BPT कोर्स क्या है? बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी कोर्स कैसे करे? BPT Course Full Form,Qualification,Admission Process,Career,Salary Syllabus, Fees, Entrance Exam, Scope,की पूरी जानकारी हिंदी में

Bachelor of Physiotherapy? आज बहुत से बच्चे है जो मेडिकल फील्ड में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं। उसमें भी ज्यादातर लोग डॉक्टर बनने के लिए एमबीबीएस करना चाहते है लेकिन यदि कोई छात्र किसी कारण से एमबीबीएस की डिग्री कोर्स नहीं कर पाता है| तो उसके लिए और भी कुछ कोर्स है जिससे वे मेडिकल फील्ड में अपना कैरियर बना सकते है।

जी हां एमबीबीएस के अलावा फिजियोथैरेपिस्ट भी आज मेडिकल फील्ड में बहुत ही जरूरी हिस्सा बन चुका है। आज के इस आर्टिकल में मै आपको Bachelor of Physiotherapy के बारे में जानकारी जानेंगे।

आज के इस आर्टिकल में आप जानेंगे कि BPT कोर्स क्या है?,(BPT Course details in Hindi), BPT(Bachelor of Physiotherapy) कोर्स कैसे करे?,(bpt course information in hindi), BPT (Bachelor of Physiotherapy) कोर्स के लिए योग्यता क्या है?, BPT (Bachelor of Physiotherapy) कोर्स के लिए एडमिशन प्रोसेस क्या है?, BPT Course के बाद आगे की पढ़ाई, BPT Course के बाद कैरियर।

BPT Course क्या है? What is Bachelor of Physiotherapy in Hindi?

विषय-सूची

What is Bachelor of Physiotherapy in Hindi
What is Bachelor of Physiotherapy Information in Hindi

BPT का फूल फॉर्म Bachelor Of Physiotherapy है। BPT course एक undergraduate course है| जो स्वास्थ्य क्षेत्र के अंतर्गत आता है जिसमे मुख्य रूप से अस्थमा, पार्किंसंस रोग, हृदय रोग, स्ट्रोक, सिस्टिक फाइब्रोसिस, पेल्विक जैसे विभिन्न रोगों के इलाज के लिए शरीर की activities पर ध्यान रखा जाता है और उसका इलाज किया जाता है। बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी कोर्स एक 4½ वर्ष की बैचलर डिग्री कोर्स है जिसमें पिछले 6 महीने की इंटर्नशिप भी जरूरी है।

बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी कैसे करें? How to do Bachelor of Physiotherapy?

Bachelor of Physiotherapy करने के लिए निचे जितने भी स्टेप बताये गए है सभी को ध्यान पूर्वक पढ़े तभी आप समझ पाएंगे की Bachelor of Physiotherapy kaise kare.

जैसे : Qualification, Admission Process, Entrance Exam, Syllabus, College, Career, Job..इत्यादि निचे ये सभी चीजे सीखेंगे जिससे बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी करने में आसानी होगी|

बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी कोर्स की योग्यता – Bachelor of Physiotherapy Course Qualification

बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी कोर्स करने के योग्यता की बात करे तो इसके लिए आपको 12वीं कक्षा में Physics, Chemistry And Biology (व्यावहारिक सहित) में कम से कम 50% मार्क्स के साथ पास होने चाहिए।

साथ ही साथ शिक्षा के अलावा, इसमें लंबे समय तक काम करने के घंटों के कारण अपने आप में शारीरिक सहनशक्ति की आवश्यकता होती है। यह कोई योग्यता तो नहीं है लेकिन यह भी जरूरी है।

बीपीटी कोर्स की प्रवेश प्रक्रिया! – Admission Process of BPT Course

बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी कोर्स में एडमिशन लेने के लिए जैसा की आपको उपर बताया कि आपको सबसे पहले 12वी कक्षा पास होना जरूरी है। उसके बाद आप एडमिशन के लिए अप्लाई कर सकते है। लेकिन कुछ कॉलेज और यूनिवर्सिटी में एडमिशन के लिए आपको उनकी एंट्रेंस एग्जाम देना जरूरी है। कौन सी एंट्रेंस एग्जाम होती है उसकी जानकारी नीचे दी गई है।

जब आप एंट्रेंस एग्जाम क्लियर कर लेते है तो उसके बाद मेरिट लिस्ट निकलती है। यदि आपका नंबर मेरिट लिस्ट में है तो ही आप अपनी मनपसंद कॉलेज में एडमिशन ले सकते है। इसके अलावा कुछ ऐसी भी कॉलेज है जो बिना किसी एंट्रेंस एग्जाम के बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी कॉलेज में आपको एडमिशन देते है।

बीपीटी कोर्स के प्रवेश परीक्षा – BPT Course Entrance Exam

यहां पर हमने कुछ एंट्रेस एग्जाम की लिस्ट दी है। जिसके लिए आप तैयारी कर सकते है।

  • CET
  • LPUNEST
  • BCECE

BPT कोर्स के सिलेबस – BPT Course Syllabus

नीचे हमने 4 साल के सिलेबस की जानकारी दी है।

BPT Syllabus – First Year

क्रमांक संख्या थियोरी
1. फिजियोथैरेपि का इंट्रोडक्शन
2. अनाटोमी
3. फिजियोलॉजी
4. फर्स्ट एड और नर्सिंग
5. बायोकेमिस्ट्री
6. फूड साइंस और न्यूट्रीशन
7. साइकोलॉजी
8 . कम्युनिकेशन स्किल्स

