बीपीटी क्या है? BPT (Bachelor of Physiotherapy) Course कैसे करें? Full Form, Qualification, Admission Process, Career, Salary, Syllabus, Fees, Entrance Exam, Scope आदि से जुड़ी सभी जानकारी हिंदी मे

आज हम जानेंगे बीपीटी कोर्स (BPT Course) कैसे करें पूरी जानकारी (How To Do BPT Course Details In Hindi) के बारे में क्यों की आज कई बच्चे हैं जो मेडिकल क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहते हैं। उसमें भी ज्यादातर लोग डॉक्टर बनने के लिए एमबीबीएस करना चाहते हैं, लेकिन अगर कोई छात्र किसी कारणवश एमबीबीएस डिग्री कोर्स नहीं कर पाता है, तो उसके लिए और भी कोर्स हैं ताकि वह मेडिकल क्षेत्र में अपना करियर बना सके। उस course का नाम Bachelor of Physiotherapy है।

आज के इस लेख में जानेंगे कि BPT Course Kya Hota Hai, BPT Course के लिए Qualifications, BPT Meaning In Hindi, BPT Course Kaise Karen, BPT (Bachelor of Physiotherapy) Course के लिए Eligibility, BPT Course के लिए Admission Process, बीपीटी कोर्स के लिए तैयारी कैसे करें, BPT Entrance Exams, BPT Course की Fees, BPT Course करने के बाद Career & Scope, BPT Course के बाद Salary, आदि की सारी जानकारीयां विस्तार में जानने को मिलेंगी, इसलिये पोस्ट को लास्ट तक जरूर पढे़ं।

बीपीटी क्या है? – What is BPT (Bachelor of Physiotherapy) Course Information in Hindi?

विषय-सूची

What is Bachelor of Physiotherapy in Hindi
What is Bachelor of Physiotherapy Information in Hindi

BPT या Bachelor of Physiotherapy एक चार साल का अंडरग्रेजुएट प्रोफेशनल कोर्स है। जो स्वास्थ्य क्षेत्र के अंतर्गत आता है जिसमे मुख्य रूप से अस्थमा, पार्किंसंस रोग, हृदय रोग, स्ट्रोक, सिस्टिक फाइब्रोसिस, पेल्विक जैसे विभिन्न रोगों के इलाज के लिए शरीर की activities पर ध्यान रखा जाता है और उसका इलाज किया जाता है। बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी कोर्स 4½ वर्ष की बैचलर डिग्री कोर्स है जिसमें पिछले 6 महीने की इंटर्नशिप भी जरूरी है।

BPT का फुल फॉर्म क्या होता है? – What Is BPT Full Form In Hindi?

BPT का Full Form Bachelor of Physiotherapy होता है। हिंदी में BPT का फुल फॉर्म बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी होता है।

बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी कोर्स के लिए योग्यता – Qualification For Bachelor of Physiotherapy (BPT)

बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी कोर्स लेने के लिए पात्रता के बारे में बात करे तो बह निम्नलिखित है।

  • किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से 12th पास होना चाहिए।
  • BPT ने एडमिशन लेने के लिए उम्मीदवार को 12वीं कक्षा में Physics, Chemistry और Biology से पास होना आवश्यक है।
  • 12th में कम से कम 50% मार्क्स के साथ पास होने चाहिए (SC/ST/OBC उम्मीदवारों के लिए 45%)।
  • लंबे समय तक काम करने के कारण इसे अपने आप में शारीरिक सहनशीलता की आवश्यकता होती है। यह कोई योग्यता नहीं है, लेकिन यह भी आवश्यक है।

बीपीटी में प्रवेश कैसे प्राप्त करें – How to Get Admission in BPT Course

बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी कोर्स में एडमिशन लेने के लिए जैसा की आपको उपर बताया कि आपको सबसे पहले 12वी कक्षा पास होना जरूरी है। उसके बाद आप एडमिशन के लिए अप्लाई कर सकते है। लेकिन कुछ कॉलेज और यूनिवर्सिटी में एडमिशन के लिए आपको उनकी एंट्रेंस एग्जाम देना जरूरी है।

जब आप एंट्रेंस एग्जाम क्लियर कर लेते है तो उसके बाद मेरिट लिस्ट निकलती है। यदि आपका नंबर मेरिट लिस्ट में है तो ही आप अपनी मनपसंद कॉलेज में एडमिशन ले सकते है। इसके अलावा कुछ ऐसी भी कॉलेज है जो बिना किसी एंट्रेंस एग्जाम के बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी कॉलेज में आपको एडमिशन देते है।

बीपीटी के लिए प्रवेश परीक्षा क्या है? – What are the entrance exams for BPT

यहां हमने कुछ entrance exam की सूची दी है। जिसके लिए आप तैयारी कर सकते हैं।

  • LPUNEST
  • BCECE
  • IPU CET
  • VEE
  • IEMJEE

बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी पाठ्यक्रम की अवधि – BPT Course Duration

