Bachelor of Education (B.Ed) Course क्या है और कैसे करें? B.Ed Course Full Form,Qualification,Admission Process,Career,Salary, Syllabus, Fees, Entrance Exam, Scope, की पूरी जानकारी हिंदी में

आज हम जानेंगे की B.Ed क्या है? (What is B.Ed in Hindi), B.Ed कैसे करें? (How to B.Ed Hindi) और B.Ed Course Details In Hindi.  क्या आप जानते है कि भारत में एजुकेशन इंडस्ट्री एक ऐसी इंडस्ट्री है जिसका आगे आनेवाले समय में बहुत ही प्रॉफिटेबल  रहने वाला है। भारत में अभी भी और बीते दिनों में एजुकेशन में शिक्षक को एक अलग दर्जा दिया गया है। भारत में ज्यादातर बच्चे बचपन से ही teacher बनना चाहते है और बहुत से बच्चो का शिक्षक बन्ने का सपना होता है। यदि आप भी एक शिक्षक बनना चाहते है तो यह आर्टिकल आपके लिए है।

आज के इस आर्टिकल में आप जानने वाले है कि बी.एड कोर्स क्या है?(What Is A B.Ed Course In Hindi), बी.एड कोर्स कैसे करें?(How To Do B.Ed Course In Hindi), बी.एड कोर्स के लिए योग्यता क्या है?(What Is The Qualification For B.Ed Course In Hindi), बी.एड कोर्स के लिए प्रवेश प्रक्रिया क्या है?(What Is The Admission Process For B.Ed Course In Hindi), बी.एड कोर्स के बाद आगे की पढ़ाई (Further Studies After B.Ed Course In Hindi), बी.एड के बाद करियर और स्कोप (Career and Scope after B.Ed) और All details about b.ed course जानेंगे| तो आइए जानते है……

बी.एड क्या है? – What is B.Ed Course Information in Hindi?

विषय-सूची

What is B.Ed Course Information in Hindi
What is B.Ed Course Information in Hindi

B.Ed का Full Form “Bachelor of Education” होता है| बी.एड 2 साल का अंडर ग्रेजुएट टीचिंग कोर्स है और इस कोर्स को करने के बाद आप टीचिंग में अपना कैरियर बना सकते है। गवर्नमेंट स्कूल हो या फिर प्राइवेट स्कूल दोनों में Teaching कर सकते है| यदि आप शिक्षक बनना चाहते है तो आपको बी.एड करना जरूरी है।

B.Ed Full Form

B.Ed Full Form : “Bachelor of Education” है|

बी.एड का फूल फॉर्म हिंदी में : “शिक्षा में स्नातक” होता है।

बी.एड कोर्स कैसे करें? – How to do B.Ed Course details in Hindi

यदि आपका लक्ष्य पहले से फिक्स है कि आपको आगे जाकर B.Ed ही करना है तो इसको शुरुआत 10वी से हो जाती है। आइए जानते है स्टेप बाय स्टेप की बी.एड कोर्स कैसे करें।

यदि आप आगे जाकर बीएड करना चाहते है तो जैसा की आपको उपर बताया कि इसके लिए आपको 10वी पास होने के बाद तैयारी करनी होगी। आप जिस विषय में अच्छे है, आप जिस विषय में आगे पढ़ाना चाहते है आपको 12वी में उसी विषय को चुनना है। जैसे कि आप साइंस में इंटरेस्टेड है तो आपको 12th साइंस करना चाहिए, इसी प्रकार आप अपने विषय चुने।

12वी पास होने के बाद एक और इंपॉर्टेंट स्टेप है। 12वी पास होने के बाद जब आप ग्रेजुएट करने जाते है तो इसमें आपको किसी एक विषय को चुनना होता है। पहले दो वर्ष आपको ग्रेजुएट के सभी विषय पढ़ने होते है लेकिन आखिर वर्ष में आपको Specific subject को चुनना होता है। For example आपके 12वी साइंस पास कर ली है तो अब आगे जाकर आपको मैथ्स, केमिस्ट्री, फिजिक्स जैसे विषय में से किसी एक विषय को चुने।

ध्यान रहे, यहां पर आप उन्हीं विषय को चुने जिसमे आपको रुचि है, आपको जिज्ञासा है नया सीखने की। क्योंकि यहां पर आप जो विषय चुनते है आगे जाकर आप उसी विषय पर टीचिंग दे सकते है।

तीन साल का ग्रेजुएट डिग्री पास होने के बाद आपको आगे बी.एड में प्रवेश के लिए अप्लाई करना है। बी.एड एडमिशन के लिए आपको उनकी qualification और Admission Process के बारे में जानना जरूरी है आइए आगे जानते है।

B.Ed के लिए क्या Qualification चाहिए?

B.Ed में Admission लेने से पहले आपको इसकी Eligibility के बारे में जानना जरूरी है। जिसकी जानकारी नीचे दी हुई है। बी.एड में प्रवेश लेने के लिए आपको ग्रेजुएट होना जरूरी है। ग्रेजुएट डिग्री में आपका कम से कम 50% मार्क्स होने चाहिए, ज्यादा होगे उतना आपके लिए बेहतर है।

B.Ed में Admission लेने के लिए Process क्या है?

