एमपीटी क्या है? MPT (Master of Physiotherapy) Course कैसे करें? Full Form, Qualification, Admission Process, Career, Salary, Syllabus, Fees, Entrance Exam, Scope आदि से जुड़ी सभी जानकारी हिंदी मे

आज हम जानेंगे एमपीटी कोर्स (MPT Course) कैसे करें पूरी जानकारी (How To Do MPT (Master of Physiotherapy) Course Details In Hindi) के बारे में क्योंकि हर कोई निश्चित रूप से अपने जीवन में कुछ बड़ा करने का सपना देखता है। कई माता-पिता का सपना होता है कि उनका बच्चा बड़ा होकर कुछ अच्छा काम करे। यदि आप अपना कैरियर डॉक्टर में बनाना चाहते है और फिर डॉक्टर बनने के बाद लोगों की सेवा करना चाहते है तो यह लेख आपके लिए है।

आज के इस लेख में जानेंगे कि MPT Course Kya Hota Hai, MPT Course के लिए Qualifications, MPT Meaning In Hindi, MPT Course Kaise Karen, MPT (Master of Physiotherapy) Course के लिए Eligibility, MPT Course के लिए Admission Process, एमपीटी कोर्स के लिए तैयारी कैसे करें, MPT Entrance Exams, MPT Course की Fees, Master of Physiotherapy Course करने के बाद Job and Career Opportunity, MPT Course के बाद Salary, आदि की सारी जानकारीयां विस्तार में जानने को मिलेंगी, इसलिये पोस्ट को लास्ट तक जरूर पढे़ं।

एमपीटी क्या है? – What is MPT (Master of Physiotherapy) Course Information in Hindi?

विषय-सूची

What is Master of Physiotherapy in Hindi?
What is Master of Physiotherapy in Hindi?

MPT यानि Master of Physiotherapy बेचलोर डिग्री के बाद किया जाने वाला 2 साल का प्रोफेशनल कोर्स है। मास्टर ऑफ फिजियोथेरेपी जो physical therapy से जुड़ी जानकारी के अध्ययन से संबंधित है। MPT कोर्स में आधुनिक टेक्नोलॉजी और प्राकृतिक दोनों को मिलाकर फिजियोथेरेपी के लिए इस्तेमाल की जाने वाली तकनीकों और तरीकों को सीखने का एक बहुत ही महत्वपूर्ण कोर्स है। इस कोर्स को पूरा करने के बाद, विभिन्न क्षेत्रों में नौकरियां उपलब्ध हैं।

MPT का फुल फॉर्म क्या होता है? – What Is MPT Full Form In Hindi?

MPT का Full Form Master of Physiotherapy होता है। हिंदी में MPT का फुल फॉर्म मास्टर ऑफ फिजियोथेरेपी होता है।

मास्टर ऑफ फिजियोथेरेपी कोर्स के लिए योग्यता – Qualification For Master of Physiotherapy (MPT)

  • उम्मीदवारों को किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड या विश्वविद्यालय से स्नातक(BPT) की डिग्री में न्यूनतम 50% स्कोर के साथ Biology stream से उत्तीर्ण होना चाहिए।
  • कुछ कॉलेज admission के लिए entrance exam आयोजित करते हैं।
  • अगर कोई छात्र बैचलर डिग्री के बाद एमपीटी कोर्स करना चाहता है तो वे कर सकते हैं। लेकिन उन्हें Bachelor of Physiotherapy (BPT) के विषय से स्नातक होना चाहिए।
  • एक अच्छे organization से एमपीटी संबंधित क्षेत्र में 6 महीने की अनिवार्य इंटर्नशिप भी आवश्यक है।
  • यदि उम्मीदवार BPT (Bachelor of Physiotherapy) के अंतिम वर्ष में हैं तो उम्मीदवार MPT (Master of Physiotherapy) में आवेदन करने के लिए पात्र हैं।

एमपीटी में प्रवेश कैसे प्राप्त करें – How to Get Admission in Master of Physiotherapy (MPT)

कुछ विश्वविद्यालय और कॉलेज इस कोर्स में admission देने से पहले प्रवेश परीक्षा लेते हैं, जिसमें आपको भाग लेना होगा। बहुत कम कॉलेज हैं जो मास्टर ऑफ फिजियोथेरेपी कोर्स में entrance exam के बिना प्रवेश देते हैं। कुछ कॉलेज अपनी entrance exam आयोजित करते हैं जबकि अन्य कॉलेज MPT के लिए कुछ सामान्य प्रवेश परीक्षा के स्कोर पर admission देते हैं। entrance exam देने के बाद कॉलेज और यूनिवर्सिटी अपना मेरिट लिस्ट तैयार करता है, यदि आप इस लिस्ट में आते है तो ही आप को MPT course करने के लिए अच्छी कॉलेज में एडमिशन मिल सकता है।

