Paid Poste

सिबिल स्कोर क्या है और इसे कैसे सुधारें?

आज हम जानेंगे Cibil Score Kya Hai की पूरी जानकारी (What is CIBIL Score and how to improve it) के बारे में क्योंकि एक क्रेडिट स्कोर (सिबिल स्कोर) मूल रूप से आपकी “क्रेडिट योग्यता” का संख्यात्मक रूप से प्रतिनिधित्व करता है। यह बैंकों, क्रेडिट कार्ड कंपनियों और अन्य उधारदाताओं को आपके वित्तीय इतिहास के बारे में ऋण या क्रेडिट की अन्य लाइनों के भुगतान के संदर्भ में बताता है। इससे उन्हें यह निर्णय लेने में मदद मिलती है कि आप समय पर ऋण चुकाने में सक्षम हैं या नहीं हैं।

अपने Cibil Score को बेहतर बनाने के लिए, आपको सबसे पहले यह समझना होगा कि सिबिल स्कोर क्यों मायने रखता है। आज के इस लेख में जानेंगे कि Cibil Score Kya Hai, सिबिल स्कोर क्यों महत्वपूर्ण है, Cibil Score Kaise thik Karen, आदि की सारी जानकारीयां विस्तार में जानने को मिलेंगी, इसलिये पोस्ट को लास्ट तक जरूर पढे़ं।

सिबिल स्कोर क्यों महत्वपूर्ण है?

सिबिल स्कोर
Cibil Score In Hindi

जब आप क्रेडिट कार्ड, पर्सनल लोन, होम लोन या किसी अन्य लाइन ऑफ क्रेडिट के लिए आवेदन करते हैं, तो उसमें आपका क्रेडिट इतिहास और स्कोर एक बड़ी भूमिका निभाता है। यदि आपके पास एक उच्च क्रेडिट स्कोर है, तो आपको कम ब्याज दरों पर ऋणदाता से अनुमोदन प्राप्त होने की अधिक संभावना है। संक्षेप में, आपका क्रेडिट स्कोर निम्नलिखित बिंदुओं को निर्धारित करने में मदद करता है:

  • ऋण या क्रेडिट कार्ड के लिए आपका आवेदन स्वीकार किया जाए या नहीं।
  • एक ऋणदाता द्वारा आपको कितना क्रेडिट सुरक्षित रूप से दिया जा सकता है।
  • किसी भी ऋण उत्पाद पर आप से कितनी ब्याज दरें ली जाएंगी।

जब आप कोई घर खरीदना चाहते हैं और उसे खरीदने के लिए किसी भी बैंक या अन्य लाइन ऑफ क्रेडिट से लोन लेते हैं तो बैंक, संपत्ति मालिक और रियल्टर्स आपके क्रेडिट स्कोर को ध्यान में रखकर ही प्रक्रिया शुरू करते हैं। इसके साथ साथ जब भी आप किसी बीमा पॉलिसी के लिए आवेदन करते हैं तब बीमा प्रदाता भी आपके क्रेडिट स्कोर को ध्यान में रखते हैं।

सिबिल स्कोर चेक

अगर आप फ्री में अपना Cibil Score चेक करना चाहते हैं तो फ़िट.क्रेडिट के द्वारा आप आसानी से इसकी जांच कर सकते हैं। यह एक बेहतरीन वेबसाइट है जहां आप अपने सिबिल स्कोर को सिर्फ 30 सेकंड्स में मुफ्त में चेक कर सकते हैं।

एक अच्छा सिबिल स्कोर क्या माना जाता है?

आपका सिबिल स्कोर 300 और 850 के बीच तीन अंकों की संख्या होगी, जिसमें 660 से कम का क्रेडिट स्कोर खराब माना जाता है। आम तौर पर औसत सिबिल स्कोर 660 और 719 के बीच रहता है। यदि आप सस्ती दरों पर ऋण या क्रेडिट की तलाश में हैं तो आपको अपना सिबिल स्कोर 720 से अधिक करने का लक्ष्य रखना चाहिए।

ये भी पढ़े: बिजनेस लोन (Business Loan) कैसे लें?

यदि आपका Cibil Score आपके लिए ऋण प्राप्त करने के लिए बहुत कम है, या आप इसे अपने क्रेडिट कार्ड या बीमा पर बेहतर दरें प्राप्त करने के लिए बनाना चाहते हैं, तो इसे सुधारने के कुछ तरीके हैं। यहां तक कि अगर आपने पहले कभी कोई ऋण नहीं लिया है, तो आप ऋण के लिए आवेदन करने की योजना बनाने से पहले अपना क्रेडिट स्कोर बनाना शुरू कर सकते हैं!

अपने क्रेडिट स्कोर में सुधार करने के 7 तरीके

अपना क्रेडिट स्कोर बनाने और सुधारने के 7 तरीके यहां दिए गए हैं

1. क्रेडिट कार्ड खर्च सीमित करें

सकारात्मक और उच्च स्कोर के लिए क्रेडिट कार्ड पर अपने खर्च को प्रत्येक कार्ड की सीमा और अपनी सम्पूर्ण सीमा के 50% या उससे कम रखें। साथ ही जहां तक संभव हो, आउट-ऑफ-पैटर्न खर्च से बचें। उदाहरण के लिए, एक कार्ड पर जहां आप आमतौर पर केवल 35,000 प्रति माह खर्च करते हैं, उसी कार्ड पर किसी महीने 100000 रुपए खर्च कर देना या थोड़े समय में बहुत सारे रुपयों की नकद निकासी करना आपके क्रेडिट स्कोर को प्रभावित करता है।

