मास्टर ऑफ आर्ट्स क्या है? MA (Master Of Arts) Course कैसे करें? Full Form, Qualification, Admission Process, Career, Salary, Syllabus, Fees, Entrance Exam, Scope आदि से जुड़ी सभी जानकारी हिंदी मे

आज हम जानेंगे एम.ए कोर्स (M.A Course) कैसे करें पूरी जानकारी (How To Do Master Of Arts Course Details In Hindi) के बारे में क्यों की बहुत से स्टूडेंट को Arts विषय के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं है और आर्ट्स विषय में कौन कौन से कैरियर ऑप्शन उपलब्ध है। इस सभी चीजो के बारे में सही जानकारी ना होने की वजह से student Arts नहीं लेते है। यदि आपने भी अपनी बैचलर ऑफ आर्ट्स की डिग्री हासिल कर ली है और आगे पढ़ाई करना चाहते हैं लेकिन आगे पढ़ाई के लिए जानकारी चाहिए तो आज का यह आर्टिकल आपके लिए है।

आज के इस लेख में जानेंगे कि MA Course Kya Hota Hai, M.A Course के लिए Qualifications, MA Meaning In Hindi, M.A Course Kaise Karen, M.A (Master Of Arts) Course के लिए Eligibility, M.A Course के लिए Admission Process, एम.ए कोर्स के लिए तैयारी कैसे करें, M.A Entrance Exams, M.A Course की Fees, Master Of Arts Course करने के बाद Career & Scope, M.A Course के बाद Salary, आदि की सारी जानकारीयां विस्तार में जानने को मिलेंगी, इसलिये पोस्ट को लास्ट तक जरूर पढे़ं।

एम.ए क्या है? – What is M.A. (Master Of Arts) Course Information in Hindi?

विषय-सूची

M.A (Master Of Arts) Course Details in Hindi
M.A (Master Of Arts) Course Details in Hindi

M.A यानि Master Of Arts एक पोस्ट-ग्रेजुएशन स्तर का कोर्स है जो आमतौर पर दो साल की अवधि का होता है। जिन उम्मीदवारों के पास graduation की degree है, वे MA course कर सकते हैं। MA एक specialized course है जिसमें उम्मीदवारों को उनके द्वारा चुने गए course में depth knowledge दी जाती है। यह course आप अंग्रेजी, हिंदी और अन्य क्षेत्रीय भाषाओं और विदेशी भाषाओं सहित विभिन्न विषयों में उपलब्ध है।

इस डिग्री को वो लोग कर सकते है जिनका विषय हिस्ट्री, कम्युनिकेशन स्टडी, कूटनीति, पब्लिक एडमिनस्ट्रेशन, पॉलिटिकल साइंस और दूसरे विषय जैसे समाजिक विज्ञान के विषय में पढ़ना चाहते हैं। Master Of Arts 2 साल का एक पोस्टग्रेजुएशन डिग्री है। जिसे आप Bachelor of Arts की डिग्री करने के बाद कर सकते है।

M.A. का फुल फॉर्म क्या होता है? – What Is MA Full Form In Hindi?

MA का Full Form Master Of Arts होता है। हिंदी में M.A का फुल फॉर्म मास्टर ऑफ आर्ट्स होता है।

मास्टर ऑफ आर्ट्स कोर्स के लिए योग्यता – Qualification For Master Of Arts (M.A)

जो भी छात्र (M.A) Master Of Arts की मास्टर डिग्री करने में रूचि रखते है उनमें आगे बताई गयी मास्टर ऑफ आर्ट्स के लिए Qualification का होना आवश्यक है:

  • अगर आप MA Course करना चाहते हैं तो आपको 3 या 4 साल का BA Course पूरा करना होगा। स्नातक की डिग्री एक विश्वविद्यालय से होनी चाहिए जिसे भारत के UGC (University Grants Commission) द्वारा मान्यता प्राप्त है।
  • छात्रों को स्नातक की डिग्री में कम से कम 50% अंकों के साथ उत्तीर्ण होना चाहिए।
  • उन सभी आरक्षित श्रेणी के उम्मीदवारों के लिए 5% छूट है जो SC / ST / OBC और अलग-अलग श्रेणी के हैं।
  • जो छात्र अपनी Bachelor’s की degree के अंतिम वर्ष में हैं, वे भी आवेदन करने के लिए eligible हैं।

एम.ए में प्रवेश कैसे प्राप्त करें – How to Get Admission in Master Of Arts (M.A)

मास्टर ऑफ आर्ट्स की डिग्री के लिए अच्छे कॉलेजों में admission पाने के लिए कुछ कॉलेज entrance Exams लेती हैं। एंट्रेंस परीक्षाओं को पास करना पड़ता है। उसी के अनुसार आपको कॉलेज मिलता है। हालांकि, कुछ निजी कॉलेज हैं जहां आप प्रवेश परीक्षा दिए बिना प्रवेश ले सकते हैं।

एम.ए के लिए प्रवेश परीक्षा – Entrance Exams for Master Of Arts (M.A.)