एमपीटी के लिए प्रवेश परीक्षा – Entrance Exam for Master of Physiotherapy (MPT)

यहां हमने कुछ entrance exam की सूची दी है। जिसके लिए आप तैयारी कर सकते हैं।

  • NEET PG
  • IPU CET
  • MET
  • VEE
  • DSAT

मास्टर ऑफ फिजियोथेरेपी पाठ्यक्रम की अवधि – Master of Physiotherapy (MPT) Course Duration

आम तौर पर MPT यानि Master of Physiotherapy Course की अब्धि 2 साल का होता है। जिसमे 4 semesters के साथ 6 months का internship भी होता है।

एमपीटी कोर्स के सिलेबस – MPT (Master of Physiotherapy) Course Syllabus

MPT Course के सिलेबस की जानकारी नीचे दी गई है।

MPT Syllabus (Semester I) – Development of the Physiotherapy Profession, Introduction to Biostatistics and Research Methodology, Biomechanics of Tissues and Structures of the Musculoskeletal System, Basic Probability and Sampling Distributions, Responses and Adaptations of various systems to Exercise and Training, Instrumentation for Neuromuscular Electrical Stimulation, EMG and Biofeedback.

MPT Syllabus (Semester II) – Maternal and Childcare in General Physiotherapy, Clinical Symptomatology, Pathophysiology and Pathomechanics of Musculoskeletal Conditions, Anatomy and Physiology of the Nervous System, Anatomy and Physiology of Cardiovascular and Respiratory Systems, Health and Illness, Levels of Healthcare & Fitness, Normal Motor Development

एमपीटी पाठ्यक्रम के विषय – MPT Course Subjects

MPT कोर्स करने के लिए सबसे पहले आपको ब्रांच को सेलेक्ट करना होता है यानी की आपको किस टॉपिक या किस विषय में स्पेलाइजेशन करना होता है इसके बाद आपको ब्रांच के अनुशार सब्जेक्ट दिया जाता है।

MPT Subjects – First year

  • Principles of Physiotherapy Practice
  • Research Methodology and Biostatistics
  • Biomechanics
  • Exercise Physiology
  • Electrophysiology
  • Physical and Functional Diagnosis

MPT Subjects – Second year

  • Physiotherapeutics
  • Elective
  • Musculoskeletal Disorders and Sports
  • Neurological and Psychosomatic Disorders
  • Cardio-Respiratory Disorder
  • Community Rehabilitation
  • Paediatrics

MPT (Master of Physiotherapy) Course के Specializations

MPT course के अंदर बहुत सारे specialisations है जिसमे आप Master of Physiotherapy कर सकते है। कुछ specialization’s नीचे दिए गए हैं:

  • Orthopaedics
  • Neurology
  • Cardiorespiratory
  • Sports
  • Pediatric Neurology
  • Hand Rehabilitation
  • Obstetrics and Gynaecology
  • Community Physiotherapy

एमपीटी कोर्स की फीस – MPT (Master of Physiotherapy) Course Fees

MPT (Master of Physiotherapy) Course की Average Fee ₹3,00,000 प्रति वर्ष है। अगर आप सरकारी कॉलेज से MPT Course करते है तो कम से कम ₹70,000 प्रति वर्ष लगेगा। अगर किसी Private college से MPT Course करते है तो आपको ₹1,70,000 लगेगा। मास्टर ऑफ फिजियोथेरेपी कोर्स की BPT (Bachelor of Physiotherapy) Course फीस की तुलना में थोड़ी अधिक होती है। अलग-अलग कॉलेजों/विश्वविद्यालयों के साथ और अलग-अलग स्पेशलाइजेशन के साथ Fee Different हो सकती है।

एमपीटी कोर्स के फायदे – Advantages or Benefits of MPT (Master of Physiotherapy) Degree

  • मास्टर ऑफ फिजियोथेरेपी की डिग्री प्राप्त करने के बाद अपना क्लिनिक भी खोल सकते हैं।
  • मास्टर ऑफ फिजियोथेरेपी करने के बाद आप Consultant, Teacher, Researcher, और Clinician आदि बन सकते है।
  • मेडिकल साइंस में फिजियोथेरेपी एक अच्छा करियर विकल्प हो सकता है।
  • इस क्षेत्र में नौकरी किसी भी अन्य क्षेत्र की तुलना में बहुत अधिक है।
  • मास्टर ऑफ फिजियोथेरेपी करने के बाद रोगियों का इलाज अधिक विश्वास के साथ कर सकते है।