बीपीटी full time कोर्स है जिसकी अवधि 4½ वर्ष है। course पूरा करने के बाद 6 महीने का compulsory internship भी करना होता है। जहा पर आपको दुर्घटना, तनाव, स्ट्रोक, दर्द का सामना कर रहे रोगियों का उपचार करना होता है।

BPT कोर्स के सिलेबस – BPT Course Syllabus

बीपीटी कोर्स के सिलेबस की जानकारी नीचे दी गई है।

BPT Syllabus – First Year

क्रमांक संख्याथियोरी
1.फिजियोथैरेपि का इंट्रोडक्शन
2.अनाटोमी
3.फिजियोलॉजी
4.फर्स्ट एड और नर्सिंग
5.बायोकेमिस्ट्री
6.फूड साइंस और न्यूट्रीशन
7.साइकोलॉजी
8 .कम्युनिकेशन स्किल्स

BPT Syllabus – Second Year

क्रमांक संख्याथियोरी
1.फार्माकोलॉजी
2.बायोमैकेनिक्स
3.इलेक्ट्रोथेरेपी
4.माइक्रोबायोलॉजी
5.पैथोलॉजी
6.क्लीनिकल ऑब्जर्वेशन
7.एक्सरसाइज थेरेपी

BPT Syllabus – Third year

क्रमांक संख्याथियोरी
1.स्पोर्ट्स साइंस एंड मेडिसिन
2.जनरल मेडिसिन एंड सर्जरी
3.फिजियोथेरेपी इन जनरल मेडिसिन एंड सर्जरी
4.बायोइंजीनियरिंग
5.रिहैबिलिटेशन साइंस
6.ऑर्थोपेडिक्स

BPT Syllabus – Fourth year

क्रमांक संख्याथियोरी
1.न्यूरोलॉजी
2.न्यूरोसर्जरी
3.मेडिकल एथिक्स
4.फिजियोथेरेपी इन कार्डियो डिसऑर्डर

अंतिम साल की परीक्षा पूरी होने के बाद, जो स्टूडेंट पास हुए है उनको 6 महीने की इंटर्नशिप करना जरूरी है। इंटर्नशिप सभी के लिए समान रूप से ऑर्थोपेडिक, न्यूरोलॉजी, जनरल सर्जरी, जनरल मेडिसिन और फिजियोथेरेपी जैसे विभागों में इंटर्नशिप करनी होती है।

Bachelor of Physiotherapy Course के Specializations

BPT Course में बहुत सरे course है जिसमे से आपको किसी एक टॉपिक में specializations कर सकते है मैंने निचे BPT में specializations करने के कुछ लिस्ट दिए है

  • Orthopedic Physiotherapy
  • Neurological Physiotherapy
  • Pediatrics Physiotherapy
  • Geriatrics Physiotherapy

बीपीटी कोर्स की फीस – BPT Course Fees

बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी कोर्स की Average Fees ₹3,00,000 प्रति वर्ष होता है। यह फीस अलग-अलग कॉलेज पर different हो सकता है। अगर आप Government College में admission लेते है तो आपको Private college के मुकाबले में कम फीस देना होगा क्यों की Private college का fee सरकारी कॉलेज से जादा होता है।

बीपीटी कोर्स के फायदे – Advantages or Benefits of Bachelor of Physiotherapy

मैंने कुछ BPT कोर्स करने के फायदों के बारे में बताया है ताकि आप इसे पढ़ने के बाद इस कोर्स को समझ सकें।

  • BPT Course करने के बाद आप उच्च शिक्षा के लिए Master of Physical Therapy भी कर सकते हैं।
  • Bachelor of Physiotherapy की डिग्री प्राप्त करने के बाद अपना क्लिनिक भी खोल सकते हैं।
  • बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी करने के बाद आप स्कूल या कॉलेज में sports therapy, pediatric, electrophysiological physical therapy आदि का नौकरी कर सकते है।
  • मेडिकल साइंस में फिजियोथेरेपी एक अच्छा करियर विकल्प हो सकता है।

बीपीटी कोर्स के बाद वेतन – Salary after BPT Course

BPT course करने के बाद average salary 5.5 लाख प्रति वर्ष होता है जो व्यक्ति के skills और experience के साथ बढ़ सकता है। BPT course करने के बाद आप अपना खुद का physiotherapy clinic खोल सकते है।

बीपीटी कोर्स के लिए आवश्यक कौशल – Skills Required for BPT Course

BPT course करने के लिए जो skill चाहिए बो इस प्रकार है।

  • अच्छे से अंग्रेजी बोलना आना चाहिए
  • प्रेरक स्वर में बोलने की क्षमता होनी चाहिए
  • आपके भाषण में स्पष्टता होनी चाहिए
  • अपने मरीज को वैज्ञानिक तर्क दे कर समझाने की कोसिस करे
  • सहानुभूति दिखाए
  • आपके अन्दर Confidence होना चाहिए
  • अपने मरीज को समझाने और राजी करने आना चाहिए
  • बोलने और समझाने की skill अच्छी होनी चाहिए

