Bachelor Of Commerce (B.Com) क्या है? B.Com Course कैसे करे? B.Com Full Form, Qualification, Admission Process, Career, Salary, Fees, Entrance Exam, Scope की पूरी जानकारी हिंदी में

एक बार फिर से Supporting Ainain में आपका स्वागत है और आज हम B.com Course Details in Hindi के बारें में जानेंगे। क्या आपको भी अकाउंट और आंकड़ों से खलेना पसंद है और आप अभी 12 वीं या 11 वीं कॉमर्स में है और इसमें करियर बनाना चाहते है? तो आज का यह आर्टिकल आपके लिए है।

आज के इस आर्टिकल में जानेंगे कि वाणिज्य स्नातक क्या है? (What is B.Com details in Hindi?), बी.कॉम कोर्स कैसे करें?(How to do Bachelor of Commerce course details in Hindi?), बी.कॉम की योग्यता क्या है?(What is the qualification of B.Com Course?), बी.कॉम के लिए प्रवेश प्रक्रिया क्या है?(What Is The Admission Process For B.Com Course), बी.कॉम के बाद करियर और स्कोप (Career And Scope After B.Com Course), बी.कॉम बाद सैलरी कितनी मिलेगी और Bachelor of Commerce के बारे में सभी जानकारी जानेंगे तो, आइए जानते है।

बी.कॉम क्या होता है? What is B.Com (Bachelor of Commerce) Details in Hindi?

विषय-सूची

Bachelor of Commerce (B.com Course) details in Hindi
Bachelor of Commerce (B.com Course) details in Hindi

B.Com का फूल फॉर्म “Bachelor of Commerce” होता है। यह एक तीन साल का ग्रेजुएट कोर्स है। देखा जाए तो B.Com कॉमर्स स्ट्रीम का सबसे बड़ा और पॉपुलर कोर्स है। इस कोर्स को आप 12 वीं में कॉमर्स विषय के साथ पास होने के बाद कर सकते है।

बीकॉम कोर्स  उन सभी के लिए सबसे अच्छा विकल्प है जो व्यावसायिक, बैंकिंग, बीमा जैसे क्षेत्र में अपना करियर बनाने के लिए उत्सुक हैं। दूसरी बात कि बीकॉम उन सभी के लिए एक अच्छा कोर्स है जो चार्टर्ड अकाउंटेंसी (सीए) और कंपनी सेक्रेटरीशिप (सीएस) जैसे बिजनेस में अपने आप को आगे बढ़ाना चाहते हैं।

B.Com Full Form

B.Com Full Form : Bachelor of Commerce होता है|

बी.कॉम का कोर्स कैसे करें? – How to do Bachelor of Commerce Course? Information in Hindi

यदि आप भी B.Com Course को करना चाहते है और आप को इस बात की जानकारी नहीं है कि बेचलर ऑफ कॉमर्स कोर्स को कैसे करे?, तो उसकी सारी जानकारी नीचे बताई हुई है। जिसे पढ़ने के बाद B.Com course से जुडी सभी जानकारी मिल जाएगी|

बी.कॉम कोर्स करने के लिए योग्यता Eligibility For B.Com Courses

बीकॉम कोर्स भारत में ज्यादातर सभी यूनिवर्सिटी और कॉलेजों में आप कर सकते है। लेकिन इसके लिए आपको B.Com courses कि योग्यता को पूरी करना जरूरी है। यदि बेचलर ऑफ कॉमर्स करना चाहते है तक आपको 11वीं और 12वीं कक्षा में अकाउंटेंसी, बिजनेस स्टडीज, इकोनॉमिक्स, मैथ्स और अंग्रेजी विषय के साथ पास होना जरूरी है।

आप जिस कॉलेज में एडमिशन लेना चाहते हैं उस कॉलेज के कट ऑफ को भी पूरा करना जरूरी है। फिर भी आपको 12 वीं कक्षा में कम से कम 50% मार्क्स के साथ पास हो तो आपके लिए अच्छा है।

