10th ke baad kya kare? 10th के बाद कौनसा सब्जैक्ट आपके लिये सही होगा? [यहाँ जाने] Career Option After 10th in hindi

10th ke baad kya kare? 10वीं के रिजल्ट आते ही सभी Students के मन में एक ही उथल पुथल होती है कि अब तक तो subject choice में सोचना नहीं पड़ता था। मगर अब उन्हें सोच हमझ कर अपनी रूचि का विषय चुनाव करना होगा।

भारत में लगभग सभी राज्यों में 10वीं तक सभी विषय लगभग समान ही होते हैं। मगर 10वीं ऐसी क्लास है जिसमें आपको पास होने के बाद अपनी पसंद के subjects को Select करना होता है। मगर विषय को select करने में बहुत सोचना होता है क्योंकि वह आपके कैरियर की नींव होता है। इसके लिये हमें रिजल्ट के बाद कम समय में ही सोचना होता है कि 10वीं के बाद किस विषय का चयन करना चाहिए? (Which subject should be selected after 10th) अक्सर जल्दबाजी में आप गलती कर बैठते है और Difficult subject चुन लेते हैं, जिसका आपको 12वीं क्लास में जाकर नुकसान होता है।

मगर आप अब चिंता न करिये क्योंकि आज के मेरे इस आर्टिकल 10th ke baad kya kare? 10th Ke bad konsa subject choose kare? In hindi में आपके इस चिंता और डर को दूर करने के लिये मैं आपके लिये ढेरों एसी आसान भाषा वाली जानकारी लाया हूं, जिसको जानने के बाद आपके लिये एक दम आसान हो जायेगा, कि 10वीं के बाद आप कौन सा सब्जेक्ट चुनें? Aur 10th ke bad konse subjects hote hai? आईये जानते हैं हमारी इस पोस्ट में ये सभी जानकारियां।

10th के बाद कौन सा Subject लेना चाहिए? 10th Ke Baad Career Option in hindi

यदि आपके मन बार-बार ये सवाल उठाता है, तो आप मेरी ये पोस्ट शुरू से अंत तक जरूर पढे़। 10वीं क्लास तक आपको कोई भी विषय का चुनाव कर पढ़ने की जरूरत नहीं होती। मगर यदि आप 10वीं पास कर चुके हैं, तो आपके पास आगे 11वीं -12वीं क्लास के लिये आमतौर पर 4 सब्जैक्ट में से एक विषय का चुनाव करना होता है। सबजैक्ट निम्न प्रकार होते हैं,

  • Science (विज्ञान)
  • Commerce (वाणिज्य )
  • Arts (कला )

ध्यान रहें आप जिस भी विषय का चयन करेंगे उसके साथ ही आपको 11वीं और 12वीं की पढा़ई करनी होती है। इसलिये ये काफी समझ कर लिया जाने वाला फैसला होता है। क्योंकि न केवल 12वीं पर आमतौर पर यह विषय आपकी कॉलेज की पढा़ई में भी साथ रहते हैं।

इसलिए हम यहां आपको 10th ke bad kese chune apna subject? को पूरा विस्तार से समझायेंगे।

10वीं के बाद कला विषय चुनें : 10th के बाद Arts subject लेने के फायदे?

10th ke baad Arts subject
10th ke baad Arts subject

अक्सर लोगों का मानना होता है कि Arts subject काफी सरल और पढा़ई में सामान्य स्तर वाले स्टूडेंट्स के लिये होता है। पर उनका ऐसा सोचना गलत है, Arts subject में यदि आपकी रूचि है तो आगे चलकर यह आपके लिये एक बेहतरीन कैरियर का अवसर बनता है।

जिन्हें कला के क्षेत्र में अच्छी रूचि है या जो स्टूडैंट्स अपना भविष्य सरकारी नौकरियों वाले क्षेत्रों में देखते हैं, उनके लिये आर्ट्स से बेहतर कोई विकल्प नहीं है। Arts वाले students के लिये sarkari jobs के competitive exams देना थोडा़ आसान हो जाता है।

अब बात करते हैं, Arts subject में क्या आता है। आमतौर पर Arts में  Hindi, English. History ,Geography, Poltical Science, Sociology जैसे subjects आते हैं। इनमें से किसी भी विषय को चुनकर कर आप आगे अपनी कॉलेज की डिग्री भी कर सकते हैं। और इनमें आपकी पकड़ होने पर आप Teaching line से लेकर अन्य सरकारी नौकरियों के लिये आराम से जा सकते हैं।

इसके अलावा 10th ke bad arts lene wale students आगे चलकर कुछ professional courses भी कर सकते हैं। जैसे;

  • Mass communication & journalism
  • Hotel management
  • Event management
  • Fashion Designing
  • Graphics Designing etc.