बी.एड एडमिशन के लिए ग्रेजुएट पास होने के बाद ऑनलाइन या फिर ऑफलाइन माध्यम से यूनिवर्सिटी में फॉर्म भर के अप्लाई कर दीजिए।

फॉर्म भरने के बाद मेरिट लिस्ट जारी की जाएगी।  जितने अच्छे आपके मार्क्स होगे, उतना अच्छा आपका मेरिट होगा। जितना अच्छा आपका मेरिट होगा, उतनी अच्छी कॉलेज में आप एडमिशन पा सकेगे।

इसके अलावा कुछ कॉलेज और यूनिवर्सिटी अपने अलग से एंट्रेंस एग्जाम रखती है। जिसको पास करना जरूरी होता है। लेकिन ज्यादातर कॉलेज में सीधे प्रवेश दिया जाता है।

B.Ed Entrance Exams

अधिकांश कॉलेजों और विश्वविद्यालयों में बी.एड प्रवेश प्रवेश परीक्षा के आधार पर किया जाता है। लोकप्रिय बी.एड प्रवेश परीक्षाओं का पैटर्न ऐसा है कि उम्मीदवारों को दो या तीन खंडों से प्रश्नों को हल करने की आवश्यकता होती है। पहला खंड भाषा प्रवीणता का परीक्षण करता है और शेष खंड अभ्यर्थियों के डोमेन ज्ञान और तर्क क्षमता का परीक्षण करते हैं। कुछ लोकप्रिय बी.एड प्रवेश परीक्षा के इच्छुक उम्मीदवारों को इस पर विचार करना चाहिए:

B.Ed Course की Fees कितनी होती है?

बी.एड की फीस कॉलेज पर आधारित है। यदि आप गवर्नमेंट कॉलेज में प्रवेश लेते है तो आपको कम फीस में प्रवेश मिलेगा, जबकि प्राइवेट कॉलेज में यह फीस ज्यादा हो सकती है। फिर भी प्राइवेट कॉलेज में यदि आप बी.एड करते है तो 1 लाख तक फीस होती है।

B.Ed Syllabus

बी.एड कोर्स में 4 semesters होते है जिसमे practical और theoretical subjects  होते है| हमे निचे आपको B.Ed Syllabus की जानकारी दी है|

Year 1 Year 2
Childhood and Growing Up Engagement with field tasks
Contemporary India and Education Pre-Internship
Pedagogy of Subjects Internship
Languages Across the Curriculum Post Internship
Understanding ICT and its applications Arts in Education
Knowledge and Curriculum Creating an Inclusive School
Learning and Teaching Health, Yoga, and Physical Education
Assessment for Learning Understanding the Self
School Attachment Reading and Reflecting on Texts

बी.एड के बाद कैरियर विकल्प – Career Options After B.Ed

भारत में सबसे बड़ी इंडस्ट्री में से एक है शिक्षण। बी.एड के बाद आप आसानी से गवर्नमेंट और प्राइवेट स्कूल में टीचर की जॉब पा सकते है इसके अलावा यदि आप जॉब करना नहीं चाहते है तो आप खुद का प्राइवेट ट्यूशन क्लासिस चला सकते है।

बी.एड के बाद आप एक टीचर, कंसल्टेंट और प्रोफेसर कि पोस्ट पर जॉब पा सकते है।

बी.एड के बाद कितनी सेलरी मिल सकती है? – B.Ed Teacher Salary

बी.एड करने के बाद सेलरी आपको स्किल्स और आपके पोस्ट के उपर आधारित है। वैसे भी आज के समय में आपने टीचिंग की अच्छी स्किल्स है तो आप गवर्नमेंट शिक्षक के मुकाबले प्राइवेट ट्यूशन क्लासिस चला कर भी अच्छी कमाई कर सकते है। बी.एड करने के बाद टीचिंग करके अपनी स्किल्स का उपयोग करके आप आसानी से 1 लाख से लेकर 3 लाख तक की सेलरी पा सकते है।

B.Ed Course से संबंधित अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

Q-1. बी.एड कितने साल का कोर्स है?

Ans: बी.एड 2 साल का कोर्स है।

Q-2. बी.एड करने के लिए क्या जरूरी है?

Ans: बी.एड करने के लिए आपके पास किसी भी विषय में ग्रेजुएट डिग्री होना जरूरी है।

Q-3. बी.एड करने के बाद कितनी सेलरी पा सकते है?

Ans: बी.एड करने के बाद आप आसानी से 1 लाख से लेकर 3 लाख को कमाई कर सकते है।

Q-4. क्या हम Distance मोड से B.Ed कर सकते हैं?

Ans: जी बिलकुल आप बी.एड Distance और open learning से भी कर सकते है|

Q-5. B.Ed पूरा करने के बाद शिक्षण के अलावा अन्य संभावित कार्य पहलू क्या हैं?

Ans: B.Ed पूरा होने के बाद आप content writing, सलाहकार, Teacher, आदि.. बन सकते है|

Q-6. B.Ed करने के लिए Age Limit क्या है?

Ans:आप 21 से 35 वर्ष की आयु सीमा के भीतर बी.एड कर सकते हैं

Q-7. बी.एड करने के लिए कितने परसेंटेज चाहिए

Ans: Bachelor of Education (B.Ed) करने के लिए किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड या विश्वविद्यालय से 10 + 2 में कुल 50-55% के पास है या आपको प्रवेश परीक्षा उत्तीर्ण करनी है।

निष्कर्ष

आज के इस आर्टिकल में आपने जाना B.Ed क्या है? (What is B.Ed in Hindi), B.Ed कैसे करें? (How to B.Ed hindi) और आगे आपका कैरियर कैसा रहेगा?

बी.एड से जुड़ी सारी जानकारी देने की कोशिश की है, फिर भी यदि इस आर्टिकल से जुड़े कोई सवाल है तो आप नीचे कॉमेंट बॉक्स में जरूर बताए।

Leave a Comment