बैचलर ऑफ कॉमर्स कोर्स एडमिशन प्रोसेस – B.Com Course Admission Process

बेचलर ऑफ कॉमर्स कोर्स में ज्यादातर एडमिशन मेरिट लिस्ट (12 वीं कक्षा में उत्तीर्ण मार्क्स) के आधार पर किया जाता है। फिर भी कुछ प्रसिद्ध कॉलेज है जो अपनी एंट्रेंस एग्जाम लेते है जिसे आपको देना जरूरी है।

जब आप उनकी एंट्रेंस एग्जाम देते है उसके बाद उनकी मेरिट लिस्ट जारी की जाती है। जब आप इस मेरिट लिस्ट में आते है तो ही आप अपनी पसंदीदा कॉलेज में एडमिशन ले सकते है।

बी.कॉम कोर्स की प्रवेश परीक्षा – Entrance Exam For B.Com

आज कॉमर्स भारत में दूसरे नंबर की पसंदीदा स्ट्रीम है। जिसमे 12वीं के बाद बहुत से बच्चे कॉलेज में एडमिशन के लिए एंट्रेंस एग्जाम देते हैं। एंट्रेंस एग्जाम की लिस्ट नीचे दी गई है जैसे की….

  • IPU CET (Indraprastha University Common Entrance Test)
  • DUET (Delhi University Entrance Test)
  • CUET (Christ University Entrance Test)

बी.कॉम कोर्स के लिए शुल्क कितनी होती है? – Fee Structure For B.Com Course

बेचलर ऑफ कॉमर्स कोर्स की फीस अलग-अलग कॉलेज पर आधारित है। यदि आप इस कोर्स को प्राइवेट कॉलेज में करते है तो ज्यादा फीस होगी वहीं गवर्नमेंट कॉलेज में करते है तो इस कोर्स कि फीस कम होगी।

लेकिन फिर भी B.Com Course की Fees लग भाग Rs. 10,000 से ले कर Rs. 1,00,000 तक हो सकती है। मेरी मानें तो आप कॉलेज से Fee के बारें में जरुर से पूछ ले इससे आपको सटीक जानकारी मिल जाएगी।

Bachelor of Commerce (B.Com) Syllabus

B.Com Syllabus – First Year

Financial AccountingBusiness Mathematics and Statistics
Environmental StudiesBusiness Laws
Principles of Micro Economics (Elective)New Venture Planning (Elective)
Economics of Regulation of Domestic and Foreign Exchange Markets (Elective)Principles of Macro Economics (Elective)
Business Organization and ManagementLanguage (English/ Hindi/ Modern Indian Language)

B.Com Syllabus – Second Year

Indirect Tax LawsCompany Law
Corporate AccountingFinancial Markets and Institutions
E-CommerceBanking and Insurance
Investing in Stock MarketsFinancial Analysis and Reporting
Indian Economy (Elective)Income Tax Laws (Elective)
Industrial Laws (Elective)Human Resource Management (Elective)

B.Com Syllabus – Third Year

Cost AccountingInternational Business
AdvertisingAuditing and Corporate Governance
Business CommunicationFundamentals to Financial Management
Consumer Affairs and Customer CareCyber Crimes and Laws
Personal Selling and SalesmanshipComputer Applications in Business
Principles of Marketing (Elective)Training and Development (Elective)

बी.कॉम के बाद आगे की पढ़ाई – Further studies after B.Com

यदि आपने बेचलर ऑफ कॉमर्स कम्पलीट कर लिया है और आप अपने आप को और ज्यादा मास्टर करना चाहते है तो इसके लिए आप आगे पढ़ाई कर सकते है। बेचलर ऑफ कॉमर्स पढ़ाई पूरी करने के बाद आप चाहे तो एमकॉम, एमबीए, एमसीए या फिर एलएलबी जैसे पोस्ट ग्रेजुएशन के लिए पढ़ाई कर सकते है।