मास्टर ऑफ फिजियोथेरेपी कोर्स के बाद वेतन – Salary after MPT (Master of Physiotherapy)

MPT Course करने के बाद Average Salary ₹2,00,000 से ₹20,00,000 लाख के बीच प्रति वर्ष होता है। जो व्यक्ति के कौशल और अनुभव के साथ बढ़ता जाता है। MPT Course करने के बाद आपकी सैलरी आपके Specializations और Companies पर भी निर्भर करता है। यदि आप Respiratory Therapist बनते हैं, तो आपका वेतन प्रति वर्ष 5 से 6 लाख होगा। अगर आप Therapy Manager बनते हैं, तो आपकी सैलरी 9 से 10 लाख प्रति वर्ष होगी।

एमपीटी कोर्स के लिए आवश्यक कौशल – Skills Required for MPT Course

  • आपके अंदर therapy करने की अच्छी skills होनी चाहिए।
  • आपका बात करने का तरीका अच्छा होना चाहिए।
  • आपको रोगी की देखभाल करने आना चाहिए।
  • बेहतर बनने के लिए, आपको नियमित रूप से अभ्यास करना चाहिए।
  • आपके शब्द तार्किक होने चाहिए।
  • आपके पास दबाव में काम करने की क्षमता होनी चाहिए।
  • कभी-कभी आपको धैर्य की आवश्यकता होती है।

MPT कोर्स के बाद आगे की पढ़ाई – Further Studies After MPT Course

MPT Course के बाद आगे यदि कोई स्टूडेंट पढ़ाई करना चाहता है तो ये ऑप्शन भी उपलब्ध है। कोर्स पूरा होने के बाद आप आगे उच्च पढ़ाई भी कर सकते हैं। MPT के बाद डॉक्टरेट की डिग्री के लिए आप फिजियोथेरेपी में पीएचडी और एमफिल भी पढ़ाई कर सकते हो।

Top 5 Best Colleges For MPT (Master of Physiotherapy) Course in India

कुछ कॉलेज नीचे निम्नलिखित है, जो आपको MPT Course करने मे मदद कारेगे;
  1. Sri Ramachandra University, Chennai
  2. M.S. Ramaiah Medical College, Bangalore
  3. Baba Farid University of Health Sciences, Punjab
  4. Manipal University – Manipal Academy of Higher Education, Manipal
  5. MUHS – Maharashtra University of Health Sciences, Nashik

एमपीटी के बाद नौकरी और कैरियर का अवसर – Career and Job Opportunities After MPT (Master of Physiotherapy) Course

मास्टर ऑफ फिजियोथेरेपी कोर्स करने के बाद कई तरह के जॉब अवसर उपलब्ध है। मास्टर ऑफ फिजियोथेरेपी कोर्स करने के बाद आप सरकारी नौकरी या अपना क्लिनिक खोल सकते हैं। सिर्फ यही नहीं आप प्राइवेट क्षेत्र में भी अपना कैरियर बना सकते है। जैसे Physiotherapist, Acupuncturist, Lecturer, Osteopath, Sports Physio Rehabilitator, Professor, Researcher, Research Assistant, Chief Physiotherapist, Therapy Manager, आदि जैसे क्षेत्र में अपना करियर बना सकते हैं। मास्टर ऑफ फिजियोथेरेपी कोर्स करने बाद बहुत से ऐसे करियर है जिसकी मांग सिर्फ भारत में नहीं बल्कि बाहर के देशों में भी है और आप बाहर विदेश जाकर अच्छा कमाई कर सकते है।

निष्कर्ष

आशा करते हैं कि आपको MPT Course Details In Hindi की पूरी जानकारी प्राप्त हो चुकी होगी। अगर फिर भी आपके मन में MPT Course Kya Hota Hai? (What Is Master of Physiotherapy In Hindi) और मास्टर ऑफ फिजियोथेरेपी कोर्स कैसे करे? को लेकर कोई सवाल हो तो, आप बेझिझक Comment Section में Comment कर पूछ सकते हैं।

अगर यह जानकारी पसंद आया हो तो, जरूर इसे Share कर दीजिए ताकि MPT Course Kaise Kare बारे में सबको जानकारी प्राप्त हो।

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.