ग्राहक सेवा केंद्र क्या है? Grahak Seva Kendra कैसे खोलें? CSP Kya Hai? CSP Kaise Khole पूरी जानकारी हिंदी में

Grahak Seva Kendra kya hai? कोरोना के चलते देश में लोकडाउन की स्थिति बनी हुयी है। ऐसे में आपको अपनी जरूरत की सुविधा के बारे में पता होना जरूरी है ताकि घर बैठकर भी आप उस सुविधा का लाभ उठा सकें

हमारी इस पोस्ट ग्राहक सेवा केंद्र क्या होता है?(What is a Grahak Seva Kendra in Hindi) ग्राहक सेवा केंद्र कैसे खोलें?(How to Open Grahak Seva Kendra) CSP Kaise Khole और ग्राहक सेवा केंद्र से जुड़ी सभी जानकारियों के बारे में बात करेंगे।

ग्राहक सेवा केंद्र क्या होता है? Customer Service Point (CSP) Kya Hota Hai?

Grahak Seva Kendra Kaise Khole ya CPS kaise Khole
Grahak Seva Kendra Kaise Khole

ग्राहक सेवा केंद्र ऐसा मिनी बैंक होता है जहां पर Bank के खाताधारकों को बैंकिंग सुविधा और facilities उपलब्ध करायी जाती हैं। ग्राहक सेवा केंद्र को CSP के नाम से भी जाना जाता है। Customer Service Point (CSP) एक प्रकार के Mini Bank की तरह होता है। CSP में वे सभी कार्य किये जाते हैं, जो बैंक व्यवस्था में किये जाते हैं। बस Customer Service Point (CSP) का स्तर थोडा़ छोटा होता है।

हम सभी जानते हैं बैंकिंग सुविधा हमारे जीवन की मूलभूत सुविधा में से एक बन चुकी है। जिस वजह से बैंकों के लिये इतनी अधिक खाताधारकों की संख्या को हैंडल करने के लिये आसान नहीं था। इसलिये उसने ग्राहक सेवा केंद्र की ओर पहल की। बैंकों द्वारा यह पहल बहुत पहले ही की जा चुकी थी मगर नोटबंदी के उस दौर में ग्राहक सेवा केंद्र की मांग ज्यादा बढ़ गयी थी|

ग्राहक सेवा केंद्र खोलने वाला व्यक्ति यदि किसी भी बैंक से जुडा़ नही भी हो तो भी यह चलेगा किसी भी सामान्य व्यक्ति द्वारा CSP खोला जा सकता है।

CSP Full Form क्या होता है?

Customer Service Point होता है

CSP का फुल फॉर्म : ग्राहक सेवा केंद्र

ग्राहक सेवा केंद्र कैसे खोले? How to Open Sbi CSP (Customer Service Point)

मैंने निचे CSP खोलने के तरीके बताये है जिसे पढ़ने के बाद समझ आजायेगा की Sbi CSP कैसे खोलें?

स्टेप 1 : Bank Manager से मिले

यदि आप किसी विशेष बैंक का ग्राहक सेवा केंद्र खोलना चखहते हैं कि जैसे; Punjab National Bank या SBI का CSP खोलने के लिये आपको Punjab National Bank/SBI में जाकर उसके Bank Manager से मिलना पडे़गा।

स्टेप 2 : Qualification Approve

Bank manager द्वारा आपकी Qualification Approve कर Investment की जानकारी दी जायेगी ।

स्टेप 3 : ग्राहक सेवा केंद्र 

Approve होने के बाद बैंक मैनेजर द्वारा आपको आपके क्षेत्र में आपका ग्राहक सेवा केंद्र खोलने की अनुमति दी जायेगी।

स्टेप 4 : Server Name and Password

इसके लिये आपको Bank के द्वारा Server Name and Password दिया जायेगा। जिसको login करने से ही आप आपका CSP चला पायेंगे।

स्टेप 5 : Loan

इसके साथ ही Bank द्वारा CSP खोलने के लिये 1.5 लाख तक Loan भी दिया जाता है।

अतः ग्राहक सेवा केंद्र या CSP (Customer Service Point) खोलना मुश्किल काम नहीं है। और यह ग्रामीण क्षेत्रों में जरूरत की सुविधा भी है। पहले केवल छोटे गांवों के स्तर पर ग्राहक सेवा केंद्रों को खोला गया था। मगर बढ़ती लोकप्रियता की वजह से अब नगरों में भी CSP के सेंटर्स खुल रहें हैं।
उम्मीद है आपको हमारी यह पोस्ट Grahak Seva Kendra क्या होता है? या csp क्या होता है? को पढ़कर अच्छा लगा होगा। यदि आपके मन में CSP से जुडे़ कोई भी सवाल या doubts है तो, आप कमेंट सैक्शन में कमेंट कर हमसे पूछ सकते हैं।

Grahak Seva Kendra (CSP) खोलने के लिये योग्यता;

यदि आप Grahak Seva Kendra यानि की CSP खोलना चाहते हैं, तो यह बहुत ही आसान प्रक्रिया होती है, आईये जानते हैं CSP क्या होती है? CSP खोलने के लिये योग्यता क्या है?