बी.कॉम कोर्स के बाद कैरियर और नौकरी – Career and job after B.Com

आज के समय में देखा गया है कि युवा पीड़ी दूसरे लोगो के वहां नौकरी करने के बजाय खुद का बिजनेस स्टार्ट करना पसंद करते है| ऐसे में यदि आपने बीकॉम किया है तो आप नौकरी के साथ साथ अपना खुद का बिजनेस भी स्टार्ट कर सकते है।

यदि खुद का बिजनेस की बात करे तो आप Business Development Trainee, कंसल्टेंट, लेखक और इकोनॉमिस्ट बन सकते है। इसके अलावा यदि आप जॉब करना चाहते है तो इसके लिए भी ऑप्शन है जैसे कि Accountant, स्टॉक ब्रोकर, बिजनेस एनालिस्ट, फाइनेंस ऑफिसर, sales एनालिस्ट, टैक्स अकाउंटेंट बनकर जॉब कर सकते है।

Bachelor of Commerce Course से जुड़े अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

Q-1. बैचलर ऑफ कॉमर्स कोर्स के बाद कितनी सैलरी मिल सकती है?

बेचलर ऑफ कॉमर्स को करने के बाद आसानी से 2 लाख से लेकर 5 लाख प्रति वर्ष या फिर इससे ज्यादा कमाई कर सकते है। यह सेलरी आपके जॉब पोस्ट आपके अनुभव और आपकी कौशल(Skill) पर आधारित है।

Q-2. बैचलर ऑफ कॉमर्स कोर्स कितने साल का कोर्स है?

बेचलर ऑफ कॉमर्स कोर्स 3 साल का कोर्स होता है। जिसे आप रेगुलर भी कर सकते है और डिस्टेंस लर्निंग भी कर सकते है।

Q-3. बैचलर ऑफ कॉमर्स कोर्स कब कर सकते है?

बेचलर ऑफ कॉमर्स कोर्स को आप 12th कॉमर्स के बाद कर सकते है। इसके लिए आपको 12th कॉमर्स में कम से कम 50% मार्क्स के साथ पास होना जरूरी है।

Q-4. बेचलर ऑफ कॉमर्स कोर्स के बाद क्या आगे पढ़ाई कर सकते है?

बेचलर ऑफ कॉमर्स कोर्स के बाद आप CA,एमकॉम, MBA,एमसीए और बिजनेस लो में आगे पढ़ाई कर सकते है।

Q-5. बेचलर ऑफ कॉमर्स में क्या विषय पढ़ाए जाते हैं?

बेचलर ऑफ कॉमर्स में आपको कॉर्पोरेट टैक्स, अर्थशास्त्र, फाइनेंशियल लॉ, फाइनेंशियल अकाउंट, बिजनेस लॉ, शेयर बाजार, फाइनेंशियल प्रबंधन जैसे विषय के बारे में पढ़ाया जाता है।

निष्कर्ष

आज के इस आर्टिकल में आपने जाना कि B.Com course Kya hai?(What Is B.Com Course Information In Hindi) B.Com course के लिए योग्यता क्या है?(How To Do B.Com Full Details In Hindi), (Qualification, Job Full Details Information In Hindi) कैसे आप B.Com course में एडमिशन ले सकते है। B.Com course को करने के लिए कोन सी एंट्रेंस एग्जाम देना होगा

मुझे उम्मीद है की में आपको आपका सारे सवालों के जवाब मिल चुके होगे। इस आर्टिकल में मैंने B.Com कोर्स के बारे में बहुत डिटेल्स में जानकारी देने का कोशिश की है। यदि आपको इस कोर्स से जुड़े कोई सवाल है तो नीचे कॉमेंट बॉक्स में जरूर बताए।

Leave a Comment