MA के लिए कुछ प्रवेश परीक्षाओं के नामा हमने निचे बताये हुए है, जिसके लिए आप तैयारी कर सकते हैं। कुछ कॉलेज के खुद के entrance exam होते है।

  • TISSNET
  • IPUCET
  • PUCET
  • CUCET
  • TUEE
  • MGU CAT
  • AUCET
  • ITM NEST
  • JNUET
  • CPGET Exams

आदि जैसे प्रवेश परीक्षाओं के माध्यम से Master Of Arts में admission किया जाता है।

मास्टर ऑफ आर्ट्स पाठ्यक्रम की अवधि – M.A (Master Of Arts) Course Duration

आम तौर M.A (Master Of Arts) कोर्स की अवधि 2 वर्ष होती है। जिसमे से 2 Semesters और  4 या 5 पेपर्स होता हैं।

एमए कोर्स के सिलेबस – MA (Master Of Arts) Course Syllabus

MA के सिलेबस में आपको theory, practical lessons, internships, research projects, assignments, आदि पढ़ाया जाता है। MA Course में अगल अलग Specializations course होते है, जिसके Syllabus भी अलग अलग होते है। इस लेख में सभी Specializations course के Syllabus लिखना संभव नहीं है।

course में आमतौर पर 4-8 मुख्य subjects होते हैं जो अनिवार्य होते हैं, और कई वैकल्पिक course होते हैं, जिन्हें छात्रों को आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए चुनना होता है। वैकल्पिक courses की संख्या अलग-अलग कॉलेज में भिन्न होती है।

M.A. (Master Of Arts) Course के Specializations

MA Course में बहुत सरे Course है जिसमे से आपको किसी एक टॉपिक में Specializations कर सकते है मैंने निचे Master Of Arts में Specializations करने के कुछ लिस्ट दिए है

  • Master of Arts in English
  • Master of Arts in Hindi
  • Master of Arts in History
  • Master of Arts in International Relations
  • Master of Arts in Psychology
  • Master of Arts in Economics
  • Master of Arts in Political Science
  • Master of Arts in Education
  • Master of Arts in Sociology
  • Master of Arts in Fine Arts
  • Master of Arts in Gender Studies

एमए कोर्स की फीस – MA Course Fees

MA (Master Of Arts) Course की Average Fee ₹20,000 से ₹30,000 रुपये है। इस कोर्स की फीस अलग-अलग कॉलेज और Specializations पर different भिन्न हो सकती है।

एम.ए कोर्स के फायदे – Advantages or Benefits of M.A. (Master Of Arts)

मैं आपको MA (Master of Arts) करने के कुछ फायदों के बारे में बता रहा हूँ जिन्हें पढ़ने के बाद आपको कुछ मदद मिलेगी।

  • मास्टर डिग्री लेने के बाद किसी एक विषय में बहुत ज्ञान होगा।
  • मास्टर की डिग्री करने के बाद senior positions पर काम कर सकते है जैसे की management and leadership आदि
  • मास्टर डिग्री प्राप्त करके, आप अपनी income को increase कर सकते हैं। औसतन, bachelor’s degree वाले कर्मचारी प्रति वर्ष 20,473,43 कमाते सकते हैं।
  • master’s degree करने के बाद आपका research, writing और analyzing skill set बेहतर होजाता है।
  • MA Course करने के बाद आपकी टीचिंग के तरीके काफी बेहतर हो जाते हैं।

मास्टर ऑफ आर्ट्स कोर्स के बाद वेतन – Salary after MA (Master Of Arts)

MA Course करने के बाद Average Salary 5 लाख प्रति वर्ष होता है, जो व्यक्ति के Skills और Experience के साथ बढ़ सकता है। MA Course करने के बाद आपकी सैलरी आपके Specializations course पर निर्भर करता है। मान लीजये की आप Primary School में Teacher है तो आपका Salary ₹3,00,000 प्रति वर्ष होगा। अगर आप Human Resources (HR) Manager हो तो आपकी Salary ₹9,00,000 प्रति वर्ष होगा।

Distance से Master of Arts की Degree कैसे करें?