10वीं के बाद कॉमर्स विषय चुनें : 10th के बाद Commerce Subject लेने के फायदे?

10th ke baad Commerce subject
10th ke baad Commerce subject

Students द्वारा सबसे अधिक लिया गया subject Commerce ही होता है, क्योंकि मानते हैं कि यह पढ़ने में साईंस के मुकाबले बहुत आसान रहता है। मगर आप ऐसा न सोचिये कि इस विषय की कोई importance नहीं है। यदि आपका मन business world में जाने और उसको समझने का है, तो आपके लिये commerce से अच्छा कोई option होगा ही नहीं। 10th ke bad commerce subject का चयन कर आप Business, Finance, Accounts आदि के बारे में जान सकते हैं। कॉमर्स फील्ड भी काफी interesting subject होता है। जिन स्टूडैंट्स को Accounting और फाइनेंस, Marketing filed के अंदर रूचि है, उनके लिये commerce subject बिल्कुल सही विकल्प होगा।

अब बात आती है कैरियर की तो, कॉमर्स वाले स्टूडेंट्स आगे चलकर 12वीं के बाद CA (Chartered Accountant) या  CS (Chartered Secretary) की पढा़ई कर सकते हैं। यह जटिल मगर काफी किफायती कैरियर स्कॉप होता हैं।

इसके अलावा कॉमर्स में आने वाले subjects की बात करें तो इसमें,

  • Business
  • Cost
  • Accounts
  • Statistics
  • Economics
  • Mathematics (optional)
  • Typing (Optional )

इन विषयों का चुनाव करने के बाद आप 12वीं के बाद इसमें B.Com, BBA जैसे ग्रेजुएशन की डिग्री कर सकते हैं। जो आगे चलकर masters degree का विकल्प देती है, जैसै M.Com,MBA जैसी प्रोफेशनल कोर्सेज के साथ आपके कैरियर के काफी विकल्प खुल जाते हैं। इसलिये 10th ke baad Commerce Subject लेना आपके लिये अच्छा विकल्प साबित होगा।

10वीं के बाद विज्ञान विषय चुनें : 10th के बाद Science Subject लेने के फायदे?

10th ke baad Science subject
10th ke baad Science subject

हमारी society में एक धारणा है कि साईंस विषय केवल पढा़ई में अच्छे होने वाले स्टूडेंट्स ही लेते हैं। बल्कि ऐसा नहीं है यदि आपको विश्वास है कि आप साईंस विषय को अच्छे से हैंडल कर सकते है और आपकी बहुत रूचि है, तो यह आपके लिये बहुत रोचक विषय साबित होगा।  Science Subject बाकि सभी विषयों से थोडा़ कठिन पड़ता है। जिस कारण काफी स्टूडेंट्स इसे लेने से कतराते हैं, या आगे चलकर छोड़ देते हैं, इसलिये इबका चुनाव पूरी समझ से ही करें।

यदि आप अपने कैरियर में Medical or non medical या डॉक्टर या इंजीनियरिंग की फील्ड में आगे जाना चाहते हैं, तो Science ही आपके लिये बेहतरीन choice साबित होगा। Science थोडा़ मुश्किल विषय होने की वजह से उसकी भाषा और terminology भी थोडी़ मुश्किर होती हैं।

Science में 3 तरह के Subject Combinations होते हैं:

  • Physics, Chemistry, Math (PCM )
  • Physics, Chemistry, Biology (PCB )
  • Physics, Chemistry, Math+ Biology (General Group)

अतः हम देख सकते हैं, आपके पास 10th ke bad subject choose करने के लिये Mathematics और Biology होते हैं, क्योंकि Physics और Chemistry तो आपको दोनों ही Combination में मिलते हैं, इसलिये सोच समझकर विषय का चयन करें।

10th ke baad अगर आप Medical Field में जाना चाहते हैं, जैसे; MBBS, BHMS, BDS, BAMS, B.Pharmacy, D.Pharmacy आदि, तो Science filed  में आपको Physics Chemistry, Biology , अर्थात् PCB group को choose करना होगा।

और यदि आपको Non Medical अर्थात् 10th ke baad Engineering line में जाने की इच्छा है तो, इसके लिये आपको Physics, Chemistry, Mathematics अर्थात् PCM group को choose करना होगा। Maths group वाले इंजीनियरिंग के साथ और भी कई fields में जा सकते हैं, जैसे: Architecture, Interior Designing etc.

