Processor क्या है और कैसे काम करता है? जाने Processor की पूरी जानकारी हिंदी में

अभी के इस वर्तमान समय में हर कोई Computer पर काम कर रहा है परंतु उनमें से ऐसे बहुत सारे लोग हैं जिन्हें What is Processor In Hindi के बारे में पता नहीं होता है। यदि आप भी प्रोसेसर के बारे में नहीं जानते तो, आज के इस आर्टिकल को पढ़कर आप प्रोसेसर क्या है? (What is processor in Hindi) जान जायेंगे।

Computer में Processor कैसे काम करते है? अगर हम कम सब्दो में कहें तो Processor कंप्यूटर या मोबाइल के अंदर रहने वाला एक छोटा सा chip है जो कि Computer, Laptop या किसी mobile डिवाइस को नियंत्रण करने में मदद करता है।

प्रोसेसर क्या है? – What is Processor in Hindi

What is Processor in Hindi
What is Processor in Hindi

Processor एक चिप है जो मदरबोर्ड से जुड़ी होती है और कंप्यूटर के अंदर इनपुट और आउटपुट ऑपरेशन को प्रोसेस करता है। यह आपसे इनपुट ले कर उसे प्रोसेस करता है और फिर आप तक सही आउटपुट  पहुँचाने  का काम करता है।

कंप्यूटर ON होने से लेकर कंप्यूटर पर हो रहे सारे काम को प्रोसेसर ही कंट्रोल करता है। आमतौर पर प्रोसेसर को CPU(Central processing unit) भी कहा जाता है जिसे कंप्यूटर का दिमाग भी कहते है। किसी भी काम को पूरा करने का स्पीड प्रोसेसर पर ही निर्भर करता है।

कंप्यूटर में प्रोसेसर का उद्देश्य – Purpose of the processor in the computer

Computer में Processor का उद्देश्य कंप्यूटर के अंदर चीजों को ठीक से संचालित करना होता है, जैसे कि मेमोरी स्टोरेज को बनाए रखना, युजर से इनपुट प्राप्त करना और इसे प्रोसेस करना, प्रोसेस करने के बाद युजर को आउटपुट प्रदान करना इत्यादि।

आजकल लोग अपना समय बचाने के लिए एक ही समय पे अपने कंप्यूटर में एक से अधिक कार्य करते है तो इस कारण Computer Processor का काम बहुत ही जटिल हो जाता है। एक अच्छे प्रोसेसर का गुण ये है की वो एक साथ एक से ज्यादा कार्य को आसानी से मैनेज करने में सक्छम होता है।

प्रोसेसर का इतिहास – Processor History In Hindi

Intel Company ने ही सबसे पहले प्रोसेसर का आविष्कार किया था। Intel के तरफ से आने वाला सबसे पहला single chip microprocessor था “इंटेल 4004 माइक्रोप्रोसेसर”(Intel 4004) जो कि साल 1971 में इंटेल के 3 इंजिनियर के द्वारा बनाया गया था अगर हम उन इंटेल के इंजीनियर के बारे में बात करें तो वह है Federico Faggin, Ted Hoff और Stan mazo। इंटेल का पहला प्रोसेसर अभी के समय के प्रोसेसर के मुकाबले आकार में बहुत ही बड़ा था परंतु जैसे-जैसे समय आगे बढ़ा वैसे ही हमें अच्छा और छोटा प्रोसेसर भी देखने को मिले, आज कल हमें जो प्रोसेसर देखने को मिलता हैं वह पहले के प्रोसेसर के मुकाबले बोहोत ही ज्यादा फास्ट है।

प्रोसेसर काम कैसे करता है? – How To Works Processor in Hindi

Processor हमारे Computer के RAM से जुड़ा होता है और रैम हमरे कंप्यूटर के हार्ड डिस्क से जुड़ा होता है, जब भी हम कुछ प्रोसेस करना चाहते है उस फाइल का डाटा हार्डडिस्क से रैम में ट्रांसफर होता है (रैम एक ऐसा मेमोरी है जो कंप्यूटर के डाटा को कुछ समय के लिए ही स्टोर करता है और Ram को Volatile memory भी कहा जाता है) और फिर प्रोसेसर उस Data के सरे Instruction(किसी भी डाटा में बहुत सारे इंस्ट्रक्शन्स हो सकते है) को एक एक कर के Decode करता है।

कंप्यूटर सिर्फ Binary भाषा को ही समझ सकता है इसलिए Processor पहले Instruction को हमारी भाषा से बाइनरी भाषा में बदलता है जिसे वह आसानी से समझ सके इसी को डिकोड करना कहते है। उसके बाद प्रोसेसर Instruction के बताए अनुसार काम करता है। प्रोसेसर के अंदर भी बहुत सारे डिवीज़न होते है जो की अलग अलग कामों को करने में सक्षम होते है।

जैसे की Arithmetic logic unit(ALU) है जो की जोड़, गुना, भगा इत्यादि बहुत सारे और भी कम करने में सक्षम है। अंत में प्रोसेसर अपना सारा काम पूरा करने के बाद अगर कुछ स्टोर करना होता है तो उसे बापस मेमोरी में भेज देता है या यूजर के लिए कुछ डिस्प्ले करना होता है तो, उसे स्क्रीन पर डिस्प्ले करता है। इन कामों को पूरा करने में प्रोसेसर सिर्फ कछ सेकण्ड्स ही लगाते है। आमतौर पर सारे Processor लगभग इसी प्रकार काम करते है।