जो उम्मीदवार किसी कारण से मास्टर ऑफ आर्ट्स की डिग्री करने के लिए रेगुलर कॉलेज नहीं जा सकते है। वह डिस्टेंस मरस्टर ऑफ आर्ट्स करते है। अगर आप भी कोई ऐसी Full Time Job करते है या फिर कोई पर्सनल कारणों की वजह से आप M.A कॉलेज नहीं कर पा रहे है तो आप Distance m.a Program को Join कर सकते है। इसके लिए बहुत से Colleges भी उपलब्ध है। जहाँ से आप Distance मास्टर ऑफ आर्ट्स कर सकते है।

एमए कोर्स के लिए आवश्यक कौशल – Skills Required for MA Course

मैंने नीच कुछ स्किल बताये है जो MA Course करने के लिए आपके अन्दर होना जरुरी है।

  • आपको मेहनती होना होगा
  • आपके अन्दर एक अच्छा लेखक होना चाहिए
  • आपके बातों में तर्क होना चाहिए
  • आप जिस भाषा में MA कर रहे है, उस भाषा में Fluent होना चाहिए
  • आपके अन्दर Confident होना चाहिए
  • नए नए चीजे सिखने के लिए हमेशा उत्सुक से भरा रहना चाहिए
  • हमेशा आत्मविश्वास से भरा रहे

Top 5 Best Colleges For MA (Master Of Arts) Course in India

मैंने आपको कुछ इंडिया के टॉप कॉलेज के बारे में बताने वाला हूँ| जो आपको निचे लिस्ट मिल जायेगा m.a कोर्स करने के लिए

  1. Chandigarh University, [CU] Chandigarh
  2. Hindu College, Delhi University
  3. BHU Banaras Hindu University
  4. AMU Aligarh Muslim University
  5. Central University of Odisha

एमए के बाद नौकरी और कैरियर का अवसर – Job and Career Opportunity After MA (Master Of Arts)

Job and Career Opportunity After MA (Master Of Arts) Course
Job and Career Opportunity After MA (Master Of Arts) Course

मास्टर ऑफ आर्ट्स की डिग्री कर लेने के बाद आपके लिए बहुत सारे कैरियर ऑप्शन खुल जाते है। जिसमे आप सिर्फ सरकारी जॉब ही नहीं बल्कि अपना खुद का बिजनेस भी स्टार्ट करने का कैरियर खुल जाता है। इस कोर्स को पूरा करने के बाद एजुकेशन सेक्टर, लॉ फिर्म और भी सेक्टर में अपना कैरियर बना सकते है।

जिसमे आप आसानी से प्रति वर्ष लगभग 2 से 3 लाख रुपये के औसत पैकेज की उम्मीद कर सकते हैं। साथ ही साथ आप Content Writer, Human Resource Manager, Research and Development Managers, Teacher, Professor जैसी पोस्ट पर भी आप काम कर सकते है।

छात्र को एमए कोर्स करना चाहिए या नहीं?

मास्टर ऑफ आर्ट्स का कोर्स करना चाहिए या नहीं ये स्टूडेंट पर आधारित है। लेकिन अगर वो इस कोर्स को करता है तो उसे उसका जो विषय है उसके उपर in depth जानकारी जानने को मिलती है। जो उसे उस विषय में स्पेशलाइज्ड बनाता है।

निष्कर्ष

आशा करते हैं कि आपको MA Course Details In Hindi की पूरी जानकारी प्राप्त हो चुकी होगी। अगर फिर भी आपके मन में MA Course Kya Hota Hai? (What Is Master Of Arts In Hindi) और मास्टर ऑफ आर्ट्स कोर्स कैसे करे? को लेकर कोई सवाल हो तो, आप बेझिझक Comment Section में Comment कर पूछ सकते हैं।

अगर यह जानकारी पसंद आया हो तो, जरूर इसे Share कर दीजिए ताकि MA (Master Of Arts) Course Kaise Kare बारे में सबको जानकारी प्राप्त हो।

1 thought on “मास्टर ऑफ आर्ट्स क्या है? MA (Master Of Arts) Course कैसे करें? Full Form, Qualification, Admission Process, Career, Salary, Syllabus, Fees, Entrance Exam, Scope आदि से जुड़ी सभी जानकारी हिंदी मे”

  1. BA main jo subject the ….usk alawa bhi kisi open university se kisi dusri subject main mA kr skte h kya

    Reply

Leave a Comment