  1. Grahak Seva Kendra के आवेदनकर्त्ता का उसी स्थान का होना जरूरी है, जहां पर वह Grahak Seva Kendra खोलना चाहता है।
  2. Grahak Seva Kendra के आवेदनकर्त्ता की न्यूनतम योग्यता 12वीं पास होना आवश्यक होता है।
  3. CSP के आवेदनकर्त्ता के पास कैसा भी Computer Certificate होना जरूरी होता है।
  4. CSP भी किसी के द्वारा खोला जा सकता है। मगर Application Approval में Retired Army वाले व्यक्ति को ही प्राथमिकता दी जाती है।
  5. CSP का संचालन बैंकों की तरह ही होता है तो बिना कंप्यूटर या लैपटॉप के CSP को संचालित नहीं किया जा सकता है। साथ ही सिस्टम में windows-7 और Upgraded Hardware’s का होना भी आवश्यक है।
  6. इसके अलावा Printer, Scanner ,Fingerprint Device आदि कघ भी जरूरत होती है, खाताधारकों का काम करने की प्रक्रिया में ये चीजें अनिवार्य है।
  7. एक अच्छी स्पीड वाले इंटरनेट कनैक्शन की जरूरत होती है।

ग्राहक सेवा केंद्र एजेंट को क्या करना होता है?

ग्राहक सेवा केंद्र के इंचार्ज को केंद्र प्रभारी,BC या बैंक मित्र आदि भी कहा जाता है। केंद्र प्रभारी का कार्य बैंकों के ही समान नागरिकों को banking service & facilities प्रदान करना होता है। बैंक मित्रों द्वारा काफी जिम्मेदारी से काम किया जाता है। वे हफ्ते में 3-4 दिन Bank भी जाते हैं ताकि कस्टमर के आवेदन और नये खातों के form आदि जमा करा सकें। Grahak Seva Kendra का बैंकों की तरह ही service देने का काम होता है। इसके अलावा कस्टमर के PAN Card बनाना और कस्टमर का आधार कार्ड बनाना भी काम किया जाता है।

ग्राहक सेवा केंद्र पर कौन-कौन सी बैंकिंग सुविधायें प्रदान की जाती हैं?

ग्राहक सेवा केंद्र मिनी बैंक की तरह ही होने की वजह से बिल्कुल बैंकों की तरह ही सुविधा प्रदान करते हैं।

  1. CSP(Customer Service Point) द्वारा कस्टमर के नये एकाउंट्स खोले जाते हैं।
  2. Grahak seva kendra के एजेंटों द्वारा कस्टमर के अकाउंट में पैसे deposit करने और withdraw करने का काम भी किया जात हैं।
  3. इन बैंक मित्रों द्वारा कस्टमर को Insurance भी प्रदान की जाती है। इसके अलावा RD-FD की सुविधा भी प्रदान की जाती हैं।
  4. साथ ही CSP(Customer Service Point) द्वारा बैंक अकाउंट से मोबाइल नंबर से लिंक किया जाता है।
  5. CSP द्वारा खाताधारकों द्वारा ATM Card भी issue किये जाते हैं।

Grahak Seva Kendra (CSP) से कितनी Income हो सकती हैं?

  • CSP को शुरूआत के 6 months में 2500 रूपये प्रति माह प्रोत्साहन राशि के रूप में मिलता है।
  • इसके अलावा उन्हें खातों पर की गयी प्रतिक्रिया अर्थात् नये खातों को खोलने, पैसों के जमा व निकासी पर अलग से कमीशन मिलता हैं।
  • Non-Performing Asset (NPA) Recovery का काम भी CSP द्वारा किया जाता हैं, जिस पर उन्हें 10% कमीशन का मुनाठा मिलता है।
  • अतः CSP द्वारा महीने में आराम से 15000-20000 तक की income हो सकती हैं।

ग्राहक सेवा केंद्र एजेंट को लोन करवाने पर अलग से कमीशन;

ग्राहक सेवा केंद्र एजेंटों को बैंक संबंधी हर गतिविधि पर कुछ न कुछ मुनाफा मिलता है। जिसमें से एक loan संबंधी भी है। CSP Agent द्वारा customer को loan provide कराने पर उनकहें अलग से Commission दिया जाता है। इसके अलावा यदि आप customer को loan देधे में help करते हैं, तब आगे की बैंक की प्रक्रिया पूरी करने पर बैंक द्वारा आपको अलग से कमीशन भी मिलता हैं।

निष्कर्ष

मुझे उम्मीद है ऊपर बताये गए Grahak Seva Kendra/CSP (Customer Service Point) की जानकारी पसंद आई होगी| अगर अभी भी आपके मन में Grahak Seva Kendra से जुडी कोई सवाल हो तो निचे comment box में comment कर पुच सकते है|

1 thought on “ग्राहक सेवा केंद्र क्या है? Grahak Seva Kendra कैसे खोलें? CSP Kya Hai? CSP Kaise Khole पूरी जानकारी हिंदी में”

Leave a Comment