कंप्यूटर में प्रोसेसर के प्रकार – Types of Processor in Computer

प्रोसेसर का उत्पादन कई कंपनियाँ करती है लेकिन उनमें से अधिकतर कंपनियां Mobile Processor का निर्माण करती है। Computer Processor अभी फ़िलहाल मार्किट में दो प्रकार के ज्यादा प्रचलित है:-

  1. Intel
  2. AMD

1971 में जब Intel ने अपना Single core processor (intel 4004) निकाला था तब कंप्यूटर में एक ही समय सिर्फ एक ही काम को नियंत्रित किया जा सकता था। परंतु 1993 में जब Intel ने Intel Pentium processor निकाला तब कंप्यूटर प्रोग्राम में आसानी से एक ही समय पर दोनों प्रोग्राम को नियंत्रित किया जा सकता था और इसके बाद धीरे धीरे इंटेल ने मार्केट में और भी powerful प्रोसेसर लाया जैसे कि Intel Pentium, Intel Pentium 3, Intel Pentium 4, Intel celeron Processor, Intel Core 2 Duo, Intel Core 2 Quad, Intel Xeon processor और intel i3, intel i5, intel i7, आदि।

जैसे जैसे Technology advance होता गया intel और AMD भी नए नए प्रोसेसर बाजार में लता गया। अभी तक मार्केट इन दोनों के बहुत सारे Variant आ गये है। इंटेल का Intel Core i9 Processors और एएमडी का AMD Ryzen 9 3900X सबसे लेटेस्ट है। जैसे जैसे टेक्नोलॉजी उन्नति करती जा रही है वैसे वैसे प्रोसेसर की भी स्पीड बढ़ती जा रही है। इसलिए हमें वही कंप्यूटर या लैपटॉप खरीदना चाहिए जिसमे की Latest version के processor उपलब्ध हों।

प्रोसेसर में कोर क्या होता है? – What is Core in Processor in Hindi

जैसा की आप जान चुके है की Computer का Speed ​​processor के ऊपर ही निर्भर करता है। लेकिन आपको बता दे की प्रोसेसर का स्पीड भी कोर पर आश्रित है।प्रोसेसर के Performance का अनुमान आमतौर पर कोर से ही लगाया जाता है। एक प्रोसेसर में जितने ज्यादा कोर होंगे उसका स्पीड भी उतना ही अधिक होगा।Core ही कंप्यूटर के छमता को दर्शाता है।

अगर किसी भी कंप्यूटर के CPU में एक ही कोर है तो इसका मतलब वह कंप्यूटर एक समय में एक काम को ही आसानी से करने में सक्षम है। अगर आप के कंप्यूटर के CPU में एक से अधिक कोर है इसका मतलब आप एक समय में एक से अधिक काम आसानी से कर सकते है। आजकल के CPU में Multiple core होते है जिससे कि कंप्यूटर एक से अधिक कामों को आसानी से और तेज गति से कर सके।

Clock Speed और Gigahertz क्‍या होती है?

आपका CPU एक सेकंड में कितना चक्र पूरा करता है उसी माँप को क्लॉक स्पीड कहते है और यह गीगाहर्ट्ज में मापा जाता है। किसी कंप्यूटर के CPU का Clock Speed जितना ज्यादा होगा वह कंप्यूटर उतना ही तेज़ी से काम करेगा। इसलिए हमें कंप्यूटर या लैपटॉप खरीदते समय हमेशा ध्यान रखना चाहिए की उसके प्रोसेसर का क्लॉक स्पीड कितना Gigahertz है और हमेशा ज्यादा गीगाहर्ट्ज वाले कंप्यूटर को खरीदना चाहिए जिससे की हमारा कंप्यूटर तेज़ गति से काम करे।

कंप्यूटर में प्रोसेसर जेनरेशन – Processor Generation in Computer?

इंटेल कंपनी हर साल old processor का एक नया powerful upgrade Variants लॉन्च करता है उसी को computer processor का generation कहा जाता है। पहले इंटेल उतना ज्यादा प्रोसेसर को Upgrade करके जेनरेशन वाइज लॉन्च नहीं करता था परंतु 2010 से इंटेल कंपनी लगातार उनके प्रोसेसर को upgrade करके New generation लेकर अरहा है जैसे कि –

  1. Intel i3 1st generation
  2. Intel i3 2nd generation
  3. Intel i3 3rd generation
  4. Intel i3 4th generation
  5. Intel i3 5th generation
  6. Intel i3 6th generation
  7. Intel i3 7th generation

Note – कंप्यूटर प्रोसेसर का जेनरेशन जितना ज्यादा होगा उतना ही अच्छा कंप्यूटर Performance देगा, इसीलिए कंप्यूटर या लैपटॉप खरीदने के वक्त आप सभी जांच कर लीजिएगा कि कंप्यूटर प्रोसेसर का जनरेशन लेटेस्ट है या नहीं।

निष्कर्ष

हमने आज के इस आर्टिकल में आपको यह बताया है कि Computer processor क्या है?(What is processor in Hindi), कंप्यूटर प्रसीसोर कैसे काम करता है?(How computer processor works),कंप्यूटर प्रोसेसर का प्रकार,कंप्यूटर प्रोसेसर का जेनरेशन,कंप्यूटर प्रोसेसर का इतिहास।

आशा करते हैं कि आप सभी को आज का यह जानकारी What is processor in Hindi पसंद आया होगा और यदि आपको लगे कि हमारा आज का यह आर्टिकल उपयोगी लगा है तो, आपने दोस्तो और रिश्तेदारों को यह Share कर दीजिए।

Leave a Comment