BPT Syllabus – Second Year

क्रमांक संख्या थियोरी
1. फार्माकोलॉजी
2. बायोमैकेनिक्स
3. इलेक्ट्रोथेरेपी
4. माइक्रोबायोलॉजी
5. पैथोलॉजी
6. क्लीनिकल ऑब्जर्वेशन
7. एक्सरसाइज थेरेपी

BPT Syllabus – Third year

क्रमांक संख्या थियोरी
1. स्पोर्ट्स साइंस एंड मेडिसिन
2. जनरल मेडिसिन एंड सर्जरी
3. फिजियोथेरेपी इन जनरल मेडिसिन एंड सर्जरी
4. बायोइंजीनियरिंग
5. रिहैबिलिटेशन साइंस
6. ऑर्थोपेडिक्स

BPT Syllabus – Fourth year

क्रमांक संख्या थियोरी
1. न्यूरोलॉजी
2. न्यूरोसर्जरी
3. मेडिकल एथिक्स
4. फिजियोथेरेपी इन कार्डियो डिसऑर्डर

अंतिम साल की परीक्षा पूरी होने के बाद, जो स्टूडेंट पास हुए है उनको 6 महीने की इंटर्नशिप करना जरूरी है। इंटर्नशिप सभी के लिए समान रूप से ऑर्थोपेडिक, न्यूरोलॉजी, जनरल सर्जरी, जनरल मेडिसिन और फिजियोथेरेपी जैसे विभागों में इंटर्नशिप करनी होती है।

Best Bachelor Of Physiotherapy College

Best Bachelor Of Physiotherapy College

यदि आप बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी के लिए बेस्ट कॉलेज ढूंढ़ रहे है? तो आपकी परेशानी हम दूर कर देते है। नीचे हमने इसके लिए कुछ कॉलेज की जानकारी दी है।

  1. Apollo Physiotherapy College
  2. Indian Institute of Health Education & Research
  3. Post Graduate Institute of Medical Education and Research
  4. Nizam’s Institute of Medical Sciences
  5. JSS College of Physiotherapy

बीपीटी कोर्स के बाद आगे की पढ़ाई – Further Studies After BPT Course

बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी कोर्स करने के बाद यदि कोई छात्र आगे पढ़ाई करना चाहता है तो वो आगे मास्टर डिग्री और बाद में पीएचडी और एमफिल भी कर सकता है।

बीपीटी कोर्स के बाद कैरियर – Career after BPT Course

यदि सिर्फ भारत में फिजियोथेरेपिस्ट के माग को देखे तो जैसे-जैसे भारत में स्पोर्ट्स बढ़ रहा है वैसे वैसे एक फिजियोथैेपिस्ट की माग भी बढ़ रही है। क्योंकि हरेक स्पोर्ट्स में इंजरी तो होती है और इसी वजह से लगभग हरेक स्पोर्ट्स स्टाफ में एक फिजियोथैरेपिस्ट की पोस्ट भी होती है।

बीपीटी कोर्स के बाद नौकरी – job after BPT Course

इसमें आप सिर्फ किसी एक स्पोर्ट्स तक ही सीमित नहीं हैं क्योंकि आज दूसरे क्षेत्रों में भी फिजियोथेरेपी के नौकरी के अवसर अधिक हैं। बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी स्नातक डिग्री के बाद आप औसत INR 2.95 L प्रति वर्ष कमाई कर सकते है।

Bachelor Of Physiotherapy से जुड़े अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

Q-1. BPT course full form क्या है?

BPT course full form Bachelor of Physiotherapy है|

Q-2. BPT कोर्स क्यों जरूरी है?

बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी कोर्स करने से उन्हें कौशल और तकनीक हासिल करने में मदद करता है जो फिजियोथेरेपी उपचार के अभ्यास के लिए आवश्यक हैं।

Q-3. BPT कोर्स कितने साल को कोर्स है?

बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी कोर्स एक 4½ वर्ष की बैचलर डिग्री कोर्स है जिसमें पिछले 6 महीने की इंटर्नशिप भी जरूरी है।

Q-4. BPT कोर्स कब कर सकते है?

बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी कोर्स को हम 12वीं पास के बाद कर सकते है।

Q-5. BPT कोर्स की फीस कितनी होती है?

बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी कोर्स की फीस अलग अलग कॉलेज पर आधारित है। गवर्नमेंट कॉलेज में फीस कम होती है वहीं प्राइवेट कॉलेज में फीस उस कॉलेज पर आधारित है।

Q-6. BPT कोर्स के बाद क्या आगे पढ़ाई कर सकते है?

बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी कोर्स करने के बाद मास्टर डिग्री और बाद में पीएचडी और एमफिल भी कर सकता है।

Q-7. BPT Course करने के बाद कितनी सेलरी मिल सकती हैं?

बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी कोर्स करने के बाद आप औसत INR 2.95 L प्रति वर्ष कमाई कर सकते है।

निष्कर्ष

आज के इस आर्टिकल में आपने जाना बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी कोर्स के बारे। BPT कोर्स क्या है?(What is BPT information in hindi), (How To Do BPT Full Details In Hindi), (Qualification, Job full details information in Hindi) और कैसे आप इस कोर्स को कर सकते है साथ है साथ यह भी जाना की इस कोर्स के बाद आगे कैरियर कैसा रहेगा।

इस आर्टिकल से जुड़े कोई भी सवाल है तो आप हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताए।

3 thoughts on “BPT कोर्स क्या है? बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी कोर्स कैसे करे? BPT Course Full Form,Qualification,Admission Process,Career,Salary Syllabus, Fees, Entrance Exam, Scope,की पूरी जानकारी हिंदी में”

    • मुझे बहुत खुसी हुए की आपको BPT course details information in hindi की जानकारी पसंद आई

      Reply

Leave a Comment