2. समय पर अपना कर्ज चुकाएं

यह सुनिश्चित करें की आप अपने सभी बिलों का भुगतान समय पर करें चाहे वह क्रेडिट कार्ड बिल हो, लोन की ईएमआई हो या फिर आपका फोन और उपयोगिता बिल हो। इन बिलों के भुगतान में देरी करना आपके क्रेडिट स्कोर को नकारात्मक रूप से प्रभावित करता है, खासकर अगर ऐसा बार-बार होता है। समय पर सभी बिलों के भुगतान और ट्रैक पर बने रहने के लिए कैलेंडर और रिमाइंडर का उपयोग करें।

3. अपने क्रेडिट स्कोर की निगरानी करें

आप तीन प्रमुख क्रेडिट ब्यूरो में से किसी के भी माध्यम से अपनी क्रेडिट रिपोर्ट तक पहुंच सकते हैं। यहां तक कि अगर आप ऋण की तलाश नहीं भी कर रहे हैं तब भी यह इस बात का अंदाजा लगाने में मदद करता है कि आप कितने कर्जदार हैं। अपनी क्रेडिट रिपोर्ट की जांच करने से आपको यह पता लगाने में भी मदद मिल सकती है कि आपके द्वारा किए गए लोन आवेदन क्यों खारिज किए जा रहे हैं। इसके अतिरिक्त अपने वित्त की अधिक सावधानी से योजना बनाएं ताकि आप अपने क्रेडिट स्कोर में सुधार कर सकें।

4. अपने ऋण को समेकित करें

यदि आपके पास कई क्रेडिट कार्ड या ऋण में उच्च बकाया राशि है, तो उन सभी को एक ही छत के नीचे एक साथ लाएं। कम ब्याज वाले व्यक्तिगत ऋण या क्रेडिट लाइन का उपयोग करने से आपको अधिक प्रभावी ढंग से पुनर्भुगतान का प्रबंधन करने, कम ब्याज का भुगतान करने और आपके क्रेडिट स्कोर पर ऋण के उच्च स्तर के समग्र प्रभाव को कम करने में मदद मिल सकती है।

5. एकाधिक अनुप्रयोगों से बचें

एकाधिक अनुप्रयोगों से मतलब है कि आपको कम समय में कई क्रेडिट कार्ड या असुरक्षित ऋण के लिए आवेदन नहीं करना चाहिए। एक साथ एक से अधिक लाइन ऑफ क्रेडिट के लिए आवेदन करने से आपके समग्र स्कोर पर बहुत बड़ा प्रभाव नहीं पड़ता है। यह आपको किसी भी बैंक या क्रेडिट कार्ड प्रदाता के लिए एक उच्च जोखिम वाले उधारकर्ता की तरह लग सकता है।

6. अपने क्रेडिट मिश्रण में सुधार करें

आपको ऐसे ऋण या क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन नहीं करना चाहिए जिसकी आपको आवश्यकता नहीं है। साथ ही, याद रखें कि विविध उधार आपके क्रेडिट स्कोर को बेहतर बनाने में मदद कर सकते हैं। यदि आपके पास होम लोन, कार लोन और क्रेडिट कार्ड जैसे क्रेडिट खातों का मिश्रण है, तो ऋणदाता अधिक सकारात्मक प्रतिक्रिया देंगे, लेकिन केवल तभी जब आपके पास समय पर भुगतान करने का इतिहास हो।

7. पुराने कार्ड रद्द करें

जब आप किसी क्रेडिट कार्ड या ऋण का भुगतान करते हैं, तो इसे अपनी क्रेडिट रिपोर्ट से निकालने में जल्दबाजी न करें। क्रेडिट की एक निश्चित लाइन के इतिहास की तुलना में आपकी रिपोर्ट पर समय पर पुनर्भुगतान का इतिहास होना वास्तव में अधिक उपयोगी है। इसलिए ही पुराने कार्ड रद्द करने के बजाय, अपने क्रेडिट स्कोर को बढ़ाने के लिए उन्हें रिपोर्ट पर छोड़ दें। यह सच है कि आपका क्रेडिट स्कोर रातों रात नहीं बदलेगा परंतु इसे सुधारने के लिए आप जो भी कदम उठाते हैं, वह लंबे समय में आपकी काफी मदद करेगा।

निष्कर्ष

आशा है आपको सिबिल स्कोर क्या है और इसे कैसे सुधारें के बारे में पूरी जानकारी मिल गई होगी। अगर अभी भी आपके मन में Cibil Score Kya Hai aur cibil score kaise badhaye (What is CIBIL Score and how to improve it in Hindi) और सिबिल स्कोर क्या है और इसे कैसे सुधारें को लेकर आपका कोई सवाल है तो आप बेझिझक कमेंट सेक्शन में कमेंट करके पूछ सकते हैं। अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे शेयर जरूर करें ताकि सभी को Cibil Score Kya Hai aur cibil score kaise badhaye के बारे में जानकारी मिल सके।

आपको हमारा यह लेख कैसा लगा?
Ainain
मैं supportingainain ब्लॉग का संस्थापक और एक पेशेवर ब्लॉगर हूं। यहाँ पर मैं नियमित रूप से अपने पाठकों के लिए उपयोगी और मददगार जानकारी साझा करता हूं। ❤️ Contact us via Email - ainain6971@gmail.com

कैसे अपने लॉटरी जीतने के अवसर बढ़ाए, लॉटरी टिप्स

Previous article

हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर में अंतर क्या है? – Difference between Hardware and Software in Hindi

Next article

Comments

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like