मगर gernal group (PCMB) वालो के लिये सबसे रोचक जानकारी तो यह होगी के उनके पास Medical or Engineering दोनों ही क्षेत्रों में अपना कैरियर बना सकते हैं।

हमारी दी गयी इस जानकारी से आप यह तो जान गये होगे कि 10th ke bad kya karna hai? या सामान्य तौर पर 10th ke baad konsa subject le?

लेकिन यदि आप 10th ke baad subject choose करने की बजाय अलग professional course करना चाहते हैं, तो यहां आपके लिये कुछ diploma courses बताये गये हैं;

  • Polytechnic
  • ITI

10वीं के बाद पॉलिटेक्निक करें: 10th के बाद Polytechnic लेने के फायदे?

10th ke baad Polytechnic subject
10th ke baad Polytechnic subject

Polytechnic को Engineering की पहली सीढी़ कहा जा सकता है। जिन स्टूडैंट्स को engineering करनी होती है, मगर वो B.Tech वगैरह नहीं करना चाहते हैं, तो उन स्टूडैंट्स के लिये Polytechnic एक diploma course है। polytechnic इंजीनियरिंग जैसा ही क्षेत्र होता है, जिसमें 10th ke baad admission लिया जा सकता है। या आपके पास 12वीं के बाद भी इसे करने का option होता है। Polytechnic 3 साल का Diploma Course होता है।

Polytechnic एक बेहतरीन विकल्प होता है जिसमें यदि आप अपनी Polytechinc की पढा़ई पूरी कर लेते हैं तो आपको Engineering Course में सीधे ही 2nd year में admission मिल जाता है। Polytechinc course में आपको choose करने के लिये option भी दिये जाते क्षैं, जैसे; Mechenical, Computer, Electronics etc.

 यदि आप भी polytechinc करने में रूचि रखते हैं तो इससे जुडी़ जानकारी चाहते हैं तो हमारी इस पोस्ट को पढे़ - https://supportingainain.com/polytechnic-kya-hai-polytechnic-kaise-kare/

10वीं के बाद आईटीआई करें: 10th के बाद ITI करने के फायदे?

ITI एक ऐसी फील्ड है जिसमें आपके पास नौकरी के अधिक अवसर होते हैं, जिसके लिये आपको बसीत अधिक पढ़ने की भी आवश्यकता नहीं होती है। अगर आप कम समय में ही नौकरी लगना चाहते हैं और कमाने के अवसर की तलाश में है तो ITI करने पर 10th ke baad आपको job मिल सकती हैं।

ITI कोर्स की अलग – अलग अवधि होती है, कुछ 1 साल तो कुछ 2 साल के courses होते हैं। इसमें various trades and courses शामिल होते हैं। ITI करने पर आप सरकारी नौकरी के लिये भी अप्लाई कर सकते हैं जैसे: स्टेनोग्राफर आदि।

तो हमारी इस पोस्ट में आपको बताया गया कि 10th ke baad kya kare? 10th ke bad konse subject choose kare etc. सभी subjects की आपको विस्तार से जानकारियां भी दी गयी कि 10th ke baad Arts, Commerce, Science me kya choose kare? Aur kyon in hindi

निष्कर्ष

उम्मीद है कि आप समझ गये होंगे कि 10th ke baad kya kare? 10th Ke bad konsa course kare? अगर फिर भी आपको किसी भी टॉपिक में से जुडा़ कोई प्रश्न या बात परेशान कर रही है तो आप Comment section में अपनी बात कह सकते हैं।

आशा करता हूं कि मेरी यह पोस्ट 10th ke baad kya kare? 10th के बाद कौनसा सब्जैक्ट आपके लिये सही होगा? 10th Ke bad konsa course kare? In hindi आपके लिये लाभकाली रही होगी। और आप इसे पढ़कर जान गये होंगे कि 10th ke baad apko kya karna chahiye? तो आप सभी सोच समझकर फैसला लें और सही subject ही choose करें।

Leave a Comment