Top 5 Best Colleges For Bachelor Of Physiotherapy Course in India

यदि आप बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी के लिए बेस्ट कॉलेज ढूंढ़ रहे है? तो आपकी परेशानी हम दूर कर देते है। नीचे हमने इसके लिए कुछ कॉलेज की जानकारी दी है।

Best Bachelor Of Physiotherapy College

  1. Apollo Physiotherapy College
  2. Indian Institute of Health Education & Research
  3. Post Graduate Institute of Medical Education and Research
  4. Nizam’s Institute of Medical Sciences
  5. JSS College of Physiotherapy

बीपीटी कोर्स के बाद कैरियर – Career after BPT Course

यदि सिर्फ भारत में फिजियोथेरेपिस्ट के माग को देखे तो जैसे-जैसे भारत में स्पोर्ट्स बढ़ रहा है वैसे वैसे एक फिजियोथैेपिस्ट की माग भी बढ़ रही है। क्योंकि हरेक स्पोर्ट्स में इंजरी तो होती है और इसी वजह से लगभग हरेक स्पोर्ट्स स्टाफ में एक फिजियोथैरेपिस्ट की पोस्ट भी होती है।

बीपीटी कोर्स के बाद नौकरी – job after BPT Course

इसमें आप सिर्फ किसी एक स्पोर्ट्स तक ही सीमित नहीं हैं क्योंकि आज दूसरे क्षेत्रों में भी फिजियोथेरेपी के नौकरी के अवसर अधिक हैं। Bachelor of Physiotherapy स्नातक डिग्री के बाद आप औसत INR 2.95 L प्रति वर्ष कमाई कर सकते है।

बीपीटी कोर्स के बाद आगे की पढ़ाई – Further Studies After BPT Course

बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी कोर्स करने के बाद यदि कोई छात्र आगे पढ़ाई करना चाहता है तो वो आगे मास्टर डिग्री और बाद में पीएचडी और एमफिल भी कर सकता है।

Bachelor Of Physiotherapy से जुड़े अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

Q-1. BPT course full form क्या है?

BPT course full form Bachelor of Physiotherapy है|

Q-2. BPT कोर्स क्यों जरूरी है?

Bachelor of Physiotherapy कोर्स करने से उन्हें कौशल और तकनीक हासिल करने में मदद करता है जो फिजियोथेरेपी उपचार के अभ्यास के लिए आवश्यक हैं।

Q-3. BPT कोर्स कितने साल को कोर्स है?

Bachelor of Physiotherapy कोर्स एक 4½ वर्ष की बैचलर डिग्री कोर्स है जिसमें पिछले 6 महीने की इंटर्नशिप भी जरूरी है।

Q-4. BPT कोर्स कब कर सकते है?

Bachelor of Physiotherapy कोर्स को हम 12वीं पास के बाद कर सकते है।

Q-6. BPT कोर्स के बाद क्या आगे पढ़ाई कर सकते है?

बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी कोर्स करने के बाद मास्टर डिग्री और बाद में पीएचडी और एमफिल भी कर सकता है।

Q-7. BPT Course करने के बाद कितनी सेलरी मिल सकती हैं?

Bachelor of Physiotherapy कोर्स करने के बाद आप औसत INR 2.95 L प्रति वर्ष कमाई कर सकते है।

निष्कर्ष

आशा करते हैं कि आपको BPT Course Details In Hindi की पूरी जानकारी प्राप्त हो चुकी होगी। अगर फिर भी आपके मन में BPT Course Kya Hota Hai? (What Is Bachelor Of Physiotherapy In Hindi) और बीपीटी कोर्स कैसे करे? को लेकर कोई सवाल हो तो, आप बेझिझक Comment Section में Comment कर पूछ सकते हैं।

अगर यह जानकारी पसंद आया हो तो, जरूर इसे Share कर दीजिए ताकि BPT Course Kaise Kare बारे में सबको जानकारी प्राप्त हो।

About Ainain

bachelor of physiotherapyमैं इस ब्लॉग का संस्थापक और एक पेशेवर ब्लॉगर हूं। यहाँ पर मैं नियमित रूप से अपने पाठकों के लिए उपयोगी और मददगार जानकारी साझा करता हूं। ❤️

19 thoughts on “बीपीटी क्या है? BPT (Bachelor of Physiotherapy) Course कैसे करें? Full Form, Qualification, Admission Process, Career, Salary, Syllabus, Fees, Entrance Exam, Scope आदि से जुड़ी सभी जानकारी हिंदी मे”

    • मुझे बहुत खुसी हुए की आपको BPT course details information in hindi की जानकारी पसंद आई

      Reply
    • Bpt agar uTtar pradesh s h too
      Cppnet exam hota hai uttar pradesh university of medical sciences
      Joo 1 government university h main bhi bpt krrha hun
      Jada jankari h lea
      [email protected]
      Is email contact kre
      Baki jankari m bta dunga kb form ayege kese kya proces hai …

      Reply

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.