बुद्धिमत्ता क्या है

परमाणु बम कैसा होता है? – How does an Atom Bomb looks in Hindi?

परमाणु बम का कोई निश्चित आकार नहीं होता है, परंतु अधिकतर इसे मिसाइल के अंदर स्टोर किया जाता है क्योंकि जब आप इंटरनेट पर परमाणु बम की फोटो के बारे में सर्च करेंगे, तब आपको अधिकतर मिसाल की फोटो ही मिलेंगी।जिसका मतलब यह होता है कि परमाणु बम मिसाइल के अंदर इस प्रकार से फिट किया जाता है ताकि इसे आवश्यकता पड़ने पर इस्तेमाल किया जा सके और कहीं पर भी इसे मिसाइल के जरिए गिराया जा सके।

जब अमेरिका के द्वारा जापान के हिरोशिमा और नागासाकी शहर पर परमाणु बम गिराया गया था, तब हिरोशिमा में लगभग 1,40,000 और नागासाकी में लगभग 74,000 लोगों की मौत साल 1945 के आखिरी तक हो चुकी थी और कई लोग इसके प्रभाव से अभी भी प्रभावित है।

भारत में पहला परमाणु परीक्षण कब किया गया था? – When did India conduct its first Atom Bomb test in Hindi?

हमारे भारत देश ने साल 1974 में 18 मई के दिन राजस्थान के पोखरण इलाके में अपना पहला भूमिगत परमाणु परीक्षण किया था जिसे स्माइलिंग बुद्धा का नाम दिया गया था। बता दें कि इस परमाणु परीक्षण की बात साल 1972 से ही चालू हो गई थी और साल 1974 में 18 मई के दिन यह सफल हुआ। जिसके बाद भारत भी परमाणु संपन्न देशों की लिस्ट में शामिल हो गया।

हिरोशिमा/नागासाकी परमाणु बम विस्फोट। – Hiroshima/Nagasaki Atom Bomb blast in Hindi.

Parmanu Bomb 1

संयुक्त राज्य अमेरिका के द्वारा साल 1945 में जापान के हिरोशिमा और नागासाकी शहर पर एटम बम गिराया था। एटम बम गिरने के बाद दोनों शहर बुरी तरह से तबाह हो गए थे और दुनिया में अमेरिका के इस कदम की काफी निंदा भी हुई थी। एटम बम गिरने के पश्चात शहर में कई इंसानों की मौत हो गई थी और तकरीबन 70 प्रतिशत इमारतें भी खत्म हो गई थी। इसके रेडीएशन के कारण साल 1945 के अंदर तक इन दोनों शहरों में लोगों की मौत होना जारी रहा और वर्तमान में इतने साल बीत जाने के बाद भी वहां के लोग अभी भी इस रेडिएशन से परेशान है।

निष्कर्ष

आशा है आपको परमाणु बम क्या है के बारे में पूरी जानकारी मिल गई होगी। अगर अभी भी आपके मन में परमाणु बम क्या है (What is an Atom Bomb in Hindi) को लेकर आपका कोई सवाल है तो आप बेझिझक कमेंट सेक्शन में कमेंट करके पूछ सकते हैं। अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे शेयर जरूर करें ताकि सभी को परमाणु बम के बारे (Information about Atom Bomb in Hindi) में जानकारी मिल सके।

आपको हमारा यह लेख कैसा लगा?

Leave a Comment